Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

किसान आंदोलन से लेकर मॉडर्ना की कोरोन वैक्सीन तक, आज इन खबरों पर रहेगी सबकी नजर

webdunia
मंगलवार, 1 दिसंबर 2020 (07:28 IST)
नई दिल्ली। किसान आंदोलन से लेकर मॉडर्ना की कोरोन वैक्सीन तक, ग्रेटर हैदराबाद निगम चुनाव से लेकर दक्षिण भारत के बदले मौसम के मिजाज तक इन खबरों पर आज रहेगी सबकी नजर...


07:33 AM, 1st Dec
webdunia
दक्षिण भारत के 3 राज्यों में फिर चक्रवात का खतरा। मौसम विभाग ने तमिलनाडु, केरल और लक्षद्वीप के तटीय इलाकों में 1 से 4 दिसंबर तक भारी बारिश संभावना जताई है। मौसम विभाग ने कहा कि चक्रवात 2 दिसंबर को श्रीलंका के तट को पार करेगा, जिसके कारण तमिलनाडु और केरल में भारी बारिश होगी। मौसम विभाग ने तमिलनाडु और केरल के दक्षिणी क्षेत्रों के लिए भीषण तूफान को देखते हुए रेड अलर्ट जारी किया है और कहा है कि इन क्षेत्रों में भारी से बहुत भारी वर्षा होने की उम्मीद है।

07:32 AM, 1st Dec
webdunia
ग्रेटर हैदराबाद नगर निकाय के लिए आज सुबह 7 बजे से वोट डाले जा रहे हैं। इस चुनाव में विधानसभा और संसदीय चुनाव की तरह प्रचार हुआ। अमित शाह, जेपी नड्डा, योगी आदित्यनाथ समेत कई दिग्गज नेतानों ने संभाली प्रचार की कमान। 150 वार्डों के चुनाव के लिए 74,44,260 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। मतदान शाम छह बजे तक चलेगा। मतों की गिनती चार दिसंबर को होगी।

07:32 AM, 1st Dec
webdunia
अमेरिकी फर्म ‘मॉडर्ना’ ने सोमवार को अमेरिका और यूरोप में अपनी वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी के लिए नियामक (रेगुलेटरी) में आवेदन किया है। कंपनी का दावा है कि क्लीनिकल ट्रायल में वैक्सीन 94.1% तक असरदार साबित हुई है। वैक्सीन को आज विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) से मंजूरी मिलने की संभावना है।

07:31 AM, 1st Dec
webdunia
कृषि कानून से नाराज किसानों का दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन जारी। केंद्रीय कृषिमंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने 1 दिसंबर को दोपहर 3 बजे किसान यूनियन की बैठक बुलाई। कृषिमंत्री ने कहा है कि पहले निर्णय हुआ था कि किसान भाइयों के साथ अगले दौर की बातचीत 3 दिसंबर को होगी, लेकिन किसान अभी भी कड़ाके की सर्दी के बीच आंदोलन कर रहे हैं। दिल्‍ली में कोरोना महामारी का खतरा भी है इसलिए बातचीत पहले होनी चाहिए।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

SCO में भारत ने नहीं किया चीन का समर्थन