धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा कि भाजपा की प्रगति से डरे हुए हैं नवीन पटनायक

रविवार, 27 जनवरी 2019 (17:26 IST)
नई दिल्ली। भाजपा के वरिष्ठ नेता धर्मेन्द्र प्रधान ने रविवार को संकेत दिए कि उनकी पार्टी ओडिशा में मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार की घोषणा नहीं करेगी, जहां विधानसभा और लोकसभा चुनाव एकसाथ होने वाले हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की लोकप्रियता और विकास कार्यों से नवीन पटनायक के 2 दशकों का शासन खत्म होगा।
 
 
केंद्रीय मंत्री और ओडिशा से भाजपा का चेहरा प्रधान ने उन सुझावों को खारिज कर दिया कि उनकी पार्टी लोकसभा चुनावों के बाद बीजू जनता दल (बीजद) को संभावित सहयोगी के तौर पर देख रही है तथा मुख्यमंत्री पटनायक इस तरह के कयासों को बल दे रहे हैं, क्योंकि वे भगवा दल के उदय से डरे हुए हैं।
 
उन्होंने एक साक्षात्कार में कहा कि हमारा बीजद से सीधा मुकाबला है। हम निश्चित तौर पर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरेंगे और विधानसभा में हमें बहुमत मिलेगा। भाजपा आगे बढ़ रही है और राज्य में मोदी की काफी विश्वसनीयता है। इससे बचने के लिए वे भाजपा को समर्थन देने के कयासों को हवा दे रहे हैं। भाजपा के पूर्व सहयोगी पटनायक ने कहा कि उनकी पार्टी बीजद, कांग्रेस और भाजपा दोनों से समान दूरी बनाए रखने में विश्वास करती है।
 
यह पूछने पर कि क्या भाजपा अपने मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार की घोषणा करेगी? प्रधान ने कहा कि मोदी उसका मुख्य चेहरा होंगे। उन्होंने कहा कि पार्टी ने महाराष्ट्र, झारखंड, हरियाणा, उत्तरप्रदेश और त्रिपुरा जैसे राज्यों में बिना नेता की घोषणा किए जीत दर्ज की है और यह (मुख्यमंत्री पद) हमारी प्राथमिकता में नहीं है। हमारी प्राथमिकता भाजपा को राज्य में सबसे बड़ी पार्टी बनाने की है। 49 वर्षीय नेता ने पार्टी के लिए संगठन में कई महत्वपूर्ण पद संभाले हैं और कहा जाता है कि वे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के विश्वासपात्र हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख मोदी करेंगे 29 जनवरी को 'परीक्षा पे चर्चा'