WHO की ट्रंप को सलाह, परीक्षण कर ही वे लें hydroxychloroquine दवा

गुरुवार, 21 मई 2020 (15:18 IST)
जिनेवा। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मलेरिया के इलाज में काम आने वाली जो दवा कोरोना वायरस से बचाव के लिए ले रहे हैं, उसके असर के बारे में अभी तक कोई स्पष्ट वैज्ञानिक आधार नहीं मिला है।
ALSO READ: डोनाल्ड ट्रंप ने किया खुलासा, Corona से बचाव का एक तरीका है हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन...
संगठन ने कहा कि वह कोविड-19 में दवा के इस्तेमाल की सिफारिश अभी भी केवल नियंत्रित नैदानिक परीक्षणों के लिए करता है। गौरतलब है कि ट्रंप ने सोमवार को कहा था कि वे हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन ले रहे हैं।
 
डब्ल्यूएचओ में आपातकालीन सेवा के प्रमुख डॉ. माइकल रेयान ने कहा कि जिन संभावित उपचारों का अंतरराष्ट्रीय स्तर पर परीक्षण हो रहा है, यह उनमें से एक है। इन उपचारों के बारे में पता लगाया जा रहा है कि वे कोरोना वायरस के खिलाफ प्रभावी है या नहीं?
ALSO READ: कोरोना से बचने के लिए Hydroxychloroquine ले रहे हैं ट्रंप
रेयान की बुधवार को आई टिप्पणी से संकेत मिलते हैं कि कोरोना वायरस महामारी को लेकर ट्रंप द्वारा बार-बार की जा रही उसकी आलोचना के आगे वह झुकने वाला नहीं है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि देशों की अपनी पसंद हो सकती है। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख कोरोना कैरियर बने प्रवासी मजदूर, यूपी बिहार और मध्यप्रदेश से Ground Report