Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

पाकिस्तान के नापाक मंसूबों पर भारत ने फेरा पानी, सेना ने आतंकी घुसपैठ को किया नाकाम

webdunia
बुधवार, 14 अगस्त 2019 (22:45 IST)
भारत सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले के बाद पाकिस्तान को कुछ समझ नहीं आ रहा है कि वह क्या करे। बौखलाया पाकिस्तान कभी भारत को युद्ध की गीदड़ भभकियां देता है तो कभी सीमा से आतंकियों को घुसपैठ करवाने की कोशिश करता है। एक ऐसी ही कोशिश को भारतीय सेना ने नाकाम कर दिया।
 
पाकिस्तान की कोशिश आतंकियों की घुसपैठ कराकर जम्मू-कश्मीर में हिंसा भड़काने की है, लेकिन भारतीय सुरक्षा बल उसके इन नापाक मंसूबों को पूरा नहीं होने दे रहे हैं। सेना से जुड़े सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तानी सेना द्वारा मंगलवार की रात को आतंकी घुसपैठ कराने की बड़ी कोशिश को नाकाम कर दिया गया। 
 
खबरों के अनुसार मंगलवार की रात को जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में आतंकवादियों ने घुसपैठ की कोशिश की। उनकी घुसपैठ कराने के लिए पाकिस्तानी सेना ने सीजफायर तोड़ते हुए भारी गोलीबारी की।
 
खबरों के अनुसार पाकिस्तानी सेना आतंकियों के एक समूह की भारतीय सीमा में घुसपैठ कराने की कोशिश में थी ताकि वे जम्मू-कश्मीर में हमले कर सकें और हिंसा भड़का सकें, लेकिन भारतीय सेना के मुंहतोड़ जवाब से वे अपने नापाक मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाए।
 
पाकिस्तान की ऐसी ओछी हरकतों को देखते हुए भारतीय सेना हाईअलर्ट पर है और पाकिस्तान की किसी भी हिमाकत का जवाब देने के लिए ‍पूरी तरह से तैयार है।
 
स्वतंत्रता दिवस समारोहों के पहले सेना और बीएसएफ, भारत-पाकिस्तान सीमा के आसपास कड़ी चौकसी कर रही है। जम्मू क्षेत्र में ज्यादातर जिलों में पुलिस पूरी सतर्कता बरत रही है और जम्मू शहर में जांच तेज कर दी गई है।
 
अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म किए जाने और राज्य को 2 केंद्रशासित प्रदेशों में बांटे जाने के फैसले के बाद यह पहला स्वतंत्रता दिवस है। 
 
केंद्र सरकार ने जारी किया अलर्ट : राज्य गृह विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक जम्मू-कश्मीर को लेकर केंद्र के फैसले को ध्यान में रखते हुए राज्य में खास प्रबंध किए गए हैं।
 
एक आईएएस अधिकारी ने बताया कि केंद्र सरकार से अलर्ट मिला है और स्वतंत्रता दिवस समारोह के लिए हम विशेष सुरक्षा इंतजाम कर रहे हैं। राज्य के अन्य सभी हिस्से में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई गई है। 
 
15 अगस्त के मद्देनजर एलओसी के आसपास सेना अलर्ट पर है और कड़ी चौकसी बरती जा रही है। इसी तरह अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास, खासकर संवेदनशील क्षेत्रों में बीएसएफ कड़ी निगरानी कर रही है। किसी भी अप्रिय घटना को टालने के लिए सीमाई राज्य में सुरक्षा के असाधारण इंतजाम किए गए हैं। (एजेंसियां)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

पहलू खान मॉब लिंचिंग मामले के सभी आरोपी सबूतों के अभाव में बरी