मंदसौर नगर पालिका अध्यक्ष प्रहलाद बंदवार की गोली मारकर हत्या, आरोपी भाजपा नेता

भोपाल। भोपाल। मंदसौर में नगर पालिका अध्यक्ष और बीजेपी के वरिष्ठ नेता प्रहलाद बंदवार की गुरुवार रात सरेआम गोली मारकर हत्या कर दी गई है। बीजेपी नेता की बीच बाजार इस तरह हत्या से पूरे मंदसौर में हड़कंप मच गया। नगर पालिका अध्यक्ष को गोली मारने की खबर मिलते ही बड़ी संख्या में बीजेपी नेता घटनास्थल और अस्पताल पहुंचे और जमकर हंगामा किया।
 
 
नगर पालिका अध्यक्ष प्रहलाद बंदवार को बुलेट से आए बदमाशों ने उस वक्त मौत के घाट उतार दिया जब वो सहकारी बैंक चौराहे पर अपने साथियों के साथ खड़े थे। बुलेट से आए बदमाशों ने पास से बीजेपी नेता पर ताबड़तोड़ फायरिंग की, जिसमें एक गोली बीजेपी नेता के सिर पर लगी। गोली लगने के बाद समर्थक बीजेपी नेता को लेकर अस्पताल पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। सरेआम बीजेपी नेता की इस तरह हुई हत्या से सूबे की सियासत गर्मा गई है।
 

शिवराज ने कमलनाथ सरकार को घेरा
पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने घटना पर दुख जताते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ को एक पत्र लिखा है। अपने पत्र में शिवराज सिंह ने सरकार को घेरते हुए लिखा है कि कांग्रेस सरकार आते ही अपराधियों के हौसले बुलंद हो गए हैं और सूबे में दो दिन में दो हत्या की घटनाओं से लगता है कि कांग्रेस की सरकार आते ही आपराधिक तत्वों को राजनैतिक संरक्षण मिलना शुरू हो गया है। इसके साथ शिवराज ने बीजेपी नेता की हत्या की उच्चस्तरीय जांच कराए जाने और अपराधियों की तत्काल गिरफ्तारी कर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

हत्यारा निकला भाजपा नेता :
प्रहलाद बंदवार की गोली मारकर हत्या के मामले का आरोपी भाजपा का स्थानीय नेता मनीष बैरागी है, जिसकी गिरफ्तारी के प्रयास तेज कर दिए गए हैं। पुलिस अधीक्षक तुषारकांत विद्यार्थी के अनुसार पुलिस ने कुछ ही घंटे में आरोपी के बारे में जानकारी हासिल कर उसकी गिरफ्तारी के प्रयास तेज कर दिए हैं। उसके खिलाफ पहले से ही हत्या, हत्या के प्रयास, आर्म्स एक्ट और नारकोटिक्स के लगभग आधा दर्जन प्रकरण दर्ज हैं।
 
पुलिस सूत्रों का कहना है कि देर शाम वारदात को अंजाम देने के पहले बैरागी की स्थानीय सहकारी बैंक के पास एक दुकान पर बंदवार से मुलाकात हुई। इस दौरान दोनों के बीच किसी बात को लेकर विवाद हुआ और मनीष ने उन्हें गोली मार दी। इस वजह से उनकी मौके पर ही मौत हो गई। इस घटना के बाद आरोपी अपना दुपहिया वाहन छोड़कर भाग निकला। इस मामले की विस्तार से जांच की जा रही है। लेकिन प्रारंभिक तौर पर किसी जमीन मामले को लेकर विवाद सामने आया है। 
 
इस बीच शहर में आज इस हत्याकांड के विरोध में आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग को लेकर नगर बंद रखा गया है। ऐहतियातन पुलिस प्रशासन भी सक्रिय है और पुलिस जवानों को तैनात किया गया है।
 
दूसरी ओर बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने भी घटना को लेकर सरकार को जमकर घेरा है। वहीं बीजेपी नेता की हत्या पर गृहमंत्री बाला बच्चन ने निंदा करते हुए जांच के आदेश दे दिए हैं। हत्याकांड के बाद मंदसौर में बड़ी संख्या में पुलिसबल तैनात कर दिया गया है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह बीजेपी नेता के परिजनों से मिलने मंदसौर पहुंच रहे हैं।

 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख RSS का मोदी सरकार से सवाल- क्‍या अयोध्‍या में राम मंदिर 2025 में बनेगा?