Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

बिग बैश में मंधाना का धमाका! 14 चौके 3 छक्के, 64 गेंदों में जड़े रिकॉर्ड 114 रन (वीडियो)

webdunia
बुधवार, 17 नवंबर 2021 (21:44 IST)
मैकॉय: स्मृति मंधाना बुधवार को नाबाद 114 रन की रिकार्ड बराबर करने वाली पारी खेलकर महिला बिग बैश लीग (डब्ल्यूबीबीएल) में शतक जड़ने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बन गयीं लेकिन इस शानदार प्रदर्शन के बावजूद उनकी टीम सिडनी थंडर्स मैच हार गयी।

मंधाना को अपनी टीम को जीत दिलाने के लिये अंतिम गेंद पर एक छक्का जड़ने की जरूरत थी लेकिन वह भारत की टी20 कप्तान हरमनप्रीत कौर की गेंद पर ऐसा नहीं कर सकीं और मेलबर्न रेनेगेड्स ने चार रन की जीत से सिडनी थंडर्स को फाइनल की दौड़ से बाहर कर दिया।मंधाना ने 64 गेंद का सामना करते हुए 14 चौके और 3 छक्के जमाये और डब्ल्यूबीबीएल इतिहास में आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज एशले गार्डनर के सबसे बड़े व्यक्तिगत स्कोर की बराबरी की।

बायें हाथ की इस बल्लेबाज ने अपनी इस पारी से थंडर्स को जीत से महज एक छक्का दूर कर दिया लेकिन वह हरमनप्रीत की अंतिम गेंद पर छक्का नहीं जड़ सकीं जिससे उनकी टीम ने दो विकेट पर 171 रन बनाये।

गत चैम्पियन को फाइनल के लिये अपनी मामूली सी उम्मीद जीवंत रखने के लिये एक उलटफेर भरी जीत दर्ज की जरूरत होगी। टीम की शुरूआत अच्छी नहीं रही जिसने पावरप्ले के अंदर सैमी जो जानसन (12) और फोएबे लिचफील्ड (01) के विकेट गंवा दिये।

ताहिला विल्सन के रूप में अच्छा जोड़ीदार मिलने से मंधाना ने 33 गेंद में सत्र का अपना तीसरा अर्धशतक जड़ दिया लेकिन तब टीम को अंतिम पांच ओवर में 63 रन की दरकार थी।मंधाना ने आक्रामकता दिखाते हुए 18वें ओवर में होली फरलिंग पर 24 रन बना डाले। इसके बाद उन्होंने अपना शतक 57 गेंद में पूरा कर दिया, पर टीम को जीत के लिये अंतिम दो ओवर में 22 रन चाहिए थे।

रेनेगेड्स की कप्तान सोफी मोलिन्यू ने 19वें ओवर में महज नौ रन गंवाये और मंधाना को अंतिम ओवर में अपनी राष्ट्रीय कप्तान हरमनप्रीत की आफ स्पिन का सामना करना था।
webdunia

दो बार क्षेत्ररक्षकों की भूल का फायदा उठाने वाली मंधाना अंतिम गेंद पर छक्का जड़ने से महरूम रह गयी, वर्ना उनकी टीम की जीत सुर्खियों में छा जाती।इससे पहले रेनेगेड्स के लिये हरमनप्रीत शीर्ष स्कोरर रहीं जिन्होंने 55 गेंद में 11 चौके और दो छक्के की मदद से नाबाद 81 रन बनाये।
उन्होंने इंग्लैंड की बल्लेबाज इव जोन्स (33 गेंद में 42 रन) के साथ तीसरे विकेट के लिये 91 रन की भागीदारी निभायी। एक अन्य भारतीय सलामी बल्लेबाज जेमिमा रोड्रिग्स पहले ओवर में दो रन पर आउट हो गयीं।

रेनेगेड्स ने इस जीत से शीर्ष स्थान हासिल कर लिया और वह सीधे फाइनल में पहुंचने के लिये दावेदार बनी हुई है।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

क्या 2025 में भारत चैंपियन्स ट्रॉफी खेलने जाएगा पाकिस्तान? खेल मंत्री ने दिया यह बयान