Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

भारतीय बल्लेबाज इंदौर टेस्ट के दूसरे दिन रनों की भरपूर फसल काटेंगे

webdunia

वेबदुनिया न्यूज डेस्क

गुरुवार, 14 नवंबर 2019 (21:57 IST)
इंदौर। भारत और बांग्लादेश के बीच गुरुवार से शुरू हुए पहले टेस्ट मैच का दूसरा दिन ही इसकी दशा और दिशा तय कर देगा। मैच के दूसरे दिन उम्मीद के अनुसार भारतीय बल्लेबाज रनों की भरपूर फसल काटने की तैयारी कर चुके हैं क्योंकि विकेट पूरी तरह से बल्लेबाजों के अनुकूल हो गया है। पहले दिन जहां भारतीय गेंदबाजों ने कहर बरपाते हुए बांग्लादेश को 150 रन पर समेट दिया, शेष ओवरों के खेल में 1 विकेट खोकर 86 रन बना डाले। 
होलकर स्टेडियम का विकेट जिस तरह से अपना चरित्र दिखा रहा है, उसे देखकर नहीं लगता कि बांग्लादेश के अनुभवहीन गेंदबाज यहां कोई चमत्कार करेंगे। चेतेश्वर पुजारा 46 रनों पर नाबाद हैं जबकि दूसरा छोर मयंक अग्रवाल ने 37 रन के साथ संभाल रखा है। शुक्रवार को खेल के पहले सत्र में यदि पुजारा 1 घंटे तक अपना विकेट बचा लेते हैं तो उनका इस मैदान पर दूसरा शतक तय है।
पुजारा ने अक्टूबर 2016 में न्यूजीलैंड के खिलाफ इस मैदान पर खेले गए पहले टेस्ट मैच की दूसरी पारी में नाबाद शतक (101) जड़ा था। आज पुजारा की बॉडी लेंग्वेंज और शानदार फुटवर्क इसकी गवाही दे रहा था कि उन्हें शतक से कम कुछ भी मंजूर नहीं है।
 
पुजारा के अलावा इसी मैदान पर दोहरा शतक ठोंकने वाले कप्तान विराट कोहली की बाजुएं भी सलसला रही हैं। वे पहले दिन ही ड्रेसिंग रूम में अपनी बारी का इंतजार करते हुए बेसब्र हो रहे थे। कोहली ने 2 दिन अभ्यास सत्र में काफी पसीना बहाया था और वे विकेट की तासीर को जानते हैं, लिहाजा मैदान में उतरने के लिए उतावले हैं।
 
webdunia
इसमें कोई शक नहीं कि भारत यहां 2016 की कहानी को फिर दोहराए, जिसमें उसने न्यूजीलैंड को 321 रनों से हराया था। पहली पारी में भारत ने पहली पारी में रनों का पहाड़ (5 विकेट पर 557 रन घोषित) खड़ा किया था, जिसमें कप्तान विराट के 211 और अजिंक्य रहाणे के 188 रन शामिल थे।
 
जवाब में न्यूजीलैंड की टीम पहली पारी में 299 रनों पर सिमट गई थी जबकि भारत ने दूसरी पारी 3 विकेट पर 216 रनों पर घोषित कर दी थी। दूसरी पारी में चेतेश्वर पुजारा ने नाबाद 101 रन बनाए थे। न्यूजीलैंड को जीत के लिए 475 रनों का लक्ष्य मिला था लेकिन उसकी पारी 153 रनों पर चौथे दिन ही धराशायी हो गई थी। इस टेस्ट में आर. अश्विन ने कुल 13 विकेट लिए थे।
तीन साल पहले होलकर स्टेडियम पर टीम इंडिया द्वारा दूसरी सबसे बड़ी टेस्ट जीत (पहली 337 रनों की) के 4 नायक रहे विराट, रहाणे, पुजारा और अश्विन बांग्लादेश के खिलाफ पहला टेस्ट मैच खेल रहे हैं। अश्विन ने पहली पारी में 43 रन देकर 2 विकेट झटके। उनके दूसरी पारी में तुरुप का इक्का साबित होने के आसार हैं क्योंकि तीसरे दिन तक विकेट टूट जाएगा।
 
webdunia
जिस तरह बांग्लादेश की पारी का पतन हुआ है, उसे देखकर यही चर्चा है कि यह मैच कहीं तीन दिन में खत्म न हो जाए। जब न्यूजीलैंड जैसी दिग्गज टीम का टेस्ट मैच 4 दिन ही चल सकता है तो उसके मुकाबले बांग्लादेशी लड़के तो बिलकुल नए-नवेले हैं। 
 
हां, यह जरूर है कि खेल के दूसरे दिन होलकर के पिच पर भारतीय बल्लेबाज रनों की बरसात करेंगे और शायद इन्हीं को देखने दर्शक आ जाएं...पहले दिन तो जो 12 हजार टिकट बेचने का दावा किया जा रहा था, उसमें से बमुश्किल 5 हजार दर्शक भी नहीं पहुंचे। दर्शकों में जो भीड़ नजर आ रही थी, वह एसोसिएशन के सदस्यों और परिजनों की थी...
Photo courtesy: BCCI

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

बांग्लादेश के गेंदबाजों को नहीं मिली पहले टेस्ट मैच में स्विंग