Amritsar train accident : भीषण हादसे से जुड़ी 13 प्रमुख बातें...

शनिवार, 20 अक्टूबर 2018 (12:00 IST)
शुक्रवार शाम को अमृतसर के जोड़ा फाटक के पास रावण दहन कार्यक्रम के दौरान जालंधर से आ रही ट्रेन की चपेट में आने से 61 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। जानिए, भीषण हादसे से जुड़ी 13 प्रमुख बातें...

- पंजाब के अमृतसर में हुए रेल हादसे के आलोक में रेलवे ने शनिवार को वहां से गुजरने वाली 37 रेलगाडि़यों को निरस्त कर दिया है जबकि 16 अन्य का मार्ग परिवर्तित कर दिया है। इसके साथ ही जालंधर अमृतसर रेलमार्ग पर आवाजाही रोक दी गई है।
 

- मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शनिवार को अमृतसर ट्रेन हादसे की मजिस्ट्रेटी जांच कराने का आदेश दिया और कहा कि चार हफ्ते में रिपोर्ट जमा की जाएगी।

- पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह अमृतसर में जोड़ा फाटक के पास शुक्रवार रात रावण दहन के दौरान हुए ट्रेन हादसे में घायलों का हाल जानने के लिए शनिवार को शहर के विभिन्न अस्पताल गए और दुर्घटना स्थल का मुआयना किया।
 
- अमृतसर में भीषण ट्रेन हादसे में 61 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है, साथ ही करीब 70 घायलों को अमृतसर अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जिनमें से 7 की हालत गंभीर है। 
 
- शुक्रवार की शाम अमृतसर के जोड़ा फाटक के पास जालंधर से अमृतसर आ रही ट्रेन के कारण यह भयावह हादसा हुआ। बताया जाता है कि ट्रैक पर खड़े होकर रावण दहन देख रहे थे, इसी दौरान ट्रैक पर ट्रेन आ गई और लोग इसकी चपेट में आ गए। 
 
- खबरों के मुताबिक रावण दहन और पटाखे फूटने के बाद कुछ लोग रेल पटरियों की ओर बढ़ने लगे, जहां पहले से ही बड़ी संख्या में लोग कार्यक्रम देख रहे थे, उसी बीच विपरीत दिशाओं से एकसाथ दो ट्रेनें आ गईं।
 
- पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि थीं। हादसा होते ही वे वहां से कार से चली गईं। घटना के बाद लोगों ने नवजोत कौर सिद्धू के खिलाफ काफी गुस्सा था। 
 
- नवजोत सिंह सिद्धू ने अपनी पत्नी का बचाव किया। कहा हादसे के लिए रेलवे जिम्मेदार। ड्राइवर ने नहीं बजाया था हॉर्न। 
 
- रेलवे ने कहा, दुर्घटना स्थल के पास दशहरा का कार्यक्रम करने की सूचना उसे नहीं दी गई थी और इसके लिए हमने कोई अनुमति भी नहीं दी थी। 
 
- पंजाब सरकार ने एक दिन के शोक का ऐलान किया है। दफ्तर और शिक्षण संस्थान शनिवार को बंद रहेंगे। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। उन्‍होंने अपना इसराइल दौरा स्थगित कर दिया। 
 
- पंजाब सरकार ने मृतकों के परिजनों के लिए पांच-पांच लाख रुपए के मुआवजे का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री ने दुर्घटना में घायल हुए सभी लोगों के लिए मुफ्त इलाज की घोषणा की है।
 
- राष्ट्रपति कोविंद और प्रधानमंत्री मोदी ने हादसे में लोगों की मौत पर दुख व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री ने अधिकारियों को तत्काल सहायता पहुंचाने के निर्देश दिए हैं। हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के लिए दो-दो लाख रुपए और घायलों के लिए 50 हजार रुपए का ऐलान किया है।
 
- हेल्पलाइन नंबर- 01832223171 और 01832564485 नंबरों पर फोन करके हादसे के बारे में जानकारी ली जा सकती है। मनावला स्टेशन का फोन नंबर 0183-2440024, 0183-2402927 और फिरोजपुर का हेल्पलाइन नंबर 01632-1072 है। हादसे के बाद 8 ट्रेनें रद्द कर दी गईं, 5 ट्रेनों का रूट बदला गया और 10 ट्रेनों की दूरी कम की गई है।
 
- फिरोजपुर डीआरएम का कहना है कि इस हादसे के लिए रेलवे जिम्मेदार नहीं। ड्राइवर ने हॉर्न बजाया था और ट्रेन की स्पीड भी कम की थी।
 
- रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने कहा इस हादसे में ड्राइवर की कोई गलती नहीं। आयोजन की अनुमति रेलवे से नहीं ली गई।
 
- हादसे के बाद रेल मंत्री पीयूष गोयल अमेरिका से वापस लौटे।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING