Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

प्रेमिका के शव के किए 35 टुकड़े, आधी रात को निकल ठिकाने लगाता था एक- एक टुकड़ा

हमें फॉलो करें shraddha wakar
सोमवार, 14 नवंबर 2022 (11:40 IST)
लिव इन में रहने वाले एक युवक ने अपनी प्रेमिका का गला घोंटकर उसके शव के 35 टुकड़े कर डाले। पूरे शव को ठिकाने लगाने के लिए आधी रात को निकलता था बाहर। हत्या के करीब 6 महीने बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया है। दरअसल, दिल्ली में करीब 5 महीने पहले अपनी 26 वर्षीय लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वाकर की हत्या और फिर शव को गायब करने का आरोपी आफताब अमीन पूनावाला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने आरोपी आफताब पर हत्या का केस दर्ज कर लिया है और श्रद्धा के शव को खोजा जा रहा है। जानकारी के मुताबिक, आफताब ने श्रद्धा की हत्या कर उसकी शव के 35 टुकड़े किए थे और दिल्ली के अलग अलग इलाके में फेंक दिए थे। बता दें कि 8 नवंबर को 59 साल के विकास मदान वाकर ने अपनी बेटी के अपहरण की एफआईआर दिल्ली के महरौली थाने में दर्ज कराई थी।

दरअसल, 26 साल की श्रद्धा वाकर मुंबई के एक मल्टीनेशनल कंपनी के कॉल सेंटर में काम करती थी। वहीं श्रद्धा की मुलाकात आफताब अमीन से हुई। दोनों में दोस्ती हुई और फिर पसंद करने लगे। इसके बाद वे लिव-इन रिलेशन में रहने लगे। जब परिवार को इस रिश्ते के बारे में पता चला तो उन्होंने इसका विरोध किया। लेकिन दोनों ने साथ में रहने की ठान ली थी। विरोध के बाद श्रद्धा और आफताब ने मुम्बई छोड़ दिया और महरौली के छतरपुर इलाके में रहने लगे। बाद में जब परिवार वालों ने उससे संपर्क करने की कोशिश की तो श्रद्धा का मोबाइल बंद मिला।

श्रद्धा वाकर के पिता ने बताया कि वह परिवार सहित महाराष्ट्र के पालघर में रहते हैं। जब वह 8 नवंबर को छतरपुर स्थित श्रद्धा के फ्लैट पर पहुंचे, जहां बेटी किराए पर रहती थी तो फ्लैट के दरवाजे पर ताला बंद मिला। फिर उन्होंने महरौली थाने में पहुंचकर पुलिस को एफआईआर दर्ज कराई। पुलिस ने बीते शनिवार को आफताब पकड़ लिया है।

पुलिस के मुताबिक दरअसल आफताब ने बताया कि शादी करने को लेकर अक्सर श्रद्धा उस पर दबाव बनाती थी। इसी पर दोनों में झगड़ा होता था। बीते 18 मई को झगड़े के दौरान उसने श्रद्धा की गला घोंटकर हत्या कर दी। इसके बाद शव को चापड़ से कई टुकड़ों में काटा और दिल्ली के अलग अलग इलाकों में फेंक दिया। उसने यह भी कबूल किया है कि वह 18 दिन तक शव के टुकड़ों को अलग-अलग जगहों पर जाकर फेंकता रहा। उसने शव को रखने के लिए एक बड़ा फ्रिज लेकर रखा था।
edited by navin rangiyal

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Railways News : रेलवे ने रद्द कीं 140 से ज्‍यादा ट्रेनें, सफर से पहले देख लीजिए यह लिस्ट...