इंग्लैंड के स्टोक्स चुने गए 'न्यूजीलैंडर ऑफ द ईयर', विलियम्सन 'सर्वश्रेष्ठ न्यूजीलैंडर'

शुक्रवार, 19 जुलाई 2019 (22:41 IST)
वेलिंगटन। इंग्लैंड क्रिकेट टीम की ऐतिहासिक विश्व कप जीत के हीरो रहे बल्लेबाज बेन स्टोक्स को फाइनल की विपक्षी टीम न्यूजीलैंड में बड़ा सम्मान देते हुए 'न्यूजीलैंडर ऑफ द ईयर' चुना गया है।
 
विश्व कप फाइनल में इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड को हराकर पहली बार खिताब जीता था। उपविजेता कीवी टीम का प्रदर्शन भी इस मैच में कमाल का रहा जिसके लिए उसके कप्तान केन विलियम्सन को भी 'सर्वश्रेष्ठ न्यूजीलैंडर' चुना गया है लेकिन इंग्लैंड के खिलाड़ी स्टोक्स का इस पुरस्कार के लिए चुना जाना दिलचस्प है।
 
दरअसल, स्टोक्स मूल रूप से न्यूजीलैंड के निवासी हैं और 12 वर्ष की उम्र में वे अपने परिवार के साथ इंग्लैंड में आकर बस गए थे। उनके पिता कुछ वर्षों पहले वापस न्यूजीलैंड लौट गए थे लेकिन स्टोक्स इंग्लैंड की राष्ट्रीय टीम में खेलते हैं और अपने परिवार संग इंग्लैंड में ही रहते हैं।
 
विश्व कप में स्टोक्स ने 66.42 के औसत से 465 रन बनाए थे तथा 7 विकेट भी लिए थे। विश्व कप फाइनल में हालांकि उनका नाबाद 84 रन और सुपर ओवर में सर्वाधिक रन ने उन्हें इंग्लैंड का हीरो बना दिया जिसकी बदौलत वह 44 वर्षों में पहली बार चैंपियन बन सका।
 
विश्व कप फाइनल में 'प्लेयर ऑफ द मैच' रहे स्टोक्स को न्यूजीलैंड के कप्तान विलियम्सन के साथ 'सर्वश्रेष्ठ न्यूजीलैंडर' का पुरस्कार दिया गया है। इस पुरस्कार के लिए दोनों क्रिकेटरों के अलावा न्यूजटॉक जेडबी के एंकर साइमन बार्नेट, पूर्व लीग स्टार मनु वातुवेई और क्राइस्टचर्च मस्जिद हमले के हीरो अब्दुल अजीज हैं।
 
'न्यूजीलैंडर ऑफ द ईयर' पुरस्कार के प्रमुख जज कैमरन बेनेट ने कहा कि स्टोक्स और विलियम्सन दोनों को ही विश्व कप फाइनल के बाद कई तरह के पुरस्कारों के लिए नामित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि स्टोक्स भले ही इंग्लैंड के लिए खेलते हैं लेकिन वे क्राइस्टचर्च में पैदा हुए हैं और उनके परिजन यहीं रहते हैं। वे माओरी मूल के हैं और उनके अंदर असल कीवी भावना दिखती है।
 
इंग्लैंड में प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार बोरिस जॉनसन और जेरेमी हंट पहले ही संकेत दे चुके हैं कि स्टोक्स को देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार 'नाइटहुड' की उपाधि से नवाजा जाएगा। इस पुरस्कार के लिए 15 सितंबर तक नामांकन होने हैं। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख ओकुहारा को हराकर पीवी सिंधू इंडोनेशिया ओपन बैडमिंटन के सेमीफाइनल में