Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

प्रदेश भाजपा मुख्यालय में 4 घंटे के महामंथन के बाद कैसे पुष्यमित्र भार्गव बने इंदौर के महापौर उम्मीदवार?

पुष्यमित्र भार्गव के भाजपा के इंदौर महापौर उम्मीदवार बनाने की इनसाइड स्टोरी

हमें फॉलो करें webdunia
webdunia

विकास सिंह

बुधवार, 15 जून 2022 (12:15 IST)
भोपाल। देश की सबसे स्वच्छ शहर इंदौर के लिए भाजपा ने युवा चेहरे पुष्यमित्र भार्गव को अपना उम्मीदवार बनाया है। पुष्यमित्र भार्गव के महापौर उम्मीदवार बनने पर इंदौर भाजपा के कई बड़े नेताओं ने उनको बधाई दे दी है। ‘वेबदुनिया’ ने सबसे पहले इस खबर को ब्रेक किया था कि पुष्यमित्र भार्गव इंदौर के महापौर उम्मीदवार होंगे। इंदौर में महापौर उम्मीदवार की दावेदारी में शामिल कई चेहरों को पीछे छोड़कर अतिरिक्त महाधिवक्ता पुष्यमित्र भार्गव को महापौर उम्मीदवार बनाने के लिए मंगलवार को इंदौर से लेकर भोपाल तक एक गहमागहमी और मंथन का एक लंबा दौर दिखाई दिया।

इंदौर के महापौर उम्मीदवार तय करने के लिए प्रदेश भाजपा मुख्यालय में मंगलवार शाम कैसे हुआ पूरा मंथन, अलग-अलग बंद कमरों में किस तरह चला बैठकों का लंबा दौर,पढ़िए भाजपा के इंदौर महापौर चयन पर ‘वेबदुनिया’ की एक्सक्लूसिव इनसाइड स्टोरी।
 
स्थान- प्रदेश भाजपा मुख्यालय 
समय- दोपहर 3.55 मिनट 
इंदौर भाजपा नेताओं की गाड़ियों का काफिला प्रदेश भाजपा मुख्यालय पहुंचता है। महापौर उम्मीदवार के नाम पर स्थानीय तौर पर कोई सहमति नहीं बनाने पर पार्टी नेतृत्व के सभी नेताओं को एक साथ तलब किया। प्रदेश भाजपा मुख्यालय पहुंचने वाले नेताओं में इंदौर सांसद शंकर लालवानी, पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष जीतू जिराती, राज्यसभा सांसद कविता पाटीदार, भाजपा विधायक रमेश मेंदोला, आकाश विजयवर्गीय, मालिनी गौण के साथ सुर्दशन गुप्ता, इंदौर जिला अध्यक्ष राजेश सोनकर और नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे, अजय नरूका के साथ-साथ पार मधु वर्मा भी शामिल थे।
webdunia
प्रदेश भाजपा मुख्यालय पहुंचे इन नेताओं के साथ पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव चर्चा करते है। करीब एक घंटे की बैठक के बाद खबर आती है कि मधु वर्मा के नाम पर पार्टी नेताओं के बीच सहमति बन गई है और मुध वर्मा का नाम तेजी से चलने लगता है लेकिन पेंच फिर फंस जाता है। 

बैठक से बाहर निकलर भाजपा विधायक रमेश मेंदोला और आकाश विजयवर्गीय पार्टी कार्यालय में एकांत में कुर्सियों पर बैठकर गंभीर विचार-मंथन करते हुए दिखाई देते है। इस बीच भाजपा जिला अध्यक्ष राजेश सोनकर और भाजपा नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे भी एकांत पर फोन पर लंबी चर्चा करते हुए भाजपा दफ्तर में नजर आते है। 
 
समय- शाम 6.25 मिनट 
इसके बाद शाम 6.25 मिनट पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा, प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव भाजपा दफ्तर के पीछे बने कक्ष में पहुंचते है। वहीं पर भाजपा विधायक रमेश मेंदोला और आकाश विजयवर्गीय भी आते है और बंद कमरे में सभी नेताओं की प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद के साथ चर्चा होती है। मुख्यमंत्री के आने से पहले यह दोनों नेता बाहर आ जाते है। 
 
