महात्मा गांधी की हत्या के षड्‍यंत्र में शामिल थे वीर सावरकर, अंग्रेजों से मांगी थी माफी : दिग्विजय सिंह

गुरुवार, 17 अक्टूबर 2019 (11:45 IST)
मध्‍यप्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री दिग्‍विजय सिंह (Digvijay Singh) एक बार फिर विवादित बयान दिया है। भाजपा द्वारा महाराष्ट्र चुनाव जीतने पर वीर सावरकर (Veer Savarkar) को भारत रत्न देने की घोषणा पर सिंह का यह बयान आया है। कांग्रेस नेता ने कहा कि महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की हत्या के षड्यंत्र में वीर सावरकर शामिल थे।
 
ALSO READ: महाराष्‍ट्र चुनाव: भाजपा ने खेला 'वीर सावरकर' कार्ड, भारत रत्न देने की मांग
 
सिंह ने कहा कि वीर सावरकर के जीवन के दो पहलू थे- पहला उनका जेल से लौटने के बाद आजादी की लड़ाई में भागीदारी करना है, तो दूसरे पहलू में उनका राष्ट्रपिता महात्‍मा गांधी (Mahatma Gandhi) की हत्या में शामिल होना।
 
दिग्विजय सिंह ने कहा कि हमें भूलना नहीं चाहिए कि महात्मा गांधी की हत्या करने वाले षड्यंत्रकारियों की सूची में सावरकर का नाम भी था। वे तो माफी मांग कर लौट आए थे।
 
ALSO READ: दिग्विजय सिंह का बयान, हिन्दुओं का कट्टरपंथीकरण उतना ही खतरनाक, जितना मुस्लिमों का
सिंह ने कहा कि भाजपा एक ऐसे व्यक्ति को भारत रत्न देने की मांग कर रही है, जिस पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या में शामिल होने का आरोप है।
 
महाराष्ट्र चुनावों के लिए जारी अपने घोषणा-पत्र भाजपा ने कहा है कि अगर राज्य में एक बार फिर उनकी सरकार बनी तो वह वीर सावरकर को भारत रत्न देने के लिए केंद्र को प्रस्ताव भेजेंगे। भाजपा की इस घोषणा के बाद विपक्षी पार्टियां भाजपा पर निशाना साध रही हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख PMC घोटाला : 18 संपत्तियां बेचकर 4,355 करोड़ रुपए चुकाने के लिए तैयार HDIL के प्रमोटर