मध्यप्रदेश में 4 दिन में 2 बीजेपी नेताओं की हत्या, दहशत का माहौल...

सोमवार, 21 जनवरी 2019 (12:33 IST)
भोपाल। मध्य प्रदेश में रविवार को एक और बीजेपी नेता की हत्‍या हो गई। बीते चार दिनों में बीजेपी के ये दूसरे नेता की हत्या है। इन हत्याओं के बाद प्रदेश की राजनीति गर्मा गई है। इन हत्याओं के बाद बीजेपी ने कांग्रेस पर निशाना साधा है। बीजेपी जहां प्रदेश में गुंडाराज की वापसी का आरोप लगा रही है, वहीं कांग्रेस का कहना है कि ये हत्याएं आपसी रंजिश के कारण हुई हैं।


बड़वानी जिले में रविवार को सुबह की सैर पर निकले भारतीय जनता पार्टी के बलबाड़ी मंडल अध्यक्ष मनोज ठाकरे की नृशंस हत्या कर दी गई थी। उनके सिर पर पत्थर से प्रहार किया गया था। उनका शव खेत में मिला था। इससे पहले गुरुवार शाम बीजेपी नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई। मंदसौर नगर पालिका के अध्यक्ष प्रहलाद बंधवार को अज्ञात मोटरसाइकल सवार ने सिर में गोली मारकर हत्या कर दी थी। इंदौर में भी कारोबारी संदीप तेल की दिनदहाड़े हत्या कर दी गई थी। बताया जाता है कि संदीप भी भाजपा से जुड़ा हुआ था।
 
पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इन घटनाओं के बाद कमलनाथ सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरने की चेतावनी दी है। शिवराज सिंह ने कहा कि कांग्रेस सिर्फ परिवर्तन की बात करती है, मगर क्या यही परिवर्तन है। हत्याओं का दौर शुरू हो गया है। पहले इंदौर, फिर मंदसौर में बीजेपी नेता की हत्या हुई। अब बड़वानी में एक और बीजेपी नेता की हत्या हुई है। अपराधी आज बेखौफ घूम रहे हैं।
 
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी से जुड़े लोगों पर हमलों के बाद भाजपा द्वारा सरकार को घेरने के बीच पलटवार करते हुए कहा कि जिन्होंने अपने 15 साल के कार्यकाल में प्रदेश को अपराध प्रदेश बनाया, वे अब कांग्रेस की एक महीने की सरकार पर अपराध को लेकर राजनीति कर रहे हैं।

कमलनाथ ने ट्विटर पर लिखा कि कांग्रेस सरकार प्रदेश के हर नागरिक को सुरक्षा देने के लिए प्रतिबद्ध है। यह सरकार का कर्तव्य है। चाहे भाजपा के आपसी अंतर्कलह के विवाद हों या अन्य कारण से सामने आए विवाद हों, हमारी सरकार अपने कर्तव्यों का पूरा पालन करेगी।

कमलनाथ ने कहा कि यह बेहद शर्मनाक है कि जिन्होंने अपने 15 वर्ष के कार्यकाल में प्रदेश को अपराध प्रदेश बनाए रखा, जो अपनी सरकार में अपराध रोकने में पूरी तरह से नाकाम रहे, जिनके कार्यकाल में अपराधों में प्रदेश देश में शीर्ष पर रहा। वे हमारी एक महीने की सरकार को अपराध को लेकर कोस रहे हैं, राजनीति कर रहे हैं।

प्रदेश में पिछले एक सप्ताह में इंदौर, मंदसौर और बड़वानी जिलों से अपराध की बड़ी खबरें सामने आई हैं। इंदौर में एक कारोबारी की हत्या के बाद मंदसौर में नगर पालिका अध्यक्ष प्रहलाद बंधवार की हत्या और बड़वानी में एक भाजपा मंडल अध्यक्ष मनोज ठाकरे की हत्या के बाद भाजपा कांग्रेस सरकार पर हमलावर हो गई है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख बड़गाम जिले में सुरक्षाबलों ने ढेर किए तीन आतंकी