Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मध्यप्रदेश में राहुल गांधी करेंगे कांग्रेस का चुनावी शंखनाद, जानें भारत जोड़ो यात्रा का क्या है सियासी कनेक्शन?

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में मालवा-निमाड़ पर फोकस कर रही कांग्रेस

हमें फॉलो करें webdunia
webdunia

विकास सिंह

सोमवार, 31 अक्टूबर 2022 (15:10 IST)
मध्यप्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव होने को लेकर अब चुनावी पारा गर्माने लगा है। सत्ता में वापसी की कोशिश में जुटी कांग्रेस अब राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के जरिए प्रदेश में अपना चुनावी शंखनाद करने की तैयारी में है। अब तक की खबरों के मुताबिक कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा 20 नवंबर के आसपास मध्यप्रदेश में एंट्री करेगी। चुनाव से ठीक पहले मध्यप्रदेश में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का रूट क्या होगा,इस पर इस सप्ताह आधिकारिक मोहर लग सकती है।

अब तक के तय कार्यक्रम के मुताबिक भारत जोड़ो यात्रा बुरहानपुर से मध्यप्रदेश में प्रवेश करेगी और यात्रा मध्यप्रदेश में 13 दिन रहेगी। अब तक के कार्यक्रम के मुताबिक भारत जोड़ो यात्रा प्रदेश में 400 किलोमीटर के करीब सफर तय करेगी। राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा के दौरान 30 से अधिक विधानसभा और आधा दर्जन लोकसभा सीटों को कवर करेंगे।

राहुल की यात्रा में मालावा-निमाड़ पर फोकस?-मध्यप्रदेश में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में कांग्रेस मालवा-निमाड़ पर खासा फोकस किया है। कांग्रेस मालवा निमाड़ में राहुल की यात्रा के जरिए सियासी माइज लेने में जुट गई है। मालवा-निमाड़ जो भाजपा के गढ़ के रूप में देख जाता है वहां 2018 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने बेहतर प्रदर्शन किया था। मध्यप्रदेश की 230 विधानसभा सीटों में से मालवा-निमाड की 67 विधानसभा सीटें आती है। 2018 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 67 सीटों में से 35 सीटों पर जीत हासिल की थी और भाजपा के खाते में केवल 28 सीटें आई थी।

अगर जिलों के हिसाब से देखे तो 2018 विधानसभा चुनाव में खरगौन जिले में भाजपा एक भी सीट नहीं जीत पाई थी तो बड़वानी में केवल एक सीट पर विजय मिली थी। इंदौर में भी कांग्रेस ने चार सीटें जीती थीं। वहीं धार जिले की सात में से छह सीटों पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की थी।

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा इंदौर जिले की महू विधानसभा सीट,राऊ विधानसभा सीट, सांवेर विधानसभा सीट के साथ  इंदौर की एक नंबर, तीन नंबर और चार विधानसभा क्षेत्र से गुजरेगी। अब तक तय कार्यक्रम के मुताबिक राहुल गांधी महू में बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के साथ इंदौर में अहिल्या बाई होल्कर की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के साथ ऐतिहासिक राजवाड़ा पर लोगों से संवाद करेंगें।

वहीं इंदौर से सटे उज्जैन के तराना, घट्टिया, उज्जैन दक्षिण और उज्जैन उत्तर विधानसभा क्षेत्र में भी राहुल गांधी पदयात्रा करेंगे। बुरहानपुर से मध्यप्रदेश में एंट्री करने वाली भारत जोड़ो यात्रा जिले की दोनों विधानसभा सीटों नेपानगर और बुरहानपुर से होते हुए यात्रा खंडवा, खरगौन, बड़वानी, धार, इंदौर, उज्जैन और आगर मालवा के सुसनेर विधानसभा से होते हुए राजस्थान में प्रवेश करेगी।

राहुल करेंगे कांग्रेस का चुनावी शंखनाद?- मध्यप्रदेश में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी प्रदेश में कांग्रेस का चुनावी शंखनाद भी करेंगे। यात्रा के दौरान राहुल उज्जैन में बाबा महाकाल की पूजा अर्चना भी करेंगे। अब तक के तय कार्यक्रम के मुताबिक राहुल गांधी उज्जैन में बाबा महाकाल के दर्शन करेंगे और एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। उज्जैन में सभा के लिए कांग्रेस नेताओं ने तैयारियां भी शुरू कर दी है।

उज्जैन में राहुल गांधी की जनसभा को कांग्रेस का प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए चुनावी शंखनाद माना जा रहा है। दरअसल पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाकाल लोक का लोकार्पण कर उज्जैन में एक बड़ी सभा के जरिए एक तरह से भाजपा के चुनावी अभियान का शंखनाद किया था। इसके बाद अब राहुल गांधी भी उज्जैन में बाबा महाकाल के दर्शन कर चुनावी सभा कर कांग्रेस के चुनावी अभियान का शंखनाद कर सकते है। उज्जैन में होने वाली सभा में राहुल गांधी के साथ प्रियंका गांधी, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल, राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत भी शामिल हो सकते है।

कांग्रेस चलेगी सॉफ्ट हिंदुत्व का कार्ड?- राहुल गांधी मध्यप्रदेश में अपनी भारत जोड़ो यात्रा के जरिए कांग्रेस के सॉफ्ट हिंदुत्व के कार्ड को भी चलेंगे। राहुल गांधी की मां नर्मदा की पूजा अर्चना के साथ महाकाल दर्शन को इसी से जोड़कर देखा जा रहा है। 2018 के विधानसभा चुनाव के दौरान भी कांग्रेस ने मध्यप्रदेश में सॉफ्ट हिंदुत्व का कार्ड चला था और चुनाव नतीजें उसके पक्ष में गए थे। जैसे-जैसे 2023 का विधानसभा चुनाव नजदीक आता जा रहा है कांग्रेस महाकाल लोक के निर्माण का श्रेय लेने के साथ राम वन गमन पथ को लेकर भी भाजपा पर हमलावर है।  

वहीं राहुल गांधी की यात्रा के मध्यप्रदेश में आने से पहले कांग्रेस के नेता राहुल गांधी की तुलना भगवान राम से करने लगे है। कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी ने राहुल गांधी की तुलना भगवान राम से करते हुए कहा कि भगवान राम ने भी पदयात्रा निकालने का काम किया था। भगवान राम अयोध्या से निकले और सरयू नदी को पार किया, वनवास की ओर गए और जब जंगल से निकल कर आए तब वह मर्यादा पुरुषोत्तम राम बनकर आए। कुणाल चौधरी ने कहा कि राहुल गांधी भी भारत जोड़ो यात्रा के जरिए इस देश में घृणा और नफरत को मिटाने वंचितों को एक साथ इकट्ठा करने का काम कर रहे हैं. सभी लोग इकट्ठा होंगे और राहुल गांधी जी के साथ जुड़ेंगे।

मध्यप्रदेश में भारत जोडों यात्रा के रूट को तय करने और यात्रा को सफल बनाने के लिए प्रदेश कांग्रेस के बड़े चेहरों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। राहुल गांधी के साथ पूरी यात्रा में शामिल जीतू पटवारी के साथ  पीसी शर्मा, सज्जन सिंह वर्मा,  मुकेश नायक, अरूण यादव,बाला बच्चन, रवि जोशी यात्रा का रूट तय करने के साथ पूरी यात्रा से जुड़ी तैयारियों के देखेंगे।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Gujarat Morbi Cable Bridge Collapse : कल मोरबी ब्रिज जाएंगे PM मोदी, पीड़ितों के परिजनों से करेंगे मुलाकात, Live updates