मयंक अग्रवाल की धमाकेदार पारी से कर्नाटक का सैयद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी पर कब्जा

गुरुवार, 14 मार्च 2019 (21:29 IST)
इंदौर। भारतीय टेस्ट टीम के सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल और रोहन कदम की धमाकेदार अर्धशतकीय पारियों की बदौलत कर्नाटक ने गुरुवार को यहां महाराष्ट्र को 9 गेंद शेष रहते हुए 8 विकेट से हराकर पहली बार सैयद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी जीती। कर्नाटक छठी टीम है, जिसने तीनों प्रारूपों की राष्ट्रीय चैंपियनशिप रणजी ट्रॉफी, विजय हजारे ट्रॉफी और सैयद मुश्ताक ट्रॉफी पर कब्जा जमाया है।
 
कर्नाटक के सामने 156 रन का लक्ष्य था। अग्रवाल (57 गेंदों पर नाबाद 85 रन) और कदम (39 गेंदों पर 60) रन के बीच दूसरे विकेट के लिए 92 रन की साझेदारी की मदद से उसने 18.3 ओवर में दो विकेट पर 159 रन बनाकर जीत दर्ज की। 
 
महाराष्ट्र ने पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर नौशाद शेख (41 गेंदों पर नाबाद 69 रन) के अर्धशतक से चार विकेट पर 155 रन बनाए। अभिमन्यु मिथुन कर्नाटक के सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 24 रन देकर दो विकेट लिए। 
यह पहला अवसर है जबकि कर्नाटक ने यह राष्ट्रीय टी20 टूर्नामेंट का खिताब जीता जबकि महाराष्ट्र दूसरी बार ट्राफी जीतने में नाकाम रहा। उसने 2009-10 में खिताब अपने नाम किया था। कर्नाटक ने टी20 में लगातार 14वीं जीत दर्ज करके भारतीय रिकॉर्ड की बराबरी की। कोलकाता नाइटराइडर्स के नाम पर भी लगातार 14 जीत का रिकॉर्ड है। 
 
चुनौतीपूर्ण लक्ष्य का सामना कर रहे कर्नाटक ने बीआर शरत (2) का विकेट जल्दी गंवा दिया लेकिन इसके बाद कदम और अग्रवाल ने पूरी जिम्मेदारी के साथ बल्लेबाजी की तथा रन गति पर असर नहीं पड़ने दिया। 
 
अग्रवाल ने बाएं हाथ के स्पिनर सत्यजीत बाचव के एक ओवर में दो चौके और एक छक्का लगाकर इसकी शुरुआत की लेकिन कदम ने इसके बाद अधिक तेजी दिखायी।

कदम अर्धशतक पूरा करने के बाद दिव्यांग हिमांगकर की गेंद पर मिडविकेट पर कैच दे बैठे। उन्होंने अपनी पारी में 6 चौके और 3 छक्के लगाए। अग्रवाल ने इसके बाद 37 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया और अपने तीखे तेवरों का खुलकर इजहार किया। उनकी पारी में छह चौके और तीन छक्के शामिल हैं। 
इससे पहले महाराष्ट्र की तरफ से कप्तान राहुल त्रिपाठी (30) और रूतुराज गायकवाड़ (12) ने पहले विकेट के लिए 35 रन जोड़े, लेकिन 20 रन के अंदर तीन विकेट गंवाने से टीम बैकफुट पर चली गई। स्कोर तीन विकेट पर 55 रन हो गया। 
 
यहीं से शेख और अंकित बावने (25 गेंदों पर 29) ने चौथे विकेट के लिए 81 रन की साझेदारी की, जिससे महाराष्ट्र चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंच पाया। कर्नाटक की तरफ से केसी करियप्पा और जेसी सुचित ने भी 1-1 विकेट लिया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख मुम्बई में होगा ISL का ड्रीम फाइनल, बेंगलुरु और गोवा ने कमर कसी