Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

आपका जन्म सोमवार को 6 से 8 के बीच हुआ है तो ये एक काम न करें वर्ना हो जाएंगे बर्बाद

हमें फॉलो करें webdunia

अनिरुद्ध जोशी

लाल किताब के अनुसार वार और समय अनुसार व्यक्ति का भविष्य बताया जाता है। यदि किसी व्यक्ति का जन्म सोमवार को 4 बजे से 7 बजे के बीच हुआ है तो जानिए कि कैसा होगा भविष्य और क्या करना चाहिए उपाय।
 
1. भविष्य : यदि आपका जन्म सोमवार को हुआ है और वह भी सुबह 6 बजे से लेकर 8 बजे के बीच हुआ है तो पानी के दरिया में तैरने वाला शेर समझो। मानो की सिंहासन बत्तीसी और परियों का साथ होगा। इस समय के अंदर लड़का पैदा होता है तो वह अपने पिता पर जाएगा और लड़की पैदा होगी तो मां पर जाएगी। इस समय में जन्म लेने पर बच्चे के घर के अंदर कमाई बढ़ती है। बाप की तरक्की होने लगती है। दादा और नाना दोनों ही परिवार में सुख समृद्धि बढ़ती है। बच्चे के भाग्य की वजह से पिता सफल होता है। बच्चे की लिखाई-पढ़ाई कैसी भी हो परंतु उसकी जिंदगी में कामकाज बहुत अच्छे से चलता है। वह पूरे परिवार को संभालने वाला रहता है। यदि दसवें में गुरु है तो राजा होगा।
 
सावधानी : यदि लड़का है और उसे घर में या बाहर अर्धनग्न या नंगे बदन घूमने की आदत है तो उसकी हालत बुरी हो जाएगी। सब कुछ बर्बाद ही समझो।
उपाय : बुध या शुक्र जन्मकुंडली के 10वें घर में बैठ जाए तो उपरोक्त लिखी बातों की कोई गारंटी नहीं। अगर बुध बैठा हो तो ऐसे व्यक्ति को तांबे का छेद वाला पैसा लेकर 43 दिन तक लगातार बहते जल में प्रवाहित करना चाहिए। अगर शुक्र बैठा हो तो गाय का घी, दही और रुई ये तीज चीजें लेकर मंदिर में दान करना चाहिए। यह कार्य हर साल उनको अपने जन्मदिन के थोड़े दिन पहले ही शुरु करके 43 दिन तक करना चाहिए।
 
नोट : उपरोक्त उपाय किसी लाल किताब के विशेषज्ञ से पूछकर ही करें।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

सावन का चौथा सोमवार : 16 अगस्त 2021 को क्या है पूजा के शुभ मुहूर्त, संयोग, राहुकाल और पंचांग