रांची लोकसभा सीट परिचय

परिचय : 15 नवंबर 2000 को बिहार से अलग होकर बने राज्य झारखंड की राजधानी है रांची। यह राज्य का तीसरा सबसे प्रसिद्ध शहर है। इसे झरनों का शहर भी कहा जाता है। यह शहर अपने खूबसूरत पर्यटन स्थलों के लिए विश्‍वभर में पहचाना जाता है। साथ ही यह दिग्‍गज क्रिकेटर महेंद्रसिंह धोनी का गृहनगर भी है। 
 
जनसंख्‍या : जनगणना 2011 के अनुसार, यहां की कुल जनसंख्या 11 लाख 26 हजार 741 है। हालांकि एक अनुमान के मुता‍बिक यहां की जनसंख्‍या 20 लाख के लगभग है।
 
अर्थव्यवस्था : यह एक प्रमुख औद्योगिक केंद्र है। मुख्य रूप से यहां एचईसी (हैवी इंजीनियरिंग कॉर्पोरेशन), भारतीय इस्पात प्राधिकरण, मेकन इत्यादि के कारखाने हैं। यहां स्थानीय स्तर पर मिलने वाले बॉक्साइट, चूना-पत्थर व चीनी मिट्टी के भंडारों का खनन किया जाता है।
 
मतदाताओं की संख्‍या : लोकसभा चुनाव 2014 के मुताबिक यहां मतदाताओं की कुल संख्‍या 16 लाख 48 हजार 464 है, जिसमें 8 लाख 68 हजार 783 पुरुष और 7 लाख 79 हजार 681 महिलाएं हैं।
 
भौगोलिक स्थिति : यह शहर कर्क रेखा के पास सुबर्णरेखा नदी के किनारे छोटा नागपुर पठार के दक्षिणी भाग में स्थित है। इसकी औसत ऊंचाई समुद्र तल से 651 मीटर है। यह पहाड़ी स्थलाकृति और इसके घने उष्ण कटिबंधीय जंगलों का एक संयोजन है, जो राज्य के बाकी हिस्सों की अपेक्षा मध्यम जलवायु का उत्पादन करता है।
 
16वीं लोकसभा में स्थिति : भाजपा के रामटहल चौधरी यहां सांसद हैं। उन्‍होंने लोकसभा चुनाव 2014 में कांग्रेस के सुबोधकांत सहाय को पराजित किया था। चौधरी इस सीट से सर्वाधिक 5 बार सांसद चुने गए हैं। कांग्रेस के दिग्गज नेता सुबोधकांत सहाय भी इस सीट से सांसद रह चुके हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख भारतीय सेना का ऑपरेशन सनराइज, म्यांमार सीमा पर 10 उग्रवादी कैंप किए तबाह