मोदी जवानों के नाम पर वोट मांगकर सेना को कर रहे हैं बदनाम

वेबदुनिया से इंटरव्यू में बोले तेजबहादुर यादव

विकास सिंह

मंगलवार, 23 अप्रैल 2019 (13:03 IST)
बनारस से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे बीएसएफ के बर्खास्त जवान तेजबहादुर यादव सेना में भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाकर पहले ही सुर्खियों में आ चुके हैं। तेजबहादुर निर्दलीय प्रत्याशी के तौर चुनावी मैदान में हैं। वेबदुनिया के पॉलिटिकल एडिटर ने तेजबहादुर यादव से चुनाव को लेकर कई मसलों पर बातचीत की।
 
बनारस से मोदी के खिलाफ ही चुनाव क्यों : इस सवाल के जवाब में तेजबहादुर यादव कहते हैं कि वो भ्रष्टाचार के मुद्दे को लेकर चुनाव मैदान में हैं। तेजबहादुर कहते हैं कि सभी ने देखा था कि मैंने सुरक्षाबलों में भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाया था। मोदी जी पर विश्वास किया था कि वो भ्रष्टाचार को खत्म कर देंगे और मेरे साथ आएंगे, लेकिन हुआ इसका उल्टा, मुझे ही बर्खास्त कर दिया गया और आज तक कोर्ट के चक्कर लगाकर परेशान हो रहा हूं। इसलिए जीतकर संसद में सेना के जवानों की आवाज उठाना चाहता हूं।
 
सेना के नाम पर वोट मांगना गलत : वेबदुनिया को दिए इंटरव्यू में तेजबहादुर यादव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाते हुए कहते हैं कि मोदी जी आज सेना के नाम पर वोट मांगकर सेना को बदनाम कर रहे हैं, लेकिन दूसरी तरफ उन्होंने सेना से किए गए अपने वादों को पूरा नहीं किया। इसलिए आज सेना के जवान मोदी के खिलाफ हैं। बातचीत में तेजबहादुर दावा करते हैं कि इस मुहिम में उनको बड़ी संख्या में सेना के जवानों का समर्थन भी मिल रहा है।
 
चौकीदार के मुद्दे पर चुनाव : 24 अप्रैल को अपना नामांकन भरने जा रहे तेजबहादुर यादव कहते हैं कि चुनाव में उनके कैंपेन का मुख्य मुद्दा ही चौकीदार है। प्रधानमंत्री के खुद के चौकीदार बताने पर सवाल उठाते हुए तेजबहादुर कहते हैं कि वो कहां से चौकीदार हो गए, असली चौकीदार तो देश की सीमा पर तैनात जवान हैं, जो देश की रक्षा करते हैं। तेजबहादुर कहते हैं कि असली चौकीदार तो वहीं है इसलिए पूरी लड़ाई असली बनाम नकली चौकीदार की है।
 
नरेंद्र मोदी को जनता ने नरेंद्र मोदी बनाया : वेबदुनिया के इस सवाल पर कि चुनाव में नरेंद्र मोदी का मुकाबला कैसे करेंगे पर तेजबहादुर यादव कहते हैं कि लोकतंत्र में सब बराबर होते हैं और नरेंद्र मोदी को नरेंद्र मोदी बनाया हमने और आपने मिलकर बनाया है और अब जनता ही उनको हटाएगी।
 
पब्लिसिटी के लिए मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने का आरोप : वहीं भाजपा नेताओं के इन आरोपों पर कि वो केवल मोदी के खिलाफ चुनाव लड़कर चर्चित होना चाहते हैं पर तेजबहादुर कहते हैं कि वो भाजपा के नेताओं को चैलेंज करते हैं कि उनके आरोपों को गलत साबित करके दिखाए अगर आरोप गलत होते हैं तो वो इंडिया गेट पर फांसी पर चढ़ने को भी तैयार हैं और अगर भाजपा के नेताओं में हिम्मत है तो खुले मंच पर बहस करें।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख Loksabha election 3rd phase voting live : तीसरे चरण में 117 लोकसभा सीटों पर मतदान