पांड्या बंधुओं के 'पराक्रम' और चाहर के 'कहर' से मुंबई 40 रनों से जीता

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2019 (00:05 IST)
नई दिल्ली। पांड्या बंधुओं क्रुणाल (नाबाद 37) और हार्दिक (32) की आखिरी ओवरों में आतिशी बल्लेबाजी के बाद लेग स्पिनर राहुल चाहर (19 रन पर 3 विकेट) की घातक गेंदबाजी के दम पर मुंबई इंडियंस ने दिल्ली कैपिटल्स को उसके के घर फिरोजशाह कोटला मैदान में गुरुवार को आईपीएल-12 मुकाबले में 40 रन से हरा दिया। 
 
मुंबई इंडियंस ने 5 विकेट पर 168 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया और दिल्ली को उसकी 49 रन की अच्छी शुरुआत के बाद चाहर के कहर से नौ विकेट पर 128 रन पर थाम लिया। मुंबई की नौ मैचों में यह छठी जीत है और वह 12 अंकों के साथ तालिका में दूसरे स्थान पर पहुंच गई है जबकि दिल्ली को नौ मैचों में चौथी हार का सामना करना पड़ा। दिल्ली के खाते में 10 अंक हैं। 
 
दिल्ली ने पिछले साल इसी मैदान पर मुंबई को 11 रन से हराया था लेकिन इस बार उसे शीर्ष क्रम की नाकामी से शिकस्त झेलनी पड़ गई। मुंबई ने इस जीत से दिल्ली के खिलाफ 24 मैचों में आंकड़ा 12-12 कर लिया है। मुंबई की जीत से मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर काफी खुश हुए जो मुंबई के डग आउट में बैठे थे। 
लक्ष्य का पीछा करते हुए दिल्ली ने अच्छी शुरुआत की और छह ओवर के पॉवरप्ले में 48 रन जोड़े। बाएं हाथ के बल्लेबाज शिखर धवन काफी आक्रामक अंदाज में खेल रहे थे लेकिन पॉवरप्ले के बाद पहले ओवर में लेग स्पिनर राहुल चाहर की गेंद पर रिवर्स स्वीप खेलने की कोशिश में गेंद की लाइन चूके और बोल्ड हो गए। शिखर ने 22 गेंदों पर 35 रन में पांच चौके और एक छक्का लगाया। दिल्ली का पहला विकेट 49 के स्कोर पर गिरा। 
 
चाहर ने अपने अगले ओवर में पृथ्वी शॉ को भी निपटा दिया। पृथ्वी का कैच बॉउंड्री के पास हार्दिक पांड्या ने लपका और दिल्ली ने अपना दूसरा विकेट 59 के स्कोर पर गंवा दिया। पृथ्वी ने 24 गेंदों पर 20 रन में दो चौके लगाए। दिल्ली को जल्द ही तीसरा झटका लग गया जब लेफ्ट आर्म स्पिनर क्रुणाल पांड्या ने कॉलिन मुनरो को बोल्ड कर दिया। मुनरो नौ गेंद में तीन रन ही बना सके।
 
कप्तान श्रेयस अय्यर भी विकेट पर ज्यादा देर नहीं टिक सके और राहुल ने उन्हें भी बोल्ड कर दिया। अय्यर ने छह गेंदों में तीन रन बनाए। दिल्ली का चौथा विकेट 63 पर गिरा। चाहर ने अपना स्पैल 19 रन पर तीन विकेट के साथ समाप्त किया। 
 
दिल्ली ने पॉवरप्ले के बाद पांच ओवर में 17 रन जोड़कर चार विकेट गंवा दिए और वह गहरे संकट में फंस गई। यॉर्करमैन जसप्रीत बुमराह ने एक बेहतरीन गेंद पर ऋषभ पंत को बोल्ड कर दिल्ली को पूरी तरह बैकफुट पर धकेल दिया। विश्व कप से नजरअंदाज किए गए लेकिन वैकल्पिक खिलाड़ियों में शामिल किये पंत ने 11 गेंदों में सात रन बनाए और दिल्ली का पांचवां विकेट 76 के स्कोर पर गिर गया। 
 
पंत के आउट होते ही दिल्ली की उम्मीदें भी टूट गई। अक्षर पटेल ने 17वें ओवर की पहली गेंद पर लसिथ मलिंगा पर जोरदार छक्का जड़कर दर्शकों में कुछ रोमांच पैदा किया। लेकिन मलिंगा ने इसी ओवर की आखिरी गेंद पर क्रिस मौरिस को पैवेलियन भेज दिया। मौरिस ने नौ गेंदों में 11 रन बनाए। बुमराह ने अगले ओवर में कीमो पॉल को रन आउट कर दिया।
बुमराह ने पटेल को अगली गेंद पर बोल्ड कर दिया। पटेल ने 23 गेंदों में 26 रन बनाए। बुमराह ने चार ओवर में 18 रन पर दो विकेट लिए। दिल्ली की टीम नौ विकेट पर 128 रन ही बना सकी। इससे पहले पांड्या बंधुओं क्रुणाल और हार्दिक की आखिरी ओवरों में आतिशी बल्लेबाजी के दम पर मुंबई इंडियंस ने पांच विकेट पर 168 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया।
 
