नवजोत सिद्धू बोलीं, मैंने बार-बार लोगों को आगाह किया था, लेकिन...

शनिवार, 20 अक्टूबर 2018 (16:10 IST)
अमृतसर। पंजाब के मंत्री और पूर्व भाजपा सांसद नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर ने कहा कि मैंने पटरी पर मौजूद लोगों को बार-बार आगाह किया था कि वे पटरी से हट जाएं।


उन्होंने कहा कि स्टेज से कई बार लोगों को आगाह किया गया था कि वे पटरी से हट जाएंगे लेकिन सब लोगों के मुंह रावण की तरफ थे। उन्होंने कहा कि ऐसे में रेलवे गेट वाले व्यक्ति को इस बात का ध्यान रखना था।

नवजोत कौर ने कहा कि धोबी घाट मैदान के भीतर सीटें खाली थीं। रावण को मजबूती से बांधा गया था और उसके गिरने की वजह से भगदड़ की कोई आशंका नहीं थी। 4-5 बार घोषणा कर लोगों को धोबी घाट मैदान के अंदर बुलाया भी गया था। उन्होंने कहा कि कहां चूक हुई इसका खुलासा तो जांच होने के बाद ही हो पाएगा।

उन्होंने कहा कि यह सबकी जिम्मेदारी है कि ऐसी दुर्घटनाएं फिर न हों। उल्लेखनीय है कि कार्यक्रम की मुख्‍य अतिथि नवजोत कौर पर आरोप है कि वे हादसा होने के बाद भी भाषण दे रही थीं। भाजपा का आरोप है कि बिना अनुमति के इस कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा था, दूसरी ओर आयोजकों ने पुलिस की एनओसी भी बता दी है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING