Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

अमेरिका में बिक रही हैं हवा से पानी बनाने वाली मशीनें

हमें फॉलो करें webdunia

DW

गुरुवार, 7 अक्टूबर 2021 (08:19 IST)
सूखाग्रस्त कैलीफोर्निया में लोग हवा से पानी बनाने वाली मशीनों को खरीद रहे हैं। इन महंगी मशीनों से कुछ लोगों की पानी की कमी का समाधान तो हो जा रहा है लेकिन क्या यह बड़े स्तर पर इस समस्या का हल है?
 
यह मशीनें एयर कंडीशनर की तरह तारों का इस्तेमाल कर हवा को ठंडा करती है और फिर पानी की बूंदों को एक टब में इकठ्ठा करती है। इसे डिजाइन करने में मदद करने वाले इंजीनियर टेड बाओमन कहते हैं कि हमारा सिद्धांत है कि हवा में से पानी निकालना जादू नहीं है, विज्ञान है और हम असल में इन मशीनों की मदद से यही कर रहे हैं।
 
बाओमन वॉशिंगटन-स्थित सुनामी प्रोडक्ट्स नाम की कंपनी में डिजाइन इंजीनियर हैं। यह उन कई प्रणालियों में से एक है जिन्हें हवा में मौजूद आर्द्रता में से पानी निकलाने के लिए हाल ही में विकसित किया गया है।
 
एक दिन में 8,600 लीटर पानी
 
दूसरे आविष्कारों में हवा की नमी में से इसी तरह पानी निकालने वाले जाल, सौर ऊर्जा पैनल और जहाजी कंटेनर शामिल हैं। बाओमन ने बताया कि उनकी कंपनी की मशीनें हवा में से आर्द्रता को निकाल लेती हैं और उसमें से जो पानी निकलता है उसे फिल्टर कर पीने लायक बनाया जा सकता है।
 
इन मशीनों को घरों, दफ्तरों, पशु-फार्मों और दूसरी कई जगहों पर इस्तेमाल किया जा सकता है। यह तकनीक विशेष रूप से उन इलाकों में बेहतर काम करती है जहां धुंध हो। अपने आकार के हिसाब से ये मशीनें एक दिन में 900 से 8,600 लीटर तक पानी बना सकती हैं।
 
ये मशीनें सस्ती नहीं हैं और ये 30,000 से लेकर 2,00,000 डॉलर तक दाम में उपलब्ध हैं। फिर भी कैलीफोर्निया में कुछ लोग अपने घरों में पानी की जरूरतों को पूरा करने के लिए इन्हें खरीद रहे हैं।
 
कैलीफोर्निया इस समय अपने इतिहास में सबसे बुरे सूखे की स्थिति से गुजर रहा है। जलाशय सूख रहे हैं और इलाके के निवासियों को पानी का संरक्षण करने के लिए कहा गया है। कैलीफोर्निया के बेनिशिया में रहने वाले डॉन जॉनसन बताते हैं कि उन्होंने सबसे छोटे आकार में यह मशीन खरीदी है।
 
घर की जरूरत पूरी
 
जॉनसन को उम्मीद थी कि एक लंबे एसी के यूनिट जैसी दिखने वाली यह मशीन उनके लिए इतना पानी बना दे जिससे वो अपने बगीचे को हरा भरा रख सकें। लेकिन उन्होंने पाया कि मशीन इतना पानी बना लेती है जो उनके बगीचे के साथ साथ उनके घर की पानी की जरूरतों के लिए बिल्कुल पर्याप्त है।
 
जॉनसन कहते हैं कि आप पानी की बोतलों पर जितना पैसा खर्च करेंगे उससे काफी कम खर्च में यह मशीन आपके लिए पानी बना देगी। मुझे विश्वास है कि जैसे जैसे समय बीतेगा और ताजा पानी की आपूर्ति की कीमत भी बढ़ेगी, इस मशीन का खर्च और भी कम लगने लगेगा।
 
ऊंचे दाम के अलावा मशीन को चलने के लिए काफी ऊर्जा भी चाहिए। जॉनसन ने बताया कि मशीन के ऊपर लगे सौर ऊर्जा पैनल इतनी ऊर्जा बना लेते हैं कि मशीन को चलाने के लिए और कोई ऊर्जा लागत नहीं लगती।
 
कैलीफोर्निया विश्वविद्यालय के विशेषज्ञ और जलविज्ञान की शोधकर्ता हेलेन डालके कहते हैं कि यह तकनीक घरेलू इस्तेमाल के लिए ठीक है, विशेष रूप से ग्रामीण इलाकों में। लेकिन ये कैलीफोर्निया की व्यापक पानी समस्या का व्यावहारिक समाधान नहीं है।
 
डाल्के कहती हैं कि भविष्य में सूखे को होने से रोकने के लिए ग्लोबल वॉर्मिंग के खिलाफ लड़ाई पर ध्यान केंद्रित रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें हालात को बदलने के लिए वाकई जलवायु के गर्म होने को रोकने की जरूरत है।
 
सीके/एए (एपी)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

लखीमपुर खीरी: यूपी में कैसे आ बसे सिख और कैसा है राज्य में इनका प्रभाव