विश्व कप में हार पर ट्रेंट बोल्ट बोले, यह नासूर बनकर टीस देती रहेगी...

गुरुवार, 18 जुलाई 2019 (15:56 IST)
आकलैंड। बराबरी की टक्कर के बावजूद 'चौकों छक्कों की गिनती' के आधार पर विश्व कप से वंचित रह जाने का गम न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों के लिए भुला पाना आसान नहीं है। तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट ने कहा, इस हार को इतनी जल्दी नहीं भूल सकेंगे। आने वाले काफी साल तक यह नासूर बनकर टीस देती रहेगी।

विश्‍व कप में इस हार के बाद अब सब अपने-अपने तरीके से इससे उबरने की कोशिश में हैं, मसलन तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट अपने कुत्ते के साथ सागर किनारे टहलकर दिल हल्का करेंगे। उन्होंने कहा, इस हार को इतनी जल्दी नहीं भूल सकेंगे। आने वाले काफी साल तक यह नासूर बनकर टीस देती रहेगी।

विश्व कप में 17 विकेट लेने वाले बोल्ट इन सवालों के बीच स्वदेश लौटे हैं कि लगातार दूसरा विश्व कप फाइनल हारने की पीड़ा से वे कैसे उबरेंगे। बोल्ट ने कहा, मैं 4 महीने में पहली बार घर जाऊंगा। शायद अपने कुत्ते को लेकर समुद्र किनारे सैर को जाऊं और इसे भुलाने की कोशिश करूं। मुझे यकीन है कि वह मुझसे नाराज नहीं होगा।

उन्होंने कहा, इस हार को इतनी जल्दी नहीं भूल सकेंगे। आने वाले काफी साल तक यह नासूर बनकर टीस देती रहेगी। इंग्लैंड के खिलाफ विश्व कप फाइनल में निर्धारित ओवरों और सुपर ओवर में भी स्कोर बराबर रहने के बाद चौकों-छक्कों की गिनती के आधार पर न्यूजीलैंड हार गया। बोल्ट ने कहा कि वे 49वां ओवर नहीं भूल पा रहे हैं जिसमें उन्होंने जिम्मी नीशाम की गेंद पर बेन स्टोक्स का कैच लिया, लेकिन पैर सीमा रेखा से टकरा गया।

उन्होंने कहा, मैं उसे भुला नहीं पा रहा हूं। हम अजीब हालात में वह मैच हारे। यह पूछने पर कि क्या उन्हें लगता है कि टीम छली गई, उन्होंने ना में जवाब दिया। अपने कप्तान केन विलियमसन की तरह गरिमा का परिचय देते हुए बोल्ट ने कहा, दुनियाभर के क्रिकेटप्रेमियों में निराशा है। हमने सभी को निराश किया। हम सभी से माफी मांगते हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख नीशाम ने विश्व कप सुपर ओवर में जब छक्का जड़ा, उनके कोच ने ली थी आखिरी सांस