Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

वनडे के सबसे तेज 12 हजारी बनेंगे विराट कोहली, सचिन का रिकॉर्ड तोड़ने के सबसे बड़े दावेदार

webdunia
मंगलवार, 17 नवंबर 2020 (18:14 IST)
नई दिल्ली। एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट 12 साल से अधिक समय गुजार चुके भारतीय कप्तान और 'रन मशीन' विराट कोहली (Virat Kohli) ऑस्ट्रेलिया (Australia) के खिलाफ तीन मैचों की एकदिवसीय सीरीज में सबसे तेज 12 हजारी बन सकते हैं और क्रिकेट लीजेंड सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) का रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं।
 
 
विराट के लिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 27 नवम्बर से शुरू होने वाला दौरा कई मायनों में निजी तौर पर महत्वपूर्ण साबित होने जा रहा है। भारत को इस दौरे में 3 वनडे, 3 टी-20 और 4 टेस्ट खेलने हैं। हालांकि विराट टेस्ट टेस्ट सीरीज का पहला मैच खेलकर स्वदेश लौट जाएंगे क्योंकि उनकी पत्नी अनुष्का शर्मा जनवरी के शुरू में उनकी पहली संतान को जन्म देने वाली हैं।
 
भारतीय कप्तान को सचिन के रिकॉर्ड तोड़ने के लिए सबसे प्रबल दावेदार माना जाता है। विराट के पास वनडे सीरीज में सबसे तेज 12 हजारी बनाने का मौका रहेगा। वह अभी इस उपलब्धि से मात्र 133 रन दूर हैं। 3 मैचों की इस सीरीज में विराट इस उपलब्धि को हासिल कर सकते हैं। सीरीज में 133 रन बनाते ही विराट वनडे में 12 हजार रनों के शिखर पर पहुंचने वाले दुनिया के छठे खिलाड़ी बन जाएंगे।
 
विराट के पास वनडे में सबसे तेज 12 हजारी बनाने का भी मौका रहेगा और इस मामले में वह मास्टर ब्लास्टर सचिन का रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं। सचिन ने 12 हजार रनों तक पहुंचने के लिए 300 पारियां खेली थीं और 13 साल 73 दिन का समय लगाया था। विराट के अभी 248 मैचों से 11867 रन हैं और उन्होंने 239 पारियां खेली हैं।
webdunia
विराट ने अपने वनडे करियर की शुरुआत 18 अगस्त 2008 को की थी और एकदिवसीय क्रिकेट में उन्हें अभी 12 साल से कुछ अधिक समय हुआ है। इस आधार पर वह सचिन के पारियों और समय के दोनों रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं।
 
वनडे में अब तक 5 खिलाड़ियों ने 12 हजार रन पूरे किए हैं। सचिन ने 463 मैचों में 18426 रन, श्रीलंका के कुमार संगकारा ने 404 मैचों में 14234 रन, ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग ने 375 मैचों में 13704 रन, श्रीलंका के सनथ जयसूर्या ने 445 मैचों में 13430 रन और श्रीलंका के माहेला जयवर्धने ने 448 मैचों में 11867 रन बनाए हैं।
 
इस महीने 5 नवम्बर को अपना 32वां जन्मदिन मनाने वाले विराट इस सीरीज का दूसरा मैच खेलते ही वनडे में 250 मैच भी पूरे कर लेंगे और यह उपलब्धि हासिल करने वाले वह 8वें भारतीय खिलाड़ी बन जाएंगे। भारत में अब तक सचिन, महेंद्र सिंह धोनी, राहुल द्रविड़, मोहम्मद अजहरुद्दीन, सौरव गांगुली, युवराज सिंह और अनिल कुंबले ने 250 या उससे अधिक वनडे खेले हैं।
 
विराट के पास इस दौरे में तीनों फॉर्मेट में 22 हजार रन पूरे करने का भी मौका रहेगा। विराट के अभी तीनों फॉर्मेट में कुल 416 मैचों से 21901 रन हैं। उन्हें इस उपलब्धि तक पहुंचने के लिए 99 रनों की जरूरत है। तीनों फॉर्मेट में कुल सर्वाधिक रनों का रिकॉर्ड सचिन के नाम है, जिन्होंने 664 मैचों में 34357 रन बनाए हैं। विराट इस मामले में वेस्ट इंडीज के ब्रायन लारा को पीछे छोड़ सकते हैं, जिनके नाम 22358 रन हैं।
 
विराट तीनों फॉर्मेट में कुल शतकों के मामले में ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग की बराबरी कर सकते हैं या उन्हें पीछे छोड़ सकते हैं। इस मामले में पोंटिंग के कुल 560 मैचों से 71 शतक हैं जबकि विराट के 416 मैचों से 70 शतक हैं। विराट ने टेस्ट में 27 और वनडे में 43 शतक बनाए हैं। विराट का टी-20 में कोई अंतरराष्ट्रीय शतक नहीं है और इस फॉर्मेट में उनका सर्वाधिक स्कोर नाबाद 94 रन है।
 
भारतीय कप्तान के पास टी-20 सीरीज में रोहित शर्मा से अपनी बढ़त आगे करने का मौका रहेगा। टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में विराट और रोहित में लगातार नजदीकी होड़ चल रही है। विराट ने इस फॉर्मेट में 82 मैचों में 2794 रन बनाए हैं जबकि रोहित ने 108 मैचों में 2773 रन बनाए हैं।
 
रोहित को उनकी हैमस्ट्रिंग चोट के कारण ऑस्ट्रेलिया में वनडे और टी-20 सीरीज से विश्राम दिया गया है और वह 4 टेस्टों की सीरीज के लिए भारतीय टीम में लौटेंगे। टी-20 सीरीज में रोहित की अनुपस्थिति से विराट इस फॉर्मेट में अपने रनों की संख्या को आगे ले जा सकते हैं और रोहित से फासला बढ़ा सकते हैं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

ऑस्ट्रेलिया ने बिग बैश के नियम बदले, जिमी नीशम ने कसा तंज