मध्यप्रदेश में कांग्रेस को अब सता रहा है स्ट्रांग रूम में गड़बड़ी का डर

विशेष प्रतिनिधि

शुक्रवार, 30 नवंबर 2018 (23:15 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में वोटिंग के दौरान ईवीएम की ईवीएम के बाद अब कांग्रेस को स्ट्रांग रूम में रखी ईवीएम में गड़बड़ी होने का डर सता रहा है। भोपाल सहित कई जिलों में स्ट्रांग रूम के बाहर लगी एलईडी स्क्रीन और सीसीटीवी के बंद होने की खबरें सामने आने के बाद अब कांग्रेस सतर्क हो गई है। खुद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने ट्वीट कर ईवीएम में गड़बड़ी की आशंका जताई है।
 
 
कमलनाथ ने ट्वीट कर लिखा है- 'सभी कांग्रेसजन, कांग्रेस प्रत्याशियों से अपील। 11 दिसंबर मतगणना तक स्ट्रांग रूम व ईवीएम पर निगरानी रखें, विशेष सावधानी रखें। कांग्रेस की सरकार बनना तय है। चुनावी कार्य में लगे सभी जिम्मेदार प्रशासन के अधिकारियों से अपील है कि वे लोकतंत्र के महापर्व के अवसर पर मतगणना तक निष्पक्षता का आचरण करें। मतदान के दौरान कुछ अधिकारियों की गड़बड़ी की हमें शिकायत मिली है।'
 
वहीं इससे पहले शुक्रवार को दिनभर भोपाल में पुरानी जेल परिसर में बने स्ट्रांग रूम के बाहर लगी एलईडी स्क्रीन के कई बार बंद होने को लेकर प्रशासन सवाल के घेरे में आ गया। शुक्रवार सुबह स्ट्रांग रूम के बाहर लगी एलईडी स्क्रीन के अचानक बंद होने से हड़कंप मच गया। स्क्रीन शुक्रवार सुबह 2 बार थोड़ी-थोड़ी देर के लिए बंद हुई। स्क्रीन बंद होने से कांग्रेस ने जमकर ऐतराज जताया। आनन-फानन में कांग्रेस उम्मीदवार मतगणना स्थल पहुंचे और प्रशासन के सामने विरोध जताया।
कांग्रेस ने स्ट्रांग रूम के अंदर लगे सीसीटीवी फुटेज को सार्वजनिक करने की मांग की। लेकिन जब उसे पता चला कि स्ट्रांग रूम में लगे सीसीटीवी कैमरे बंद थे तो कांग्रेस कार्यकर्ता भड़क गए। इसके बाद कांग्रेस उम्मीदवार चुनाव आयोग पहुंचे, जहां उनकी अधिकारियों से तीखी बहस हुई। इसके बाद कांग्रेस ने पूरे मामले की शिकायत चुनाव आयोग से की।
 
कांग्रेस ने भोपाल कलेक्टर सुदाम खाड़े की भूमिका पर भी सवाल उठाए हैं। कांग्रेस ने कलेक्टर की शिकायत चुनाव आयोग से करते हुए कहा कि स्ट्रांग रूम के सीसीटीवी 2 घंटे बंद होना एक बड़ी साजिश है। कांग्रेस ने ईवीएम की सुरक्षा पर सवाल उठाते हुए कहा कि पूरे प्रदेश में स्ट्रांग रूम में लगे सीसीटीवी को 24 घंटे चालू रखा जाए। इसके साथ ही कांग्रेस ने मॉक पोल के वोट डिलीट न करने पर सवाल उठाए हैं, वहीं आम आदमी पार्टी ने भी एलईडी के बंद होने पर सवाल उठाए हैं।
 
सागर में भी ईवीएम पर हंगामा : सागर में भी ईवीएम को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया। दरअसल, खुरई विधानसभा में चुनाव के लिए गई ईवीएम जब अधिकारी चुनाव खत्म होने के 48 घंटे के बाद लेकर जमा करने पहुंचे तो कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया, वहीं ईवीएम को लेकर प्रशासन ने सफाई दी कि जमा होने आई ईवीएम को रिजर्व में रखा गया था, जो चुनाव में उपयोग में नहीं आई थी।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख जम्मू कश्मीर में लड़की को अश्लील सामग्री भेजने के आरोप में व्यक्ति गिरफ्तार