Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर महिला क्रिकेटरों को ये कैसा तोहफा!

webdunia
गुरुवार, 8 मार्च 2018 (20:47 IST)
नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने खिलाड़ियों के अनुबंध में जहां पुरुष क्रिकेटरों पर धन की बौछार की है तो वहीं विश्व कप उपविजेता महिला क्रिकेटरों को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर मामूली सी सौगात दी है।


बीसीसीआई ने पुरुष अनुबंध में एक नए वर्ग ग्रेड 'ए प्लस' की शुरुआत की है, जिसमें पांच क्रिकेटरों को सात-सात करोड़ रुपए दिए जाएंगे। नए वर्ग में कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन, भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह को रखा गया है। इसके अलावा ए ग्रेड में पांच करोड़ रुपए, बी ग्रेड में तीन करोड़ रुपए और सी ग्रेड में एक करोड़ रुपए दिए जाएंगे।

बीसीसीआई ने हालांकि सीनियर महिला क्रिकेट के लिए भी ग्रेड सी का नया वर्ग शुरू किया है लेकिन महिला क्रिकेटरों को दी जाने वाली अनबंध राशि पुरुष क्रिकेटरों के मुकाबले बहुत ही कम है। महिला क्रिकेटरों को ग्रेड ए में 50 लाख रुपए, ग्रेड बी में 30 लाख रुपए और ग्रेड सी में 10 लाख रुपए दिए जाएंगे।

क्रिकेट बोर्ड जहां चारों अनुबंध में शामिल 26 पुरुष खिलाड़ियों को कुल 98 करोड़ रुपए फीस के रूप में देगा वहीं महिला अनुबंध में शामिल 19 खिलाड़ियों को मात्र 4.70 करोड़ रुपए दिए जाएंगे जो पुरुष ए ग्रेड के एक खिलाडी के पांच करोड़ रुपए से भी कम है।

महिलाओं के ग्रेड ए में मिताली राज, झूलन गोस्वामी, हरमनप्रीत कौर और स्मृति मंधाना, ग्रेड बी में पूनम यादव, वेदा कृष्णामूर्ति, राजेश्वरी गायकवाड, एकता बिष्ट, शिखा पांडे और दीप्ति शर्मा तथा ग्रेड सी में मानसी जोशी, अनुजा पाटिल, मोना मेशराम, नुजहत परवीन, सुषमा वर्मा, पूनम राउत, जेमिमा रोड्रिग्स, पूजा वस्त्रकर और तान्या भाटिया को रखा गया है।

यह भी दिलचस्प है कि नए अनुबंध की घोषणा करने वाले सीओए में पूर्व भारतीय महिला क्रिकेट कप्तान डायना इडुलजी भी शामिल हैं। इस अनुबंध से यह तो साबित हो जाता है कि क्रिकेट बोर्ड महिला क्रिकेटरों को पुरुष क्रिकेटरों की बराबरी पर लाने के बारे में कुछ नहीं सोच रहा है।

जबकि महिला क्रिकेटरों ने पिछले विश्व कप में उपविजेता रहकर इतिहास बनाया था। महिला टीम ने हाल के दक्षिण अफ्रीका दौरे में वनडे और ट्वंटी 20 सीरीज जीतकर भी इतिहास बनाया था, लेकिन जिस तरह का अनुबंध उन्हें मिलना चाहिए था, वह उन्हें नहीं मिल पाया।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

'ए प्लस ग्रेड' के पीछे है विराट और धोनी का दिमाग