Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

तीसरे टेस्ट से पहले पिच और टीम संतुलन पर यह बोले कप्तान कोहली और रूट

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
मंगलवार, 23 फ़रवरी 2021 (18:12 IST)
अहमदाबाद:मोटेरा में पूरी तरह से स्पिन की अनुकूल पिच की उम्मीद की जा रही है लेकिन भारतीय कप्तान विराट कोहली का मानना है कि इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे दिन-रात्रि टेस्ट में तेज गेंदबाजों की भी स्पिनरों के जितनी ही भूमिका होगी।
 
चार मैचों की श्रृंखला में दोनों टीमें 1-1 से बराबर चल रही हैं और बुधवार से यहां होने वाले तीसरे टेस्ट से पूर्व नए सिरे के तैयार स्टेडियम की नई पिच की प्रकृति चर्चा का केंद्र बनी हुई है।
 
यह पूछने पर कि क्या तीसरे टेस्ट में गेंद के स्विंग होने की संभावना नहीं है, कोहली ने कहा कि उन्हें लगता है कि जब तक गेंद ठोस और चमकीली है तब तक तेज गेंदबाजों के पास मैच में मौका रहेगा।
 
कोहली ने मैच से पूर्व प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि यह सटीक विश्लेषण है (कि गेंद स्विंग नहीं करेगी)। गुलाबी गेंद लाल गेंद से अधिक स्विंग करती है। जब 2019 में (बांग्लादेश के खिलाफ) हम पहली बार इससे खेले तो हमने यह अनुभव किया।’’
 
कोहली ने इस आकलन को भी खारिज कर दिया कि अगर पिच से तेज गेंदबाजों को मदद मिलेगी तो इंग्लैंड का पलड़ा भारी रहेगा।
 
उन्होंने कहा, ‘‘इस चीज से परेशान नहीं हूं कि इंग्लैंड टीम के मजबूत और कमजोर पक्ष क्या हैं। हमने उन्हें उनके घरेलू मैदान पर भी हराया है जहां गेंद कहीं अधिक मूव करती है इसलिए हम इससे परेशान नहीं हैं।’’
 
कोहली ने कहा, ‘‘और हां, विरोधी टीम की भी काफी कमजोरियां हैं, अगर आप इसका फायदा उठा पाओ तो। अगर यह उनके लिए तेज गेंदबाजी की अनुकूल पिच होगी तो हमारे लिए भी होगी।’’
 
भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘और संभवत: आपको पता की है कि हमारे पास दुनिया का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण है इसलिए गेंद कैसे मूव करेगी इसे लेकर हम चिंतित नहीं हैं। हम किसी भी स्थिति के लिए तैयार हैं।’’
 
दोनों टीमें इस मुकाबले में अनिश्चितताओं के बीच उतरेंगी। गुलाबी गेंद को तेज गेंदबाजों की मदद के लिए जाना जाता है लेकिन यह देखना होगा कि इससे स्पिनरों को कितनी मदद मिलती है जो घरेलू सरजमीं पर भारत का मजबूत पक्ष है।
 
सीनियर भारतीय बल्लेबाज रोहित शर्मा पहले ही कह चुके हैं कि यह स्पिन की अनुकूल पिच होगी। कोहली ने कहा कि सतह चाहे कैसी भी होगी गुलाबी गेंद का सामना करना लाल गेंद की तुलना में अधिक चुनौतीपूर्ण होता है।
 
उन्होंने कहा, ‘‘किसी भी तरह की पिच हो, गुलाबी गेंद से खेलना अधिक चुनौतीपूर्ण होता है। विशेषकर शाम को। हां, निश्चित तौर पर स्पिनरों की भूमिका होगी लेकिन मुझे नहीं लगता कि तेज गेंदबाजों और नई गेंद की अनदेखी की जा सकती है। जब तक गेंद ठोस और चमकीली है तब तक गुलाबी गेंद के कारण मैच में उनकी भूमिका होगी जिसके बारे में हमें पता है और हम इसी के अनुसार तैयारी कर रहे हैं। ’’
 
