किसान नेता बोले सरकार के आश्वासन से संतुष्ट नहीं, प्रदर्शन रखेंगे जारी

मंगलवार, 2 अक्टूबर 2018 (20:20 IST)
नई दिल्ली। भारतीय किसान यूनियन के बैनर कर्जमाफी, गन्ना की कीमतों समेत कई अन्य मांगों को लेकर दिल्ली मार्च करने जा रहे हजारों किसानों की दिल्ली बॉर्डर पर पुलिस से झड़प हो गई। किसानों पर पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और वॉटर कैनन का इस्तेमाल किया। किसान आंदोलन से जुड़ी हर जानकारी...

* किसान क्रांति पदयात्रा में शामिल किसानों को दिल्ली-उत्तरप्रदेश बॉर्डर पर रोक रखा गया है। इस बीच वहां हालात पर नियंत्रण बनाए रखने के लिए रैपिड एक्शन फोर्स बुलाई गई है। गाजियाबाद के डीएम ने शहर के सारे स्कूल-कॉलेजों को बुधवार को बंद रखने के निर्देश दिए हैं।
* ‍दिल्ली पुलिस के मुताबिक किसानों के प्रदर्शन के दौरान एसीपी सहित सात पुलिसकर्मी घायल।
* किसान नेता नरेश टिकैत ने कहा- धरना जारी है। टिकैत ने कहा कि 11 में से 7 मांगें ही मानीं। किसान नेता ने कहा संतुष्ट होते तो जयकारे लगते। 
* केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत का ऐलान- कई मुद्दों पर सहमति बनी। खेती को नरेगा से जोड़ा जाएगा। कई मामलों पर कमेटी बनाने का फैसला लिया। जीएसटी के सामने मुद्दों को रखेंगे। किसानों की खरीद तीन महीने चले।
* कांग्रेस विधायक और जाट नेता विश्वेन्द्र सिंह ने मंगलवार को पिछले वर्ष जून में धौलपुर और भरतपुर में आंदोलन के दौरान दर्ज 72 मामलों को वापस लेने की मांग को लेकर समर्थकों के साथ भरतपुर पुलिस अधीक्षक दफ्तर में गिरफ्तारी दी। बाद में उन्हें पुलिस ने रिहा कर दिया।
* भारतीय किसान संघ के अध्यक्ष नरेश टिकैत ने कहा कि किसान सरकार के आश्वासन स्वीकार नहीं करेंगे और प्रदर्शन जारी रखेंगे।
* केंद्रीय मंत्री गजेंद्रसिंह शेखावत ने दिल्ली-उत्तर प्रदेश सीमा पर प्रदर्शन कर रहे किसानों से बात की, उनकी मांगों पर विचार करने का आश्वासन दिया। 
* उधर उत्तरप्रदेश में मुख्यमंत्री योगी ने कहा- किसानों की समस्याओं के प्रति मोदी सरकार गंभीर, लागत कम और उत्पादन बढ़ाने के उपाय किए। मिट्टी की गुणवत्ता के लिए स्वायल हेल्थ कार्ड। देश और यूपी में किसानों की हित वाली सरकार। गन्ना किसानों का तेजी से भुगतान किया।
* किसान नेता युद्धवीर सिंह ने कहा- हम एक घंटे में फैसला लेंगे।
* राजनाथ के घर किसानों की बैठक खत्म, सात मुद्दों पर बनी सहमति।
* योगी सरकार के 2 मंत्रियों के साथ, 1 केंद्रीय मंत्री भी किसान नेताओं से मुलाकात करेंगे।
* सुत्रों के हवाले से खबर, बातचीत से हल निकलने की खबर।  
* राजनाथ सिंह का बड़ा बयान, पुलिस ने किसानों पर आक्रामक कार्रवाई नहीं की। 
* किसानों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज। 

* पानी की बौछार के बाद किसान भी नाराज बताए जा रहे हैं। उन पर काबू पाने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले भी छोड़े।
* आप नेता और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी कहा कि किसानों में दिल्ली में प्रवेश की अनुमति दी जानी चाहिए। किसानों की पद यात्रा को दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर क्यों रोका जा रहा है? 
* अखिलेश यादव ने कहा, सरकार किसानों से किए वादे पुरे करने में विफल रही है। यह दुर्भाग्यपूर्ण हैं, हम किसानों के साथ हैं। 
* कुछ ही देर में गृहमंत्री राजनाथ सिंह किसानों से चर्चा करेंगे। लखनऊ से भी दो आईएएस अधिकारियों को किसानों से चर्चा के लिए खासतौर पर बुलवाया गया है।
* भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष नरेश टिकैत ने सवाल किया कि हम अनुशासित रूप से आगे बढ़ रहे हैं। अगर हम अपनी समस्याओं के बारे में सरकार को नहीं बता सकते तो किसे कहेंगे? क्या हम भी पाकिस्तान या बांग्लादेश जाएं? 
* भारतीय किसान यूनियन के प्रदर्शनकारियों पर मंगलवार को दिल्ली-उत्तर प्रदेश सीमा के निकट गाजीपुर में पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे।

* यूनियन के नेता राकेश टिकैत के नेतृत्व में किसान कर्ज माफी तथा अन्य मांगों को लेकर राजधानी में प्रदर्शन के लिए आना चाहते हैं।
* किसानों ने जब गाजीपुर में पुलिस घेराबंदी तोड़कर आगे बढ़ने का प्रयास किया तो पुलिस ने पहले उन पर पानी की बौछार की और इसके बाद भी जब वे नहीं माने तो आंसू गैस के गोले भी दागे। इस दौरान कुछ प्रदर्शकारियों को चोटें भी आई।
* बाद में पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने किसान नेताओं से बातचीत शुरू की। बड़ी संख्या में किसान वहां अपने वाहनों के साथ उपस्थित हैं। 
* इस बीच केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के निवास पर किसानों की मांगों पर उच्च स्तरीय बैठक हो रही है जिसमें कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह भी उपस्थित हैं। 
* किसानों ने अपनी मांगों को लेकर नौ दिन पहले हरिद्वार से यात्रा शुरु की थी जिसका समापन आज राष्ट्रीय राजधानी में होना है। दिल्ली की सीमा के आसपास बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING