Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सीओए पर भड़के जम्मू कश्मीर के पूर्व क्रिकेटर, कहा- लोढ़ा समिति की सिफारिशें जल्द लागू करें

webdunia
सोमवार, 22 जुलाई 2019 (22:00 IST)
जम्मू। जम्मू-कश्मीर के पूर्व रणजी क्रिकेटरों ने खिलाड़ियों के हितों को ध्यान में रखते हुए लोढ़ा समिति की सिफारिशों को जल्द से जल्द लागू करने की मांग की है और साथ ही भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) का संचालन कर रही प्रशासकों की समिति (सीओए) की भी आलोचना की है।
 
जम्मू-कश्मीर के क्रिकेटरों के अनुसार मौजूदा बोर्ड में लोढ़ा समिति की सिफारिशों को लागू नहीं किए जाने से खिलाड़ियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
 
पूर्व खिलाड़ियों ने लिखित पत्र में कहा कि लोढ़ा समिति की सिफारिशें पूर्व क्रिकेटर सहित सभी स्तर के खिलाड़ियों को मजबूत करने की बात करती हैं लेकिन मौजूदा जम्मू-कश्मीर क्रिकेट संघ अपने व्यक्तिगत फायदों के बारे में सोच रहा है और लोढ़ा समिति की सिफारिशों के बिलकुल उलट काम कर रहा है।
 
पूर्व क्रिकेटरों ने सीओए की आलोचना करते हुए कहा कि समिति राज्य बोर्ड में पारदर्शिता लाने में असफल रही है और पूर्व खिलाड़ियों के भविष्य को लेकर भी कोई उपयोगी कदम नहीं उठाया गया है।
 
उन्होंने कहा कि लोढ़ा समिति के अनुसार क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) में पूर्व खिलाड़ियों को शामिल किए जाने की सिफारिश की गई थी ताकि जेकेसीए में पेशेवर क्रिकेटरों की बेहतरीन के लिए काम किया जा सके। लेकिन सीओए ऐसा करने में असमर्थ रहा है।
webdunia
उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि यह देखा गया है कि बाहरी क्रिकेटरों को बुलाकर उन्हें ऊंचा वेतन दिया जा रहा है जबकि घरेलू चयनकर्ता और कोचों को न तो पूर्ण करार मिलता है और न ही बोर्ड से उन्हें अच्छा वेतन प्राप्त होता है। पूर्व क्रिकेटरों ने बाहर से कोच और चयनकर्ताओं की नियुक्ति पर रोक लगाने की मांग की है।
 
गौरतलब है कि इरफान पठान की बोर्ड में नियुक्ति पर भी सवाल उठ रहे हैं, जो जम्मू-कश्मीर के बाहर के खिलाड़ी हैं। पठान को 2018-19 में जेकेसीए में मेंटर-कम-खिलाड़ी नियुक्त किया गया था। पठान का प्रदर्शन औसत रहने के बावजूद घरेलू क्रिकेट संघ ने अगले सत्र के लिए भी उनके साथ करार किया है।
 
पूर्व क्रिकेटरों ने बीसीसीआई से भी लिखित शिकायत की है और सीईओ द्वारा चलाए जा रहे जेकेसीए की कार्यपद्धति की समीक्षा की मांग की है।

पूर्व खिलाड़ियों की बैठक में सीनियर क्रिकेटर कंवलजीत सिंह, विद्या भास्कर, अश्वनी गुप्ता, विजय शर्मा, ध्रुव महाजन, राज कुमार, विवेक शर्मा, विक्रांत टागर, समीर खजूरिया, जगतार सिंह, राकेश चोपड़ा और संजय शर्मा सहित कई खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

मेसनाम मेराबा के उम्दा खेल के बावजूद बैडमिंटन चैम्पियनशिप से बाहर हुआ भारत