मप्र में 28 नवंबर को मतदान के दिन 1.80 लाख सुरक्षाकर्मी सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालेंगे

सोमवार, 26 नवंबर 2018 (22:02 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में 28 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव में 45,000 महिला कर्मचारियों की सेवाएं ली जाएंगी। इसके साथ ही मतदान के दिन 1.80 लाख सुरक्षाकर्मी सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालेंगे।
 
प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी (सीईओ) वीएल कांताराव ने सोमवार को यहां पत्रकारों को बताया कि प्रदेश में कुल 3,00,782 कर्मचारी चुनाव कार्य में लगेंगे। इनमें 45,904 महिला कर्मचारी शामिल हैं। प्रदेश में 65,367 मतदान केंद्रों पर चुनाव कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इसके साथ ही स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए 1.80 लाख सुरक्षाकर्मी तैनात किए जाएंगे। इनमें केंद्रीय और राज्य के सुरक्षाकर्मी शामिल हैं।
 
सीईओ ने बताया कि प्रदेश में 160 मतदान केंद्र केवल दिव्यांग कर्मचारियों के जिम्मे रहेंगे। ये बूथ पूरी तरह दिव्यांग कर्मचारी ही संचालित करेंगे। इसके अलावा 3,046 मतदान केंद्र केवल महिला कर्मचारियों द्वारा संचालित किए जाएंगे तथा प्रदेश में 17,000 मतदान केंद्र संवेदनशील घोषित किए गए हैं। यहां केंद्रीय अर्द्धसैनिक बल और वेबकास्टिंग के साथ माइक्रो पर्यवेक्षक भी तैनात रहेंगे।
 
चुनाव आयोग के मुताबिक 28 नवंबर को विधानसभा की 230 सीटों पर होने वाले मतदान के लिए कुल 2,907 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं। इनमें 1,102 निर्दलीय उम्मीदवार हैं। मध्यप्रदेश में मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन के बाद प्रदेश में कुल 5,04,95,251 मतदाता हैं। इनमें 2,63,01,300 पुरुष, 2,41,30,390 महिला एवं 1,389 थर्ड जेंडर के मतदाता हैं। इसके साथ ही इसमें 62,172 सेवारत मतदाता हैं, जो कि डाक मतपत्र से मतदान कर सकते हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख ईरान में भूकंप से घायल होने वालों की संख्या हुई 634