Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

लोकसभा चुनाव 2019 : तीसरे चरण के मतदान में भी करोड़पति उम्मीदवारों का बोलबाला

webdunia
webdunia

अरविन्द शुक्ला

लखनऊ। उत्तरप्रदेश इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स ने उत्तरप्रदेश लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में सभी 120 उम्मीदवारों के शपथ पत्रों का विश्लेषण किया गया, जो मुरादाबाद, रामपुर, संभल, फिरोजाबाद, मैनपुरी, एटा, बदायूं, आंवला, बरेली, पीलीभीत निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं। इस विश्लेषण में पाया गया कि कई उम्मीदवार करोड़पति हैं, तो कई पर आपराधिक केस दर्ज हैं।
 
उम्मीदवारों द्वारा घोषित आपराधिक मामले : यूपी इलेक्शन वॉच के विश्लेषण में यह बात निकलकर सामने आई है कि 120 उम्मीदवारों में से 24 (20 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं, वहीं अगर हम गंभीर आपराधिक मामलों की बात करें तो 19 (16 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपने ऊपर गंभीर आपराधिक मामले घोषित किए हैं।
 
आपराधिक मामलों में समाजवादी पार्टी, रामपुर से लोकसभा चुनाव लड़ रहे आजम खां पर 10 आपराधिक मामले दर्ज हैं जिनमें से 15 गंभीर आपराधिक धाराएं हैं, जबकि दूसरे नंबर पर फिरोजाबाद से निर्दलीय लड़ रहे चौधरी बशीर हैं जिनके ऊपर 10 आपराधिक मामले हैं। वहीं तीसरे नंबर पर निर्दलीय जावेद खान हैं जिनके ऊपर 4 आपराधिक मामले दर्ज हैं। आपराधिक मामलों में 4थे नंबर पर सामाजवादी पार्टी के धर्मेन्द्र यादव हैं जिनके ऊपर 3 आपराधिक मामले दर्ज हैं जबकि 5वें स्थान पर हैं मुरादाबाद से भारतीय जनता पार्टी के कन्वर सर्वेश कुमार जिनके ऊपर 3 आपराधिक मामले दर्ज हैं।
 
करोड़पति उम्मीदवार : तीसरे चरण में करोड़पति उम्मीदवारों में 120 में से 46 (38.16 प्रतिशत) उम्मीदवारों की संपत्ति 1 करोड़ या उससे ज्यादा है। पार्टीवार करोड़पति उम्मीदवारों की बात करें तो पहले व दूसरे चरण की तरह ही तीसरे चरण में भी सभी प्रमुख दलों ने करोड़पति उम्मीदवारों पर अपना दांव लगाया है।
 
बीजेपी, समाजवादी पार्टी, कांग्रेस व बहुजन समाज पार्टी ने 100 प्रतिशत करोड़पति उम्मीदवारों को टिकट दिया है। इसमें समाजवादी पार्टी के देवेन्द्र सिंह यादव की अधिकतम संपत्ति 2,04,64,15,655 की है वहीं दूसरे स्थान पर कांग्रेस के प्रवीण सिंह एरॉन हैं जिनकी संपत्ति 1,47,76,86,028 और तीसरे स्थान पर कांग्रेस के ही सलीम इकबाल शेरवानी हैं जिनकी संपत्ति 76,38,72,000 है।
 
उत्तरप्रदेश लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 6.71 करोड़ है, वहीं सबसे कम संपत्ति वाले उम्मीदवारों में भारत प्रभात पार्टी के रामचन्द्र ने अपनी संपत्ति 25,100 बताई है।
 
पैन विवरण : 3 (2.5 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपना पैन घोषित नहीं किया है।
 
शैक्षिक योग्यता : 35 (29 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षणिक योग्यता 8वीं और 12वीं के बीच घोषित की है, जबकि 65 (54 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षिक योग्यता स्नातक और इससे ज्यादा बताई है। वहीं 12 उम्मीदवार साक्षर और 3 उम्मीदवार असाक्षर हैं जबकि 2 उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षिक योग्यता घोषित नहीं की है।
 
उम्मीदवारों की आयु : 68 (57 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपनी आयु 25 से 50 वर्ष के बीच व 46 (38 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपनी आयु 51 से 80 वर्ष के बीच घोषित की है जबकि 2 उम्मीदवारों ने अपनी आयु 80 वर्ष से अधिक बताई है और 3 उम्मीदवारों ने अपनी आयु घोषित नहीं की है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

हवा में उड़ने वाले 'जेट' के 100 कर्मचारी सड़क पर उतरे, सरकार से मांगी वित्तीय मदद