विधानसभा अध्यक्ष के लिए विजय शाह होंगे भाजपा के उम्मीदवार, कांग्रेस की होगी अग्नि परीक्षा

भोपाल। मध्यप्रदेश में बीजेपी ने सदन में कांग्रेस को घेरने के लिए आखिरकार अपना दांव चला दिया है। बीजेपी ने विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव लड़ने का फैसला किया है और पार्टी के सीनियर विधायक और पूर्व मंत्री विजय शाह विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए बीजेपी के उम्मीदवार होंगे।

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि बीजेपी विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव लड़ेगी और पार्टी के सीनियर विधायक विजय शाह पार्टी के उम्मीदवार होंगे।

आज विधानसभा सत्र के पहले दिन बीजेपी ने अपने पत्ते खोल दिए। बीजेपी के विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव लड़ने से विधानसभा सत्र में अब कांग्रेस के सामने चुनौतियां बढ़ गई हैं।

मंगलवार को विधानसभा अध्यक्ष के लिए होने वाले चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपने सीनियर विधायक एनपी प्रजापति को अपना उम्मीदवार बनाया है।

बीजेपी की ओर से अध्यक्ष पद के लिए विजय शाह के लिए चुनाव लड़ने से अब सदन में फ्लोर टेस्ट का रास्ता साफ होगा। अध्यक्ष पद के लिए होने वाली वोटिंग के लिए कांग्रेस के सामने अपने सहयोगी दलों को एकजुट रखना चुनौतीपूर्ण होगा।

बहरहाल सदन का मौजूदा सियासी गणित अभी कांग्रेस के पक्ष में है। अगर बात करें सदन के मौजूदा सियासी समीकरणों की तो कांग्रेस के खुद के 114 विधायक सदन में हैं।

सपा से एक, बसपा के दो और चार निर्दलीय विधायकों के समर्थन से सदन में सरकार के पक्ष में कुल विधायकों की संख्या 121 है। बीजेपी 109 विधायकों के साथ विधानसभा में विपक्ष में मौजूद है। अगर आंकड़े देखे जाएं तो कांग्रेस को विधानसभा अध्यक्ष के लिए कोई मुश्किल का सामना नहीं कर पड़ेगा।

बीजेपी के इस दांव के बाद अब सबकी नजर मंगलवार को विधानसभा अध्यक्ष के लिए होने वाले चुनाव पर टिक गई है। अब देखना होगा कि विधानसभा में फ्लोर पर कांग्रेस बीजेपी को मात देकर अपना अध्यक्ष चुन लेती है या मध्यप्रदेश विधानसभा में फिर कोई इतिहास बनता हुआ दिखाई देगा।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख यह नया हिन्दुस्तान है, ये टीम इंडिया घर में घुसकर मारती है, ऑस्ट्रेलिया में इतिहास रचा