Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

ट्रेवल : मसूरी जाना चाहते हैं तो जानिए कहां रुके, क्या देखें और क्या न करें

हमें फॉलो करें webdunia

अनिरुद्ध जोशी

शुक्रवार, 26 मई 2023 (11:04 IST)
Mussoorie tourism places : भारत के टॉप हिल स्टेशनों में से एक मसूरी हिल स्टेशन हर कोई जाना चाहेगा। मसूरी हिल स्टेशन उत्तराखंड राज्य का पर्वतीय नगर है।  इसे पहाड़ों की रानी कहा जाता है जो गंगोत्री का प्रवेश द्वार भी है। मसूरी के एक ओर से गंगा नजर आती है तो दूसरी ओर से यमुना नदी। 
 
मसूरी में क्या देखने लायक है | Mussoorie Hill Station :
1. सूंदर पहाड़ और प्रकृति : यहां पर दुर्लभ वनस्पतियां और जीव जंतु पाए जाते हैं। यहां के ऊंचे ऊंचे पहाड़ और हरी भरी छटा देखते ही बनती है। पतली घुमावदार सड़कें, हरे-भरे पेड़, दूर तक नजर आती ऊंची-नीची पहाड़ियां, एक ओर दूर नजर आते बर्फ से ढंके सफेद पहाड़, दूसरी ओर पहाड़ों की गोद में बने छोटे-छोटे घर यानी देहरादून शहर। यहां आकर कोई भी रोमांचित हो सकता है। हनीमून मनाने के लिए यह आदर्श स्थान है।
 
2 . कैंप्टी फॉल्स : मसूरी से 15 किलो मीटर की दूरी पर यमुनोत्री रोड पर कैंप्टी फॉल्स स्थित है। ऊंची पहाड़ियों से घिरा एक झरना है। मंसूरी आने वाले सैलानी इस झरने को देखने के लिए जरूर आते हैं। यहां एक छोटी सी कृत्रिम झील का निर्माण कराया गया है। म्यूनिसिपल गार्डन भी देखने लायक है। विभिन्न प्रकार के फूलों से सुसज्जित गार्डन लोगों के आकर्षण का केंद्र बना रहता है। कंपनी बाग भी आकर्षण का केंद्र है। 
 
3. मॉल रोड : मसूरी शहर 1822 से बसना शुरू हुआ और आज तक लोगों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। यहां का मॉल रोड घूमने और खरीदारी करने के लिए अच्छी जगह है। 
 
4. गन हिल : मॉल रोड आने वाले सैलानी यहां की गन हिल पहाड़ी देखने के लिए जरूर जाते हैं। स्वतंत्रता प्राप्ति से पूर्व 1947 में लोगों को रोकने के लिए फायर करने के लिए इस पहाड़ी पर एक गन लगाई गई थी। तभी से इसका नाम गन हिल पड़ गया। लगभग 20 मिनट में पहाड़ी की चोटी पर पहुंचा जा सकता है। रोप-वे द्वारा 400 मीटर की चढ़ाई चढ़ने की व्यवस्था भी है। यहां से हिमालय पर्वत श्रृंखला के बंदेरपंच, श्रीकंठ, पीठवाड़ा व गंगोत्री के बेहतरीन नजारे देखे जा सकते हैं।
 
5. नाग मंदिर : नाग देवता का मंदिर लोगों की आस्था का केंद्र बना हुआ है। मसूरी से छह किलो मीटर की दूरी पर स्थित इस मंदिर में हमेशा पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है। यहां से दून वैली और मसूरी का नजारा देखना बेहद अच्छा लगता है। 
 
6. कैमल बैक रोड : सुबह-शाम घूमने के लिए निकलने वालों के लिए कैमल बैक रोड पसंदीदा स्थान है। मसूरी आने वाले सैलानी यहां शाम के समय छिपता हुआ सूरज यानी 'सनसैट' देखने के लिए जरूरी आते हैं।
 
7. लाल टिब्बा : मसूरी लाइब्रेरी बस स्टैंड से 5.5 किलोमीटर की दूरी पर लंढौर क्षेत्र में स्थित यह स्थान मसूरी का सबसे ऊंचा स्थान है, जिसे रेट हिल भी कहते हैं। यहां पर सूर्योदय और सूर्यास्त को देखना अद्भुत है। यहां पर भारतीय सैन्य सेवाओं का एक शिविर, दूरदर्शन के टॉवर और ऑल इंडिया रेडियो भी हैं।
 
8. कंपनी बाग : मसूरी के कंपनी बाग को म्युनिसिपल गार्डन भी कहते हैं जो पहले बोटैनिकल गार्डन के नाम से जाना जाता था। यह मसूरी लाइब्रेरी बस स्टैंड से 3.5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह गार्डन पिकनिक स्थलों में से एक है।
 
