मध्यप्रदेश : विधानसभा में उपाध्यक्ष पद के लिए भी कांग्रेस और भाजपा में हो सकता है मुकाबला

बुधवार, 9 जनवरी 2019 (11:50 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा में अब उपाध्यक्ष पद के लिए भी चुनाव होने की संभावना है। कांग्रेस की उपाध्यक्ष पद की उम्मीदवार हिना कांवरे की ओर से आज विधानसभा सचिवालय में इसके लिए विधिवत नामांकन-पत्र पेश किया गया। इस अवसर पर संसदीय कार्य मंत्री डॉ. गोविंद सिंह और अन्य कांग्रेस विधायक भी मौजूद थे।
 
कुछ ही देर बाद भाजपा के उपाध्यक्ष पद के प्रत्याशी जगदीश देवड़ा की ओर से भी नामांकन-पत्र पेश किया गया। अब उपाध्यक्ष पद के लिए दोनों के बीच चुनाव होने की संभावना है।
 
इसके पहले कल विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए हुए निर्वाचन में वरिष्ठ विधायक एनपी प्रजापाति निर्वाचित हुए। हंगामे के कारण भाजपा ने सदन की कार्यवाही का बहिष्कार कर दिया था।
 
इसके बीच प्रजापति 120 वोट हासिल कर अध्यक्ष निर्वाचित हुए। कांग्रेस के नेतृत्व ने पहले ही कह दिया था कि यदि अध्यक्ष पद के लिए चुनाव की नौबत आयी तो कांग्रेस उपाध्यक्ष पद के लिए भी उम्मीदवार उतारेगी।
 
राज्य विधानसभा में पिछले कई वर्षोँ की परंपरा के अनुरूप उपाध्यक्ष का पद विपक्ष के किसी सदस्य को जाता रहा है। विशेषज्ञों का कहना है कि हालांकि यह परंपरा है, कोई नियम नहीं है।
 
मध्यप्रदेश की नवगठित 15वीं विधानसभा के पहले सत्र का आज तीसरा दिन है। पहले दिन विधायकों को शपथ दिलाई गई। दूसरे दिन मंगलवार को विधानसभा अध्यक्ष का निर्वाचन होने के बाद राज्यपाल का अभिभाषण हुआ। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख लोकसभा चुनाव में मोदी को हराने के लिए कांग्रेस ने तैयार किया स्पेशल टी-20 प्लान