बड़ी खबर, भारतीय सेना ने तबाह किया पाक सेना का प्रशासनिक मुख्‍यालय

सुरेश डुग्गर

सोमवार, 29 अक्टूबर 2018 (21:21 IST)
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में बीते दिनों पाकिस्तान की नापाक हरकत का भारतीय सेना ने मुहतोड़ जवाब देते हुए पाकिस्तानी सेना के हेडक्वार्टर पर जवाबी कार्रवाई की है। इसके लिए बोफोर्स तोपों के साथ ही एंटी टैंक गाइडेड मिसाइलों का इस्तेमाल किया गया।
 
 
सूत्रों के मुताबिक पुंछ जिले में 23 अक्टूबर को पाकिस्तानी सेना ने भारतीय सीमा में गोले दागे थे जिसकी जवाबी कार्रवाई करते हुए भारतीय सेना ने पुंछ से सटी सीमा से पाकिस्तान में 20 किलोमीटर अंदर बसे पाक सेना के प्रशासनिक भवन को ध्वस्त कर दिया।
 
दरअसल, सोमवार दोपहर को भारतीय सेना ने पीओके में एक बड़ा हमला बोला है। भारतीय सेना ने आतंकियों के लॉन्चिंग पैड को निशाना बनाकर बड़ा हमला किया। ये लॉन्चिंग पैड पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में हजीरा और रावलकोट सेक्टर में मौजूद हैं। गौरतलब है कि पाकिस्तान इन्हीं के जरिए भारत में आतंकियों की घुसपैठ कराता है। सर्जिकल स्ट्राइक सरीखे भारतीय सेना के इस हमले में आतंकियों के कई लॉन्चिंग पैड तबाह हो होने की सूचना है।
 
पाकिस्तान सेना की नापाक हरकत लगातार जारी है। पाक ने 23 अक्टूबर को एलओसी स्थित चिड़ीकोट क्षेत्र से पुंछ ब्रिगेड मुख्यालय पर एक गोला दागा। यह एक टीनशेड में बने पुराने सामान के स्टोर पर गिरा जिससे वहां आग लग गई। घटना के बाद सेना, पुलिस और सेना की फायर ब्रिगेड के अधिकारी ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया था। घटना में कोई जानी नुकसान नहीं हुआ, लेकिन 20 साल बाद नगर में पाकिस्तानी गोला गिरने से लोगों में दहशत हो गई थी। घटना के बाद पूरे सीमावर्ती इलाके के स्कूल बंद करा दिए गए थे।
 
23 अक्टूबर को सुबह 10.15 बजे नगर स्थित पुंछ ब्रिगेड मुख्यालय में एक गोला गिरा। धमाके की आवाज कई किलोमीटर दूर तक सुनाई दी। सेना और पुलिस ने पूरे क्षेत्र की घेराबंदी कर वाहनों और लोगों की आवाजाही पर रोक लगा दी। एसएसपी राजीव पांडे, डीएसपी हेडक्वार्टर नवाज खांडे सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे थे। एसएसपी ने बताया कि प्राथमिक जांच में लगता है कि गोला एलओसी के उस पार से आया है। इसमें किसी प्रकार नुकसान नहीं हुआ है और जांच जारी है।
 
दिगवार के ग्रामीणों का कहना है कि गांव के ऊपर से गोले के गुजरने की आवाज सुनी थी जिसके बाद पुंछ ब्रिगेड मुख्यालय में जोरदार धमाका हुआ, वहीं कृष्णा घाटी सेक्टर के अंतर्गत सलोत्री क्षेत्र में भी पाकिस्तान ने शाम को अग्रिम चौकी को निशाना बनाकर गोला दागा। यह गोला 4 मराठा लाइट की अग्रिम चौकी रियर के पास शाम 6.20 बजे गिरा, हालांकि इसमें भी किसी के नुकसान की कोई सूचना नहीं है।
 
पिछले कुछ दिनों से सेना के अधिकारी लगातार पाकिस्तान पर कड़ी कार्रवाई की बात कह रहे थे। गत शुक्रवार को ही सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा था कि पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज आए, वरना भारतीय सेना के पास सारे विकल्प खुले हुए हैं। पाक की हर नापाक कोशिश का भारतीय सेना माकूल जवाब देगी।
पाकिस्तानी आतंकियों ने 18 सितंबर 2016 को कश्मीर के उड़ी में सैन्य शिविर पर हमला कर करीब 20 सैनिकों को शहीद कर दिया था। उसके बाद 28 सितंबर की रात को भारतीय सेना ने नौशहरा के कलाल सेक्टर के सामने भिंबर सेक्टर व मेंढर के तत्तापानी सेक्टर के सामने सर्जिकल स्ट्राइक कर कई आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया था। इसके साथ ही कई आतंकी कैम्पों को नष्ट कर दिया था।
 
इससे पहले भारत की ओर से सितंबर में पाक के ठिकानों पर हमला किया गया था। भारत की ओर से सर्जिकल स्ट्राइक की तर्ज पर ये दूसरी बड़ी कार्रवाई थी। इस दौरान 1 घंटे से भी कम समय में पाकिस्तानी सेना के कई बंकर तबाह करने और लगभग 15 पाकिस्तानी सैनिकों को ढेर करने के बाद भारतीय जांबाज सुरक्षित अपने क्षेत्र में लौट आए।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING