ईवीएम से पर्ची मिलान का प्रतिशत बढ़ाने के बारे में रिपोर्ट चुनाव आयोग को सौंपी

शुक्रवार, 22 मार्च 2019 (19:44 IST)
नई दिल्ली। चुनाव में वीवीपैट मशीनों से निकलने वाली पर्चियों के इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) से मिलान का प्रतिशत बढ़ाने की मांग को देखते हुए इंडियन स्टेटिकल इंस्टीट्यूट ने शुक्रवार को एक रिपोर्ट चुनाव आयोग को सौंप दी।
 
आयोग ने इस संस्थान को यह जिम्मेदारी दी थी कि वह वीवीपैट मशीनों की पर्चियों को ईवीएम मशीनों से मिलान प्रतिशत बढ़ाने के बारे में अपनी एक रिपोर्ट पेश करे ताकि यह पता चले कि यह काम कितना संभव और व्यावहारिक है।

स्टेटिकल इंस्टीट्यूट, दिल्ली के प्रमुख प्रो. अभय जी. भट ने मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा, चुनाव आयुक्त अशोक लवासा और सुशील चन्द्र को अपनी रिपोर्ट पेश कर दी।
 
गौरतलब है कि विपक्षी दलों ने सरकार से मांग की है कि इस चुनाव में कम से कम 50 प्रतिशत मतों का मिलान वीवीपैट मशीन की पर्चियों से हो। यह देखते हुए आयोग ने इस संस्थान को अपनी रिपोर्ट देने को कहा। यह देश में गणित संबंधी कार्य एवं शोध का और सैंपल कार्य का सबसे बड़ा एवं मान्यता प्राप्त संस्थान है।
 
संस्थान की इस टीम में भट के अलावा केंद्रीय सांख्यिकी विभाग के उपमहानिदेशक ओंकार प्रसाद घोष चेन्नई गणित संस्थान के निदेशक राजीव एल. करंदीकर भी शामिल थे। चुनाव आयोग इस रिपोर्ट का अध्ययन करने के बाद ही कोई निर्णय इस दिशा में लेगा। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख इस क्रिकेटर ने 25 गेंदों में लगाया शतक, 1 ओवर में 6 छक्के लगाए