Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

गर्लफ्रेंड पर मेहुल चौकसी का खुलासा, बोला- अपहरण की साजिश में थी शामिल

webdunia
सोमवार, 7 जून 2021 (21:20 IST)
नई दिल्ली। एंटीगुआ एवं बारबुडा की 'रॉयल पुलिस फोर्स' ने भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी का कथित तौर पर अपहरण कर उसे डोमिनिका ले जाए जाने के मामले में जांच शुरू कर दी है। चोकसी के वकीलों ने इस संबंध में शिकायत दर्ज कराई है। 'एंटीगुआ न्यूज रूम' की खबर के अनुसार एंटीगुआ एवं बारबुडा के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन ने कहा कि चोकसी के वकीलों ने पुलिस आयुक्त को दी गई शिकायत में कथित अपहरण में शामिल लोगों के नाम भी बताए हैं। उसने अपने अपहरण में महिला मित्र बारबरा जाबेरिका का हाथ बताया है। इतना ही नहीं, इस भगोड़े हीरा कारोबारी ने यहां तक दावा किया है कि मारपीट करने वाले एंटीगुआ पुलिस के लोग थे।


प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर ये दावे सच हैं तो फिर यह एक गंभीर मामला है। ब्राउन ने कहा कि चोकसी ने एंटिगुआ एवं बारबुडा की रॉयल पुलिस फोर्स में शिकायत दर्ज कराई है कि उसका अपहरण किया गया। उसने अपने वकीलों के माध्यम से एक औपचारिक दावा किया कि उसे एंटीगुआ से अगवा कर डोमिनिका ले जाया गया।
पुलिस इस शिकायत को गंभीरता से ले रही है और अपहरण के मामले की जांच कर रही है।
 
वहीं 'एसोसिएट्स टाइम्स' ने अपनी खबर में डोमिनिका के विपक्षी नेता लेनोक्स लिंटन की उस बात पर शंका जाहिर की कि चोकसी को आर्नी की यॉच कैलीओप में 23 मई को रात 10 बजे डोमिनिका लाया गया था। खबर के अनुसार, चोकसी के परिवार ने दावा किया है कि वह 23 मई शाम 5 बजे तक एंटीगुआ में थे और 4-5 घंटे में 120 मील की दूरी तय करना मुमकिन नहीं है, क्योंकि इसमें लगभग 12 से 13 घंटे लगते हैं।

 
खबर में कहा गया कि सीमा शुल्क दस्तावेज़ के अनुसार नौका 23 मई को सुबह 10 बजे एंटीगुआ से रवाना हुई जबकि चोकसी के घरेलू सहायक का कहना है कि वह शाम 5 बजे तक घर पर थे जिससे स्पष्ट है कि लिंटन ने जिस नौका में उसके होने का दावा किया, वह उसमें नहीं थे।
 
'डोमिनिका चाइना फ्रेंडशिप हॉस्पिटल' के चिकित्सकों के हवाले से खबर में कहा गया कि जिन नाखून की चोट का वकीलों ने दावा किया है वह पुरानी है, बाकी चोटें नई हो सकती हैं, जो हल्का धक्का दिए जाने से भी आ सकती हैं। चोकसी इसी अस्पताल में भर्ती है।

गौरतलब है कि चोकसी 23 मई को रहस्यमयी परिस्थितियों में एंटीगुआ एवं बारबुडा से लापता हो गया था। 2018 से बतौर नागरिक वह वहां रह रहा था। लापता होने के बाद में उसे डोमिनिका में अवैध प्रवेश करने पर पकड़ा गया था। चोकसी के वकीलों ने आरोप लगाया है कि एंटीगुआई और भारतीय जैसे दिखने वाले पुलिसकर्मियों ने उनके मुवक्किल का अपहरण कर लिया तथा उसे नौका के जरिए डोमिनिका पहुंचा दिया। डोमिनिका के एक उच्च न्यायालय में चोकसी की ओर से दायर बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका पर सुनवाई चल रही है।
 
याचिका में चोकसी ने अपनी कथित अवैध हिरासत को चुनौती दी है। उसे उच्च न्यायालय के आदेश पर एक मजिस्ट्रेट के समक्ष भी पेश किया गया, जहां उसने देश में अवैध प्रवेश के आरोपों को स्वीकार नहीं किया। उसे अभी मामले में जमानत नहीं मिली पाई है। चोकसी और उसके भतीजे नीरव मोदी पर कुछ बैंक अधिकारियों की मिलीभगत से पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ कथित तौर पर 13,500 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी करने का आरोप है। नीरव मोदी अभी लंदन की एक जेल में बंद है। दोनों के खिलाफ केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) जांच कर रहा है। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

कोरोना की दूसरी लहर बनी उद्योगों के लिए बड़ी चुनौती