ISRO ने रचा इतिहास, पीएसएलवी-सी43 के साथ प्रक्षेपित किए 8 देशों के 30 उपग्रह

गुरुवार, 29 नवंबर 2018 (10:23 IST)
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने एक ओर इतिहास रच दिया है। भारतीय रॉकेट धुव्रीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी) द्वारा 30 उपग्रहों को आज श्रीहरिकोटा से लांच किया गया। इस अभियान में इसरो के अंतरिक्ष यान पीएसएलवी-सी43 के साथ आठ देशों के 30 उपग्रह भी प्रक्षेपित किए गए।


भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) द्वारा पीएसएलवी 380 किलोग्राम भार वाले हाइपर स्पेक्ट्रल इमेजिंग सेटेलाइट और 30 अन्य उपग्रहों के साथ गुरुवार को सुबह 9.58 बजे अंतरिक्ष के लिए रवाना किया गया। 30 अन्य उपग्रहों का कुल वजन 261.5 किलोग्राम है।

17 मिनट से अधिक की उड़ान भरने पर पीएसएलवी रॉकेट हाइपर स्पेक्ट्रल इमेजिंग सेटेलाइट को कक्षा में स्थापित कर देगा, जो वहां पांच साल तक रहेगा। सभी 30 उपग्रह 504 किलोमीटर की कक्षा में स्थापित किए गए। इनमें से 23 सेटेलाइट अमेरिका के हैं और बाकी ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, कोलंबिया, फिनलैंड, मलेशिया, नीदरलैंड और स्पेन के हैं।

अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत स्वेदश में बने इस प्रक्षेपण वाहन राकेट ने भयंकर गर्जना करते हुए उड़ान भरी और कुछ ही पलों में आकाश का सीना चीरते हुए अपनी मंजिल की तरफ बढ़ गया। आंध्रप्रदेश के श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से यह प्रक्षेपण किया गया।  
 
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अनुसार इसकी उल्टी गिनती बुधवार सुबह 5.58 बजे शुरू हुई। इमेजिंग सेटेलाइट पृथ्वी की निगरानी के लिए है और इसका विकास इसरो द्वारा विकसित किया गया है। यह पीएसएलवी-सी43 मिशन का प्रथम उपग्रह है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING