Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

अब शायद ही टीम में लौटें महेंद्र सिंह धोनी, सामने आई बड़ी वजह

webdunia

वेबदुनिया न्यूज डेस्क

शुक्रवार, 18 अक्टूबर 2019 (18:59 IST)
मुंबई। एमएस धोनी (Mahendra Singh Dhoni) के फैंस के लिए बुरी खबर! क्रिकेट के मैदान पर अब धोनी शायद ही वापस लौटेंगे। इसकी वजह यह है कि राष्ट्रीय चयनकर्ता अब अपना मन बना चुके हैं कि धोनी की जगह किसी अन्य युवा को तैयार किया जाए, जो टीम इंडिया के लिए भविष्य में काम आ सके।
पता चला है कि धोनी की जगह संजू सेमसन को लेने जा रहे हैं। 24 अक्टूबर को जब चयनकर्ता बांग्लादेश के खिलाफ 3 नवंबर से शुरू होने जा रही घरेलू सीरीज के लिए टीम का चुनाव करेंगे, उसमें संजू को मौका दिया जाना तय है। भारत और बांग्लादेश के बीच 3 टी-20 और 2 टेस्ट मैच खेले जाएंगे।
भारतीय टीम को बांग्लादेश के अलावा दिसंबर में वेस्टइंडीज के साथ घरेलू सीरीज भी खेलनी है। चयनकर्ताओं की मानें तो धोनी के उपलब्ध होने के बाद भी उन्हें मौका नहीं दिया जाएगा।

वैसे धोनी ने आज तक यह कभी नहीं कहा कि वे खेलेंगे और यह भी नहीं कहा कि वे नहीं खेलेंगे। धोनी के संन्यास लेने की खबरें भी आए दिन उड़ती रहती हैं, जिन पर उन्होंने कभी ध्यान नहीं दिया।
webdunia
यह सस्पेंस अब तक बना हुआ है कि बीसीसीआई में सौरव गांगुली की एंट्री के बाद धोनी का क्रिकेट भविष्य क्या होगा। गांगुली पहले ही साफ कर चुके हैं कि वे 23 अक्टूबर को बीसीसीआई के अध्यक्ष पद की कुर्सी पर बैठने के बाद 24 अक्टूबर को टीम का चयन करने वाले चयनकर्ताओं की बात सुनेंगे, फिर अपना रुख साफ करेंगे। गांगुली ने यह कहा था कि वे व्यक्तिगत रूप से धोनी से बात करेंगे।
 
सबसे बड़ा सवाल यह है कि जब चयनकर्ता धोनी को हमेशा के लिए आराम देने का फैसला कर चुके हैं तो फिर गांगुली की बात करने के कोई मायने नहीं रह जाते। हां, यह हो सकता है कि गांगुली धोनी को सम्मान संन्यास लेने के लिए कोई योजना सामने रख दें।

उल्लेखनीय है कि धोनी ने जुलाई में इंग्लैंड में खेले गए वर्ल्ड कप के बाद से कोई मैच नहीं खेला है। वे विश्व कप के बाद वेस्टइंडीज दौरे पर भी नहीं गए थे। यही नहीं, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू सीरीज से भी उन्होंन अपना नाम वापस ले लिया था।
तस्वीर सौजन्य : फेसबुक 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

अंतिम टेस्ट क्रिकेट में टॉस जी‍तने के लिए किसी दूसरे को भी भेजने के लिए बेताब है डु प्लेसिस