समय- शाम 7.05 मिनट 
इंदौर में महापौर के नाम पर किसी एक नाम पर सहमति नहीं बन पाने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शाम 7.05 मिनट पर प्रदेश भाजपा दफ्तर पहुंते है। मुख्यमंत्री के आने के सूचना पर इंदौर भाजपा के नेता गुलदस्ते लेकर गेट पर मुख्यमंत्री की अगवानी के लिए खड़े होते है लेकिन मुख्यमंत्री की गाड़ी सीधे भाजपा दफ्तर के पीछे जाकर रूकती है और मुख्यमंत्री सीधे प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद,प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के साथ बंद कमरे में चर्चा करते है। इस बीच इंदौर भाजपा के सभी नेता एक साथ फिर अलग से बैठक करते है। 
webdunia

समय- शाम 7.45 मिनट-
महापौर उम्मीदवार के इस मंथन के बीच रात 7.45 मिनट पर इंदौर भाजपा के सभी नेताओं को पार्टी नेतृत्व का फिर बुलावा आता है और सभी नेता एक साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलने पहुंचते है। करीब 15-20 मिनट की चर्चा के बाद इंदौर के सभी नेताओं एक-एक कर रात 8.10 मिनट पर तेजी से बाहर निकलते है और अपनी गाड़ियों में बैठकर इंदौर रवाना होने लगते है। 
webdunia
पुष्यमित्र भार्गव का नाम फाइनल- इस बीच इंदौर के नेताओं के बाहर निकलने के साथ ही पहली बार पुख्ता खबर निकलकर आती है कि पार्टी नेतृत्व ने पुष्यमित्र भार्गव को महापौर उम्मीदवार बनाने का तय किया है जिस पर इंदौर के सभी नेताओं ने अपनी सहमति दी है। पुष्यमित्र भार्गव को उम्मीदवारी के पीछे संघ का समर्थन होने के साथ-साथ कैलाश विजयर्गीय के साथ इंदौर के प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा का भी समर्थन माना जा रहा है।

इंदौर महापौर उम्मीदवार को लेकर प्रदेश भाजपा मुख्यालय में करीब 4 घंटे का मंथन हुआ इस दौरान इंदौर के स्थानीय नेताओं के बीच रस्साकशी साफ तौर पर देखी गई। वहीं इंदौर नगर भाजपा अध्यक्ष गौरव रणदिवे भाजपा के एक अनुशासित कार्यकर्ता की तरह मीडिया से बात करते हुए कहते हैं कि बैठक में महापौर उम्मीदवार के चयन पर कोई बात ही नहीं हुई। उन्होंंने कहा कि बैठक में निकाय चुनाव की प्रक्रिया को लेकर और चुनाव लड़ने को लेकर चर्चा हुई।
 
फिक्चर अभी बाकी हैं!- इंदौर महापौर के लिए पुष्यमित्र भार्गव का नाम भले ही फाइनल हो चुका हो, भले ही इंदौर भाजपा के दिग्गज नेताओं ने पुष्यमित्र भार्गव को बधाई दे दी है लेकिन पार्टी के अंदर सब कुछ ठीक-ठाक है इसको नहीं कहा जा सकता। इसका सबसे बड़ा प्रमाण है कि मध्यप्रदेश भाजपा और सरकार के संकट मोचक माने जाने वाले इंदौर के प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा अपने पहले से तय कार्यक्रम में बदलाव कर अब से कुछ देर में दतिया से सीधे इंदौर पहुंच रहे है जहां वह पार्टी कोर ग्रुप के नेताओं के साथ बैठक कर आगे की रणनीति पर चर्चा करेंगे। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

अग्निवीरों को नौकरी में मिलेगी प्राथमिकता, गृह मंत्रालय से लेकर राज्यों तक सभी देंगे मौका