मुंबई ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 16 ओवर तक 110 रन बनाये थे लेकिन क्रुणाल और हार्दिक ने आखिरी चार ओवर में 58 रन ठोक डाले।हार्दिक ने 15 गेंदों पर 32 रन में दो चौके और तीन छक्के लगाए जबकि उनके भाई क्रुणाल ने 25 गेंदों पर नाबाद 37 रन में पांच चौके लगाए। 
 
मुंबई ने मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और अच्छी शुरुआत करते हुए पहले विकेट के लिए 57 रन जोड़ डाले। मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा और क्विंटन डी कॉक ने कुछ अच्छे शॉट खेले। रोहित ने अपनी पारी का 12वां रन बनाने के साथ ही ट्वंटी-20 में 8000 रन पूरे करने की उपलब्धि हासिल कर ली। 
 
रोहित और डी कॉक ने लगातार तीसरे मैच में ओपनिंग साझेदारी में 50 रन जोड़ डाले। छह ओवर का पॉवरप्ले ख़त्म होने के बाद दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर ने अपने अनुभवी लेग स्पिनर अमित मिश्रा को गेंद थमाई। मिश्रा ने शानदार लेग ब्रेक से रोहित को बोल्ड कर दिया और आईपीएल में अपने 150 विकेट पूरे कर लिए। मिश्रा ने रोहित को छठी बार अपना शिकार बनाया। रोहित ने 22 गेंदों पर 30 रन में तीन चौके और एक छक्का लगाया। 
 
मुंबई के कप्तान का विकेट 57 पर गिरा। नए बल्लेबाज बेन कटिंग ने दो रन बनाए थे कि लेफ्ट आर्म स्पिनर अक्षर पटेल ने उन्हें पगबाधा कर दिया। मुंबई का दूसरा विकेट 62 के स्कोर पर गिरा। डी कॉक कुछ देर बाद रन आउट हो गए। सूर्यकुमार यादव ने शॉट खेला लेकिन कैगिसो रबाडा ने फुर्ती से गेंद को रोक लिया जबकि डी कॉक तेजी से दौड़ पड़े और दूसरे छोर पर पहुंच गए। रबाडा का थ्रो विकेटकीपर ऋषभ पंत के पास आया जिन्होंने गेंद को वापस गेंदबाज अक्षर पटेल की तरफ फेंक दिया और डी कॉक आसानी से रन आउट हो गए।
 
डी कॉक ने 27 गेंदों पर 35 रन में दो चौके और दो छक्के लगाए। मुंबई का तीसरा विकेट 74 के स्कोर पर गिरा। 10 ओवर के बाद मुंबई का स्कोर तीन विकेट पर 75 रन था। इस समय मुंबई की रन गति पर मिश्रा और पटेल ने अंकुश लगा दिया था। 10 ओवर के बाद अगले तीन ओवर में मात्र 17 रन पड़े। 
 
सूर्यकुमार ने 14वें ओवर में रबाडा पर विकेटकीपर के सर के ऊपर से चौका निकाला जो मुंबई की पारी में 19 गेंद बाद लगा चौका था। पटेल ने अपना प्रभावशाली स्पैल चार ओवर में 17 रन पर एक विकेट के साथ समाप्त किया। अगले ओवर में सूर्या ने रबाडा की गेंद पर पर पंत को कैच दे दिया। सूर्या ने ने 27 गेंदों पर 26 रन में दो चौके लगाए। मुंबई का चौथा विकेट 104 के स्कोर पर गिरा। 
 
मैदान पर अब दोनों पांड्या बंधु क्रुणाल और हार्दिक मौजूद थे। 16 ओवर के बाद मुंबई का स्कोर 110 रन था। 17वें ओवर में आठ रन पड़े। अगले ओवर में कीमो पॉल पर क्रुणाल ने चौका लगाया जबकि हार्दिक ने चौका-छक्का मारा। इस ओवर में 17 रन गए।

हार्दिक ने 19वें ओवर में क्रिस मौरिस पर स्क्वेयर लेग के ऊपर से छक्का मारा और फिर चौका लगाकर टीम के 150 रन पूरे कर दिए। इस ओवर में भी 15 रन गए। रबाडा ने अंतिम ओवर में हार्दिक को आउट किया। रबाडा ने 38 रन पर दो विकेट लिए जबकि मिश्रा और पटेल को क्रमशः 18 और 17 रन देकर एक-एक विकेट मिला।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख आईपीएल में मुंबई इंडियंस और दिल्ली कैपिटल्स मैच के हाईलाइट्‍स