Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

डलहौजी : मन मोहने वाला वाला हिल स्टेशन, एक बार जरूर जाएं

हमें फॉलो करें webdunia

अनिरुद्ध जोशी

Photo Source : hpchamba gov
हिल स्टेशन को मनोरम पहाड़ी इलाका कहते हैं। भारत में पहाड़ियों की विशालतम, लंबी, सुंदर और अद्भुत श्रृंखलाएं हैं। एक और जहां विध्यांचल, सतपुड़ा की पहाड़ियां है, तो दूसरी ओर आरावली की पहाड़ियां। कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक भारत में एक से एक शानदार पहाड़ हैं, पहाड़ों की श्रृंखलाएं हैं और सुंदर एवं मनोरम घाटियां हैं। गर्मियों में यहां पर घूमने बहुत ही यादगार और शानदार होता है। यदि आप हनीमून मनाने के सोच रहे हैं तो हमारे बताए गए हि स्टेशननों में से किसी एक पर जरूर जाएं। आओ इस बार जानते हैं भारत के टॉप हिल स्टेशनों में से एक डलहौजी हिल स्टेशनन के बारे में रोचक जानकारी।

 
डलहौजी हिल स्टेशन ( Dalhousie Hill Station ) :
 
1. हिमाचल का खूबसूरत हिल स्टेशन : डलहौजी हिमाचल प्रदेश का खूबसूरत हिल स्टेशन है। ये जगह दिल्ली से 485 किमी दूर है और यहां का नजदीकी रेलवे स्टेशन पंजाब का पठानकोट है। पठानकोट से उतरकर बस या टैक्सी से आप यहां जा सकते हैं। कांगड़ा रेलवे स्टेशन से 18 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं डलहौजी। चंडीगढ़ होते हुए कांगड़ा पहुंच सकते हैं। यहां की दूरी चंडीगढ़ से 239 किमी, कुल्लू से 214 किमी और शिमला से 332 किमी है। चंबा यहां से 192 किलोमीटर दूर है। 
 
2. लॉर्ड डलहौजी के नाम पर रखा इसका नाम : इस जगह की खूबसूरती से प्रभावित होकर तत्कालीन अंग्रेज अफसर लॉर्ड डलहौजी ने इसे 18वीं सदी में वहां के राजा से खरीद लिया था और उसका नाम खुद के नाम पर ही रख दिया था। 
 
3. किसी भी मौसम में जाएं : डलहौजी चंबा घाटी का हिस्सा है। सर्दी के मौसम में यहां बर्फ का मजा लिया जा सकता है। भयंकर गर्मी पड़ रही होती है तो यहां का तापमान भी 35 डिग्री तक पहुंच जाता है। यहां दर्जनों ऐसे स्थल है जो मन को सुकून देने वाले हैं। यहां आने का सबसे अच्छा समय अप्रैल से जून और सितंबर-अक्टूबर का माह होता है।
 
4. खजीयार झील : डलहौजी से ढाई किमी दूर खजीयार झील है, जिसका आकार बेहद आकर्षक तश्तरीनुमा है। इसे देखना बहुत ही अद्भुत है।
 
5. पंजपुला : डलहौजी से 2 किमी दूर है-पुंजपुला यहां का नजारा देखने लायक होता है। यहाँ छोटे-छोटे पाँच पुलों के नीचे से बहता पानी पर्यटकों को अपनी ओर खींच लेता है। वहीं पास में खूबसूरत झरना भी है।
 
6. सुभाष बावली : यहां के जीपीओ से करीब डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर स्थित है सुभाष बावली। आप यहां से बर्फ से ढंकी चोटियों देख सकते हैं।
 
7. बड़ा पत्थर : डलहौजी से मात्र 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित अहला गांव में भुलावनी माता का मंदिर है।
 
8. बकरोटा हिल्स : इस हिल्स पर से आप पहाड़ी वादियों का खूबसूरत नजरों का आनंद ले सकते हैं।
 
9. कालाटोप : करीब 9 किलोमीटर की दूरी पर स्थित कालाटोप में छोटीसी वाइल्ड लाइफ सेंचुरी है। यहां जंगली जानवरों को बहुत ही करीब से देखा जा सकता है।
 
10. धाइनकुंड : डलहौजी से करीब 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है धाइनकुंड। यहां से व्यास, चिनाब और रावी नदियों का विहंगम दृश्य दिखाई देता है।
 
11. सतधारा : यहां के पानी को पवित्र माना जाता है। हालांकि इस पानी में कई तरह के खनिज पदार्थ होने की वजह से यह दवाई का काम करता है।
 
12. डायन कुंड : डायन कुंड इस पूरे इलाके की खूबसबरती में चार चांद लगा देती है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

तीसरी लहर में सास का अरमान : मजेदार चुटकुला