Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

कपिल का हार्दिक पर बड़ा हमला, 'गेंदबाजी नहीं करते तो क्यों कहे ऑलराउंडर'?

webdunia
शुक्रवार, 26 नवंबर 2021 (15:38 IST)
कोलकाता: भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव ने शुक्रवार को पूछा कि क्या हार्दिक पंड्या को हरफनमौला कहा जा सकता है जबकि वह उतनी गेंदबाजी करते ही नहीं हैं। सीमित ओवरों के क्रिकेट में भारतीय टीम के अभिन्न अंग पंड्या ने हाल ही में टी20 विश्व कप में सिर्फ दो मैचों में गेंदबाजी की। भारत टूर्नामेंट के ग्रुप चरण से ही बाहर हो गया था।

अपनी फिटनेस से जुड़े कई मसलों का खुलासा नहीं करने के लिये भी पंड्या की आलोचना हो रही है। उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 श्रृंखला के लिये टीम में जगह नहीं मिली। भारत ने श्रृंखला 3 -0 से जीती।

कपिल ने रॉयल कलकत्ता गोल्फ कोर्स पर कहा ,‘‘ हरफनमौला कहलाने के लिये उसे दोनों काम करने होंगे । वह गेंदबाजी नहीं कर रहा है तो क्या उसे हरफनमौला कहेंगे। वह चोट से उबर चुका है तो पहले उसे गेंदबाजी करने दीजिये।’’

भारत के पहले विश्व कप विजेता कप्तान ने कहा ,‘‘ वह भारत के लिये काफी महत्वपूर्ण बल्लेबाज है। गेंदबाजी के लिये उसे काफी मैच खेलने होंगे और अच्छा प्रदर्शन करना होगा । इसके बाद ही हम कह सकेंगे।’’कपिल ने यह भी कहा कि कोच के रूप में राहुल द्रविड़ बतौर क्रिकेटर मिली कामयाबी से भी अधिक कामयाब होंगे।

उन्होंने कहा ,‘‘ वह अच्छा इंसान है और अच्छा क्रिकेटर भी है। वह बतौर क्रिकेटर जितना सफर रहा, कोच के रूप में उससे भी अधिक सफल होगा। ’’
webdunia

अपने पसंदीदा हरफनमौला के बारे में पूछने पर कपिल ने रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा का नाम लिया।
उन्होंने कहा ,‘‘ मैं आजकल क्रिकेट का सिर्फ मजा लेने जाता हूं। मेरा काम वही है। मैं आपके नजरिये से नहीं देखता। ’’

उन्होंने पसंदीदा हरफनमौला के बारे में कहा ,‘‘मैं अश्विन का नाम लूंगा। वह जबर्दस्त है। जडेजा भी शानदार क्रिकेटर है लेकिन उसकी बल्लेबाजी बेहतर हुई है तो गेंदबाजी खराब हो गई है।’’

उन्होंने पहले टेस्ट में शतक जमाने वाले श्रेयस अय्यर की तारीफ करते हुए कहा ,‘‘ जब युवा बल्लेबाज पदार्पण पर शतक बना रहे हों तो समझना खेल सही दिशा में जा रहा है। हमें उसके जैसे क्रिकेटरों की जरूरत है।’’

टी-20 विश्वकप 2021 की हार में हार्दिक की थी अहम भूमिका

टी-20 विश्वकप 2021 में शायद ही किसी भारतीय खिलाड़ी की उतनी चर्चा हुई हो जितनी हार्दिक पांड्या की हुई । हार्दिक पांड्या की फॉर्म से लेकर फिटनेस तक सब सवालों के घेरे में थी फिर भी विराट कोहली ने उनको जगह दी।

जब तक हार्दिक गेंदबाजी के लिए फिट हो पाते तब तक बहुत देर हो चुकी थी न्यूजीलैंड के खिलाफ उन्होंने गेंदबाजी की लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। हार्दिक पांड्या ने पाकिस्तान के खिलाफ बल्ले से 8 गेंदो में 11 रन बनाए थे और न्यूजीलैंड के खिलाफ 24 गेंदों में 23 रन बनाए। दोनों ही पारियों में वह तेज से रन बनाने में विफल रहे, जिसके लिए उनको टीम में रखा गया था।

अफगानिस्तान के खिलाफ जरुर उन्होंने बल्ले से कुछ अच्छे हाथ दिखाए। उन्हें इस बार न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 टीम में मौका ना देकर चयनकर्ताओं ने खतरे की घंटी बजा दी थी।

अक्टूबर 2019 में पीठ की सर्जरी से वापसी के बाद से टी-20 विश्वकप 2021 से पहले हार्दिक ने 41 मैचों में सिर्फ़ 46 ओवर ही फेंके थे। इस अवधि में, उन्होंने सिर्फ़ सफ़ेद गेंद वाली क्रिकेट खेली, हालांकि वह इस साल की शुरुआत में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ घरेलू टेस्ट सीरीज़ के लिए टीम में थे। हार्दिक ने श्रीलंका में टी-20 सीरीज़ के दौरान गेंदबाज़ी की थी, तब उन्होंने दो ओवर किए थे।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

कानपुर टेस्ट में न्यूजीलैंड की वापसी, ओपनर विल यंग ने जड़ा अर्धशतक