Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

अब ज्यादा 'मीठी' होगी दिवाली, मध्यप्रदेश सरकार की अनूठी पहल

हमें फॉलो करें webdunia

नृपेंद्र गुप्ता

शुक्रवार, 21 अक्टूबर 2022 (16:36 IST)
भोपाल। दिवाली को लेकर लोगों में खासा उत्साह नजर आ रहा है। बाजारों में भीड़ उमड़ी रही है। त्योहारी सीजन में मध्यप्रदेश  सरकार ने एक ऐसी पहल की उपभोक्ताओं के अधिकारों का संरक्षण होगा। मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य होगा जहां पर मिठाई के वजन के साथ उसके खाली बॉक्स का वजन भी अलग से अंकित किया जाएगा।
 
खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग के मंत्री बिसाही लाल साहू की पहल पर राज्य के सभी सभी जिलों में यह कदम उठाया गया है। इसकी शुरुआत आज भोपाल में हो गई। नापतौल विभाग के नियंत्रक डॉ. कैलाश बुंदेला ने भोपाल मिठाई  विक्रेता संघ के साथ बैठक में इस संबंध निर्देश दिए।
 
बैठक में मिठाई विक्रेताओं से कहा गया कि विक्रेता मिठाई बेचते समय मिठाई के साथ डिब्बे का वजह शामिल नहीं करेंगे। खाली  डिब्बों के वजन की लिस्ट भी दुकानों में लगाई जाएगी। त्योहार के दौरान डिब्बों पर खाली डिब्बों के वजन की सील लगाई जाएगी। त्योहारों के बाद जब स्टाक खत्म हो जाएगा और नए डिब्बों पर खाली डिब्बों का नेट वेट प्रिंट कराया जाएगा। 
 
डॉ. बुंदेला ने बताया कि पैक्ड वस्तुओं के लिए तो पहले से नियम बना हुआ है, उसमें सख्ती से कार्रवाई चल रही है। कोई भी पैक्ड वस्तु जो पैकेट में आ रही है तो उसमें मात्रा लिखी होती है। साथ ही उसमें डिक्लेरेशन भी होता है जिसमें निर्माता का नाम, डेट का मैन्यूफैक्चरिंग और डेट ऑफ एक्सपायरी लिखा होना चाहिए। केवल मिठाई का पैकेट पैकेजिंग एक्ट में नहीं आता है। नेट वेट  छापने में मिठाई विक्रेताओं का कोई नुकसान नहीं है इसलिए वे भी इसके लिए तुरंत राजी हो गए। 
 
जागरूक उपभोक्ता समिति इसके लिए लंबे समय से लड़ाई लड़ रही थी। संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश कुमार आमोलिया इंदौर में सभी व्यापारियों से मिठाई के डब्बे पर खाली डिब्बे का वजन भी अंकित करने की अपील की थी। उन्होंने ही खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग के समक्ष इस मामले को उठाया था।
 
क्या होगा उपभोक्ताओं को फायदा : अमोलिया ने बताया कि डिब्बे पर ही मिठाई और खाली डिब्बे का वजन लिखा होने से उपभोक्ताओं को मिठाई पूरी मात्रा में प्राप्त होगी। उन्होंने का कि इंदौर में कुछ मिठाई व्यापारी पहले ही इस तरह का प्रयोग शुरू  कर चुके हैं। जल्द ही यह व्यवस्था पूरे प्रदेश में लागू हो सकती है। इससे व्यापारियों और ग्राहकों के बीच होने वाले विवादों में भी  कमी आएगी।
 
मध्यप्रदेश मिठाई नमकीन उत्पादक व्यापारी एसोसिएशन के सचिव अनुराग बोथरा ने कहा कि ग्राहक संतुष्‍टि की दिशा में यह बड़ा कदम है। हम प्रयास कर रहे हैं कि इस संबंध में जल्द ही ऑर्डर भी निकलें। हमने सभी से इस संबंध में कदम उठाने का आग्रह किया है। डिजाइनर्स और प्रिंटर्स से भी हमने इस संबंध में बात की है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

भारत ने मध्यम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण