बुध यदि है छठवें भाव में तो रखें ये 5 सावधानियां, करें ये 5 कार्य और जानिए भविष्य

अनिरुद्ध जोशी

शनिवार, 6 जून 2020 (10:25 IST)
कन्या और मिथुन राशि के स्वामी बुध ग्रह कन्या में उच्च, मीन में नीच का होता है। लाल किताब में छठे भाव में शनि बली और बारहवें भाव में मंदा होगा। चंद्र और मंगल के साथ एवं इनकी राशियों में बुरा फल देता है। लेकिन यहां छटवें घर में होने या मंदा होने पर क्या सावधानी रखें जानिए।
 
कैसा होगा जातक : यहां बुध अच्छा फल देने वाला है। इसे गुमनाम संन्यासी या मनमर्जी का राजा कहा गया है। ऐसा व्यक्ति मेहनत से अमीर बनकर अच्छी जिंदगी बिताएगा।
 
5 सावधानियां :
1. अपनों से विरोध न रखें। अपनी ही मर्जी न चलाएं।
2. बहन, बुआ और बेटी का सम्मान करें।
3. किसी भी तरह का व्यसन न करें।
4. अक्ल का सही उपयोग करें। 
5. झूठ ना बोलें।
 
क्या करें :
1. दुर्गा की भक्ति करें।
2. कन्याओं को भोज कराएं।
3. जातक की पत्नी बाएं हाथ में चांदी की अंगूठी पहननें।
4. कृषि भूमि में गंगाजल से भरी बोतल गाड़ें।
5. बहन, बुआ और बेटी को लाभ पहुंचाएं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख Shri Krishna 5 June Episode 34 : जब कृष्ण को पता चला यशोदा मेरी मां नहीं, राधा के आंसू गिर गए