Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मौसम अपडेट : भोपाल में बिना बरसे ही निकल गए बादल, खरगोन को मिली गर्मी से राहत

webdunia
बुधवार, 24 जुलाई 2019 (21:02 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में आज शाम घने बादल छा गए और गर्जन तर्जन के बीच बूंदाबांदी शुरू हुई थी कि अचानक चली तेज हवाओं से बिना बरसे ही बादल आगे निकल गए। इससे शहर में बूंदाबांदी जरूरी हुई तथा भोपाल के उपनगर बैरागढ़ में 1.7 मिमी वर्षा हुई।
 
इससे पूर्व दोपहर में गर्मी और धूप के तेवर और तीखे हो गए थे तथा कल की तुलना में तापमान कुछ और बढ़ा। अधिकतम तापमान 36.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ जो सामान्य से 6.6 डिग्री ज्यादा है। यह जुलाई में अब तक का सबसे ज्यादा तामपान है। न्यूनतम तापमान भी सामान्य से 4.5 डिग्री अधिक 27.8 डिग्री अंकित हुआ है। प्रदेश में सबसे अधिक तापमान 39.7 डिग्री ग्वालियर में रिकार्ड हुआ है।
 
शिवपुरी में हल्की वर्षा से फसलों को राहत : मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले के ग्रामीण अंचल में लंबे अंतराल के बाद कल देर रात बूंदाबांदी हुई तथा कुछ जगह हल्की बारिश हुई जिससे मुर्झा रही फसलों को कुछ राहत मिली। हालांकि शहर में पानी नहीं बरसा, जिसके कारण गर्मी एवं उमस से लोग बेहाल हैं। जिले के घोरावल, भानगढ़, धौलागढ़, सुभाषपुरा, बैराड़, गणेश खेड़ा आदि में मंगलवार देर रात हल्की बारिश हुई। फलस्वरूप फसलों को थोड़ा सहारा मिला।
 
कृषि विभाग के अधिकारियों का कहना है कि अगर जल्दी पानी नहीं बरसा तो फसलों के सूखने का खतरा है। मौसम की बेरुखी को लेकर किसान चिंतित हैं। उधर शिवपुरी शहर में भी फिर से पानी का संकट शुरू हो गया है। सिंध परियोजना का पानी एक हफ्ते से अधिक समय से बंद है तथा जिन नलकूपों में थोड़ा बहुत पानी बारिश से आया था उसके भी तेज गर्मी के कारण सूखने का खतरा है।
 
बारिश नहीं होने से श्योपुर में बढ़ी गर्मी : मध्यप्रदेश के श्योपुर जिले में मानसून की बेरूखी और राजस्थान से आने वाली गर्म हवाओं के प्रभाव से क्षेत्र के किसानों और आमजनों का जनजीवन प्रभावित हो रहा है।
 
मौसम केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार कल श्योपुर में तापमान 38 डिग्री सेल्सियस था जबकि आज 37 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। यहां होने वाली वर्षा का औसत पिछली जुलाई के मुकाबले काफी कम है। इससे खरीफ की फसल को पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं मिल पा रहा है। क्षेत्र में 20 दिन से बारिश नहीं हुई है। श्योपुर शहर में 20 दिन में मात्र 20 मिलीमीटर पानी गिरा है। राजस्थान की तरफ से आ रही गर्म हवायें तापमान को बढ़ा रही है।
 
यहां बरसा पानी : मौसम विज्ञान भोपाल केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक आर आर त्रिपाठी ने बताया कि इस बीच आज सीधी में 24 मिमी, खरगोन में 16 मिमी, सतना में 6 मिमी, जबलपुर में 4.2 मिमी, खजुराहो में 1.6 मिमी, इंदौर में 0.4 मिमी, नौगांव में 0.2 मिमी तथा गुना में बूंदाबांदी हुई। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

खेल उन्होंने शुरू किया खत्म हम करेंगे, फिर सामने भाजपा नेता का बड़बोला बयान