लोकसभा चुनाव 2019 : सत्ता के सिंहासन के लिए नेताओं ने खूब बहाया पसीना, मोदी ने 142 तो राहुल ने की 145 रैलियां

बुधवार, 22 मई 2019 (22:24 IST)
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, दोनों ने ही देश में 7 चरणों में हुए लोकसभा चुनाव के दौरान धुआंधार प्रचार अभियान चलाया। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने 142 और राहुल ने 145 रैलियों को संबोधित किया। 
 
राहुल गांधी ने इस दौरान 8 संवाददाता सम्मेलन को भी संबोधित किया। दोनों नेताओं ने रोड-शो भी किए और कई मीडिया समूहों को इंटरव्यू भी दिए।
 
भाजपा का प्रचार अभियान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इर्द-गिर्द ही केंद्रित रहा। मोदी ने चुनाव प्रचार के दौरान 142 रैलियां कीं और 1.05 लाख किलोमीटर की यात्रा के जरिए देश का भ्रमण किया। इस अभियान के दौरान मोदी ने उत्तरप्रदेश, प. बंगाल, ओडिशा, बिहार, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, राजस्थान, कर्नाटक और गुजरात पर विशेष ध्यान दिया।
 
मोदी ने 4 रोड शो किए। इन जनसभाओं में अनुमानित डेढ़ करोड़ लोगों से ज्यादा लोगों से सम्पर्क किया गया और जनकल्याण योजनाओं के 7000 लाभार्थियों से भी मुलाकात की गई। इस दौरान उन्होंने 1.05 लाख किलोमीटर की यात्रा की और 3 दिन ऐसे भी आए, जब एक दिन में मोदी ने 4000 किलोमीटर की यात्रा की।
कांग्रेस के मीडिया विभाग की ओर से उपलब्ध कराई गई जानकारी के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष ने 3 फरवरी को पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में जनसभा करने के साथ ही इस लोकसभा चुनाव में अपने प्रचार अभियान का आगाज किया। इसके बाद 17 मई को हिमाचल प्रदेश के सोलन में जनसभा के साथ राहुल गांधी का प्रचार अभियान संपन्न हुआ। राहुल गांधी ने 5 रोड शो भी किए।
 
उधर, पार्टी अध्यक्ष के नाते पूरा चुनाव प्रबंधन देख रहे अमित शाह ने 161 जनसभाओं को संबोधित किया और इसके लिए 1.58 लाख किलोमीटर की यात्रा की। इस दौरान चुनावी सभाओं के साथ 18 रोड-शो भी किए।
 
देशभर में भाजपा के राष्ट्रीय नेताओं की 1500 सभाएं हुई जबकि प्रदेश स्तर के नेताओं की 3800 सभाएं हुई। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की 135 सभाएं, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस की 91 सभाएं, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की 86 सभाएं और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की 55 सभाएं हुई।
 
वहीं, चुनाव प्रचार अभियान के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष ने देश के तकरीबन सभी क्षेत्रों का दौरा किया और कांग्रेस एवं सहयोगी दलों के प्रत्याशियों के लिए वोट मांगे। कांग्रेस अध्यक्ष के साथ ही उनकी बहन एवं पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी उत्तरप्रदेश एवं देश के कई दूसरे हिस्सों में धुआंधार प्रचार किया। प्रियंका ने अमेठी, वायनाड, गाजियाबाद, फतेहपुर सीकरी, रोहतक और कुशीनगर सहित कई लोकसभा क्षेत्रों में रोड-शो भी किए।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख चुनाव परिणामों में लगता 2 से 3 दिन का समय, EVM ने बदला मतगणना का भाग्य