9. हाथीपांव : एक पहाड़ी के शिखर पर घने जंगल में बसा यह क्षेत्र सबसे शांत और प्राकृतिक नजारों से भरपूर है। प्रकृति और एडवेंचर प्रेमियों के लिए यह एक आदर्श स्थान है। यहां से हिमालय के लुभावने दृश्य का आनंद लिया जा सकता है।
webdunia
कब जाना चाहिए मसूरी : गर्मी के मौसम में दिन के समय हल्की गर्मी जरूर हो सकती है लेकिन यहां की मदमस्त कर देने वाली सुबह और शाम किसी को भी लुभा सकती है। यहां किसी भी समय बारिश का मौसम बन जाता है। यूं तो पूरे साल यहां का मौसम सुहाना रहता है लेकिन अप्रैल से जून और सितंबर से नवंबर के बीच आने वालों को और भी अच्छा मौसम मिलता है।
 
ठहरने की जगहें :-
- यदि आप मसूरी घूमने का मन बना रहे हैं और आपने शनिवार या रविवार या दोनों दिन के लिए पहले से मसूरी के होटल में बुकिंग नहीं कराई है, तो आपको मसूरी में एंट्री नहीं मिलेगी। यहां पर रुकने के लिए कई स्थान है जिन्हें आप ऑनलाइन बुक करा सकते हैं।
 
- मसूरी में मॉल रोड और गांधी चौक मसूरी का ऐसा पॉइंट है, जहां पर काफी अच्छे बजट में ठहरने के लिए होटल मिल जाएगा। यहां पर खाने-पीने की भी काफी अच्छी सुविधा उपलब्ध होती है।
 
- इसी जगह पर आपको मसूरी घूमने के लिए बाइक या कार भी किराए पर मिल जाती है।
 
कैसे पहुंचे मसूरी : 
1. यह देहरादून से 35 किलोमीटर और दिल्ली-एनसीआर से लगभग 250 किलोमीटर दूर है।
2. देहरादून पहुंचने के बाद आप यहां से बस या प्राइवेट वाहन से यहां पहुंच सकते हैं।
3. देहरादून और ऋषिकेश मसूरी से काफी नजदीक पड़ते हैं।
4. देश के लगभग हर बड़े शहरों से देहरादून के लिए बस मिल जाती हैं।
5. देहरादून आप फ्लाइट से भी पहुंच सकते हैं।
 
बेस्ट  ट्रैवलिंग टिप्स | Best  Traveling Tips:
 
1. गर्म कपड़े : सर्दी के हिसाब से आप स्वेटर, जर्किन, कोट, मफरल, टोपा, हैंड ग्लब्स, इनर वियर आदि गर्म कपड़े जरूर रख लें।
 
2. कंबल और शॉल : जितने लोग उतने हल्के फुल्के कंबल और शॉल जरूर रखकर ले जाएं।
 
3. हेल्थ किट : सर्दी के मौसम में बहुत जल्दी सर्दी जुकाम खांसी और बुखार हो सकता है। ऐसे में जरूरी दवाइयां ले जाएं। जरूरी दवाइयों में बुखार, एलर्जी, सर्दी जुकाम, एसिडिटी, सिरदर्द आदि की टैबलेट रख लें। 
 
4. मजबूत जूते : ऐसे जूते पहनें जो मजबूत होने के साथ ही मौसम की मार झलने वाले हों। जिनपर मौसम का कोई असर न होता है। पहाड़ पर चढ़ने लायक और पैरों को कांटों से बचाने वाले अच्छी ग्रीप से जूते रखें।
 
5. कैश जरूर रखें : ट्रिप के लिए तय बजट से कुछ ऊपर ही रुपए कार्ड में रखें, क्योंकि आपातकालीन स्थिति बताकर नहीं आती है। इमरजेंसी के लिए कैश जरूर रखें।
 
6. सनस्क्रीन क्रीम : यह जीतना गर्मी में जरूरी है उतना ही सर्दियो में भी।
 
7. स्मार्ट वॉच : यह भी बहुत काम की है।
 
8. ड्राई फूड : यह आपकी इम्यूनिटी बढ़ाने के साथ ही भोजन की कमी के दौरान काम आते हैं। 
 
9. माचिस : यह आग जलाकर ताप सेंकने के काम आ सकती है। 
 
10. अन्य वस्तुएं : पोर्टेबल चार्जर, दो मोबाइल रखें, फेस कवर, सनग्लास एण्ड हैट, रिचार्जेबल टॉर्च, पानी की बोतल आदि।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

गोरी नागोरी संग बहन की शादी में हुई मारपीट, पुलिसवालों ने सेल्फी लेकर भेजा घर