Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

अमर्त्य सेन का बंग विभूषण सम्मान लेने से इनकार, कहा- किसी और को दे दीजिए

हमें फॉलो करें Amartya Sen
सोमवार, 25 जुलाई 2022 (11:43 IST)
नोबेल पुरस्कार से सम्मानित अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन ने 'बंग विभूषण' सम्मान को लेने से मना कर दिया है। बता दें कि यह विशेष सम्मान पश्चिम बंगाल सरकार की ओर से दिया जाता है। कहा जा रहा है कि सेन ने राज्य सरकार के अधिकारियों को जुलाई के पहले हफ्ते में ही सूचना पहुंचा दी थी कि पुरस्कार वितरण समारोह के समय वह भारत में नहीं होंगे।

बता दें कि बंगाल सरकार की ओर से ये पुरस्कार सोमवार को कोलकाता में दिए जाने वाले हैं। सेन के परिवार की एक सदस्य ने मीडिया को जानकारी दी कि वह इस समय यूरोप में हैं। सेन की बेटी अंतरा देव सेन ने कहा कि उन्हें कई पुरस्कार मिल चुके हैं और वह चाहते हैं कि बंग विभूषण सम्मान दूसरों को दिया जाए।

इससे पहले वाम मोर्चा ने नोबेल पुरस्कार विजेता अमर्त्य सेन और अभिजीत विनायक सेन सहित अन्य बुद्धिजीवियों से पुरस्कार न लेने की अपील की थी। विपक्षी दल ने पश्चिम बंगाल स्कूल सेवा आयोग (WBSSC) में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया और राज्य सरकार को भ्रष्ट करार दिया था।

बंगाल सरकार की ओर से बंग विभूषण पुरस्कार के लिए अमर्त्य सेन को नामित किया गया था और शनिवार को उनके नाम की घोषणा की गई। मालूम हो कि बंग विभूषण सम्मान पश्चिम बंगाल सरकार की ओर से अलग-अलग क्षेत्रों में सेवाओं का सम्मान करने के लिए दिया जाता है।

इन्हें दिया जाएगा सम्मान
कोलकाता के तीन प्रमुख फुटबॉल क्लबों ईस्ट बंगाल, मोहन बागान और मोहम्मडन के प्रमुखों को बंग विभूषण सम्मान दिया जाएगा। साथ ही अभिजीत विनायक बंद्योपाध्याय को सम्मानित किया जाएगा। इनके अलावा एसएसकेएम अस्पताल को यह सम्मान दिया जाना है। यह पहली बार है जब किसी संस्थान को सम्मानित किया जा रहा है। अमला शंकर, महाश्वेता देवी, संध्या मुखर्जी, सुप्रिया देवी और मन्ना डे जैसी हस्तियों को यह सम्मान मिल चुका है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

भारत की 15वीं राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के भाषण की 10 बड़ी बातें