जम्‍मू में एयरफोर्स और सेना के संस्‍थानों पर हाई अलर्ट, मचेल यात्रा भी स्‍थगित, खाली हुआ निट

सुरेश डुग्गर

शनिवार, 3 अगस्त 2019 (11:01 IST)
जम्‍मू। अमरनाथ यात्रा को रदद करने के निर्देशों के 24 घंटों के भीतर ही राज्‍य सरकार ने सुरक्षा का हवाला देते हुए जम्‍मू संभाग के किश्‍तवाड़ में चल रही मचेल यात्रा को भी स्‍थगित कर दिया है। जबकि‍ 6 अगस्‍त को आरंभ होने जा रही बुढडा अमरनाथ यात्रा की शुरूआत को लेकर अब संशय के बादल हैं। मिलने वाले समाचारों के मुताबिक, श्रीनगर स्थित निट संस्‍थान में पढ़ाई करने वाले बाहरी छात्र अपने घरों को लौटने लगे हैं जबकि सरकार ने विदेशी पर्यटकों को भी कश्‍मीर जाने से रोक दिया है।
 
हालांकि मचेल यात्रा को स्‍थगित करने का कोई सरकारी फरमान जारी नहीं हुआ है लेकिन किश्‍तवाड़ पहुंचने वाले श्रदधालुओं ने बताया है कि उन्‍हें आज सुबह से ही आगे नहीं बढ़ने दिया जा रहा है और सुरक्षा की दुहाई देते हुए सुरक्षाधिकारी उन्‍हें वापस लौट जाने को कह रहे हैं।
 
जानकारी के लिए किश्‍तवाड़ के जिस पाडर इलाके में मचेल माता का मंदिर है वह इलाका कश्‍मीर से सटा हुआ है और पिछले कुछ दिनों से इस इलाके में आतंकी देखे गए हैं जिनसे कई बार सुरक्षाबलों की मुठभेड़ें भी हुई हैं।
 
इसी प्रकार पुंछ के मंडी कस्‍बे में स्थित बुढडा अमरनाथ की यात्रा को लेकर भी संशय पैदा हो गया है। यह यात्रा 6 अगस्‍त को आरंभ होनी थी। जानकारी के लिए जुलाई और अगस्‍त के दो महीनों में जममू कश्‍मीर में बहुत सी धार्मिक यात्राएं होती हैं जिस कारण अतिरिक्‍त हजारों सुरक्षाकर्मियों की तैनाती करनी पड़ती है।
 
श्रीनगर स्थित इंजीनियरिंग इंस्‍टीटयूट निट में पढ़ने वाले राज्‍य के बाहर के छात्रों ने भी घर वापसी आरंभ कर दी है। हालांकि सरकारी तौर पर निट में पढ़ाई स्‍थगित नहीं हुई है पर आज से वहां कक्षाएं नहीं लगी हैं।
 
इसी प्रकार अमरनाथ यात्रियों तथा पर्यटकों को कश्‍मीर छोड़ने का फरमान सुनाने वाली सरकार ने अब विदेशियों को भी कश्‍मीर जाने से रोक दिया है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख शोपियां में सुरक्षाबलों से मुठभेड़, एक आतंकी ढेर, एक जवान शहीद