गेंदबाजी आक्रमण के संतुलन को लेकर स्पष्ट नहीं हैं रूट
 
इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने मंगलवार को कहा कि भारत के खिलाफ बुधवार से यहां शुरू हो रहे दिन-रात के तीसरे टेस्ट में उनका गेंदबाजी संयोजन क्या होना चाहिए ,इसे लेकर अभी वह स्पष्ट नहीं हैं और इसे अंतिम रूप देने से पहले वह कुछ और समय इंतजार करेंगे।
 
भारत ने चेन्नई में दूसरे टेस्ट में स्पिन की अनुकूल पिच पर इंग्लैंड को 317 रन से हराकर चार मैचों की श्रृंखला 1-1 से बराबर की। अब सभी की नजरें मोटेरा की नए सिरे से तैयार की गई पिच पर है जहां पहला टेस्ट गुलाबी गेंद से खेला जाएगा।
 
रूट ने मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘‘इस मैदान और गुलाबी गेंद के क्रिकेट को लेकर हमारे पास जो सीमित सूचना है उसे देखते हुए हम पूरा समय लेंगे। हम सुनिश्चित करेंगे कि मैच को लेकर फैसला करने से पहले हम स्वयं को जितना अधिक समय संभव हो वह दें।’’इंग्लैंड के टीम प्रबंधन के लिए हालांकि गेंदबाजी और बल्लेबाजी दोनों विभाग में चयन सिरदर्द हो सकता है।
 
गेंदबाजी विभाग में जोफ्रा आर्चर फिट हैं और तेज गेंदबाजी आक्रमण के अगुआ जेम्स एंडरसन के साथ गेंदबाजी के लिए उपलब्ध हैं। एंडरसन पर काम के बोझ को कम करते हुए उन्हें दूसरे टेस्ट में नहीं खिलाया गया था। तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड भी टीम में जगह बनाने के दावेदार हैं।
 
रूट ने कहा, ‘‘यह देखकर काफी अच्छा लगता है कि उसने (आर्चर) दोबारा गेंदबाजी शुरू कर दी है, हम उत्साहित हैं। वह विश्व स्तरीय खिलाड़ी है और उसके पास सभी तरह का कौशल है.... तेज गेंदबाजों के बीच से चयन करना काफी अच्छी स्थिति है।’’
 
सीनियर विकेटकीपर बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टॉ की भी टीम में वापसी हुई है और देखना होगा कि मेहमान टीम फॉर्म में चल रहे विकेटकीपर बेन फोक्स को बाहर करती है या दोनों को खिलाती है।
 
रूट ने कहा, ‘‘जब हम तैयार होंगे तो हम टीम की सूची आपको देंगे। हम सिर्फ इतना तय करना चाहते हैं कि सभी चीजों को लेकर हम सुनिश्चित हों। जब हम पूरी तरह तैयार होंगे तो आपको टीम की सूची दे देंगे। ’’
 
उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि पिच के बारे में असली जानकारी कल सुबह और पहली गेंद से पूर्व मिलेगी। यह प्रतिदिन सूखती जा रही है जैसा कि आप उम्मीद कर सकते हो।’’
 
इंग्लैंड के कप्तान ने कहा, ‘‘इसलिए हम गेंदबाजी संतुलन कैसा चाहते हैं इसे लेकर असल स्पष्टता की जरूरत है। आज रात के अभ्यास का इस्तेमाल करेंगे और देखेंगे कि ओस की कितनी बड़ी भूमिका रहती है और क्या इससे चीजों पर असर पड़ेगा।’’(भाषा) 

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
पूर्व भारतीय स्पिनर बिशन सिंह बेदी की हुई सफल बाइपास सर्जरी