अमेरिका में सिख समुदाय की दरियादिली, बंद से प्रभावित कर्मचारियों को खाना और उपहार दिए

मंगलवार, 29 जनवरी 2019 (22:26 IST)
वॉशिंगटन। अमेरिका के इंडियाना प्रांत में सिख समुदाय ने बंद से प्रभावित संघीय परिवहन और सुरक्षा से जुड़े कर्मचारियों को भारतीय खाना और उपहार बांटे। अमेरिका में करीब 35 दिनों तक सरकारी कामकाज आंशिक रूप से बंद रहा, जिसकी वजह से इन कर्मचारियों को वेतन नहीं मिल पाया है।
 
परिवहन सुरक्षा प्रशासन (टीएसए) अमेरिका के आंतिरक सुरक्षा विभाग की एक एजेंसी है, जिस पर आम लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी है। इसका गठन 11 सितंबर 2001 को हुए हमलों के बाद किया गया था। संघीय सरकार ने सोमवार को फिर से कामकाज शुरू कर दिया है, लेकिन कर्मचारियों को वेतन मिलने में अभी कुछ दिन का समय लग सकता है।
 
इंडियाना टीएसए के संघीय सुरक्षा निदेशक आरोन भट्ट ने कहा, हम निस्वार्थ सेवा और सहयोग के लिए सिख समुदाय के आभारी हैं। उन्होंने सोमवार को कहा, टीएसए से जुड़े पुरुष और महिलाएं बेहद मुश्किल हालात से गुजर रहे हैं। पता नहीं है कि कब उन्हें वेतन दिया जाएगा। इसके बावजूद वह इस अनिश्चितता को देश की परिवहन व्यवस्था की सुरक्षा के हमारे मिशन में आड़े नहीं आने दे रहे हैं।
 
सिख समुदाय के नेता गुरिंदर सिंह खालसा के नेतृत्व में फिशर शहर के स्थानीय लोगों ने करीब 250 टीएसए कर्मचारियों को करीब छह हजार अमेरिकी डॉलर की रकम के उपहार और खाद्य सामग्री खरीदने के लिए कार्ड बांटे। 
 
सिंह ने कहा, हमें खुद को उनकी जगह रखकर उनके संघर्षों को समझने की जरूरत है। सिखों की संख्या कम हो सकती है लेकिन वे काफी भाग्यशाली हैं। हम में से प्रत्एक व्यक्ति को अमेरिकी मूल्यों का अनुसरण करते हुए जरूरतमंद पड़ोसियों के लिए नि: स्वार्थ सेवा करने की जरूरत है। उम्मीद है कि इससे लोगों को मानवीय जररूतों के लिए आगे आने की प्रेरणा मिलेगी। (भाषा) 
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख पाकिस्तान की पहली हिंदू महिला न्यायाधीश बनीं सुमन कुमारी