Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Live : शिवसेना नेता बोले- राणे का मानसिक संतुलन बिगड़ा, बिजली के झटके की जरूरत, भाजपा ने बताया जान का खतरा

webdunia
मंगलवार, 24 अगस्त 2021 (19:50 IST)
मुंबई। नारायण राणे (Narayan Rane) ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) पर आपत्तिजनक बयान दिया था। मुख्यमंत्री ठाकरे के स्वतंत्रता दिवस के भाषण का जिक्र करते हुए राणे ने कहा था कि मुख्यमंत्री को याद नहीं था कि देश की आजादी के कितने साल हो गए। वे पीछे मुड़कर पूछ रहे थे। मैं वहां मौजूद होता तो उनके कान के नीचे थप्पड़ लगाता। नारायण राणे के बयान के बाद महाराष्ट्र में सियासी हलचल मच गई है। केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को पुलिस ने मंगलवार को चिपलून में हिरासत में ले लिया। नारायण राणे से जुड़े घटनाक्रम का हर ताजा अपडेट-

08:23 PM, 24th Aug
कई शहरों में प्रदर्शन और तोड़फोड़
मुंबई और कई अन्य शहरों में मंगलवार को शिवसेना ने जबरदस्त विरोध प्रदर्शन किया। शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने कुछ क्षेत्रों में पथराव किया और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यालयों में तोड़फोड़ भी की। मुंबई में राणे के आवास के पास शिवसेना की युवा शाखा और भाजपा के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई।
 
पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर पथराव किया, जिसके बाद भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।

राणे के आवास के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। एक अधिकारी ने कहा कि सांताक्रूज पुलिस ने कोविड-19 नियमों का उल्लंघन करने के लिए भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) और दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की विभिन्न धाराओं के तहत युवा सेना के 50 से अधिक कार्यकर्ताओं के साथ-साथ कुछ भाजपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की। पुलिस सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे सीसीटीवी फुटेज और वीडियो की जांच कर रही है।
 
अधिकारी ने कहा कि समाचार चैनलों पर प्रसारित वीडियो क्लिप को बाद में झड़प में शामिल कार्यकर्ताओं के खिलाफ सबूत के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है। पुलिस के अनुसार, शिवसेना और भाजपा समर्थकों के बीच रत्नागिरि जिले के चिपलुन में भी झड़प हुई है। अधिकारियों ने बताया कि नासिक में भाजपा के कार्यालय पर पथराव किया। 
 
भाजपा कार्यालय पर पथराव के बाद, भाजपा कार्यकर्ताओं ने शिवसेना कार्यालय में प्रदर्शनकारियों पर हमला करने की कोशिश की, जिससे दोनों दलों के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई। पुलिस ने शालीमार इलाके में सुरक्षा बढ़ा दी है। 
 
शिवसेना और युवा सेना के कार्यकर्ताओं ने ठाणे, नवी मुंबई और पड़ोस के पालघर के अलावा पुणे, नागपुर और अमरावती में भी प्रदर्शन किया। पुणे के दक्कन जिमखाना इलाके में शिवसेना कार्यकर्ताओं ने राणे के पोस्टर पर जूते बरसाए और थप्पड़ मारे। हडपसर में युवा सेना के कार्यकर्ताओं ने धरना दिया। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पुणे में जेएम रोड स्थित एक मॉल में पत्थर फेंका गया।
 
पूर्वी महाराष्ट्र के अमरावती शहर में शिवसेना कार्यकर्ताओं ने राणे की टिप्पणी के विरोध में राजापेठ इलाके में भाजपा कार्यालय में तोड़फोड़ की और कार्यालय के सामने लगे विभिन्न पोस्टरों में आग लगा दी। घटना के समय कार्यालय में भाजपा का कोई भी पदाधिकारी या कार्यकर्ता मौजूद नहीं था।
 
शिवसेना कार्यकर्ताओं ने कार्यालय के बाहर लगे पोस्टरों पर पेट्रोल उड़ेल दिया और उनमें आग लगा दी। उन्होंने कार्यालय पर पथराव भी किया। शिवसेना की अमरावती इकाई के प्रमुख पराग गुदाधे ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘अगर भाजपा नेता अपनी जुबान पर काबू नहीं रखेंगे तो हम उनकी पिटाई करेंगे।

हम अपने नेता उद्धव ठाकरे के खिलाफ किसी भी तरह की अभद्र टिप्पणी अब और बर्दाश्त नहीं करेंगे। हमने आज भाजपा कार्यालय को क्षतिग्रस्त कर दिया और आग लगा दी, लेकिन अगर भाजपा नेता नहीं सुधरे तो कल हम उनकी पिटाई करेंगे।’’ एक अधिकारी ने बताया कि घटना के संबंध में स्थानीय पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है और अब तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है।
 
नागपुर शहर के विभिन्न क्षेत्रों में सेना और युवा सेना के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। युवा सेना के कार्यकर्ताओं ने महल इलाके के गांधी गेट पर प्रदर्शन किया, जहां उन्होंने राणे के खिलाफ नारेबाजी की। ठाणे शहर में महापौर नरेश म्हास्के के नेतृत्व में शिवसेना के सैकड़ों कार्यकर्ता राणे की शिकायत करने नौपाड़ा थाने पहुंचे। मुंबई महानगर क्षेत्र (एमएमआर) के तहत कल्याण, डोंबिवली और नवी मुंबई में, शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने राणे के पोस्टरों पर जूते मारे और नारेबाजी की।

07:52 PM, 24th Aug
राणे की जान पर खतरा : महाराष्ट्र के एक भाजपा विधायक ने मंगलवार को दावा किया कि पुलिस हिरासत में केंद्रीय मंत्री नारायण राणे की जान पर खतरा है। उधर राज्य के मंत्री एवं शिवसेना नेता गुलाबराव पाटिल ने कहा कि राणे को ‘बिजली के झटके’ की जरूरत है क्योंकि वह अपना मानसिक ‘संतुलन गंवा बैठे हैं।’ विधानपरिषद के भाजपा सदस्य प्रसाद लाड ने तटीय रत्नागिरि जिले के संगमेश्वर में संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि केंद्रीय मंत्री के साथ पुलिस ने बुरा बर्ताव किया।
 
राणे को गिरफ्तार करके संगमेश्वर थाने ले जाया गया। उन्हें उनके इस बयान को लेकर गिरफ्तार किया गया है कि अगर वह होते तो ‘भारत की आजादी का वर्ष भूल जाने’ पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को थप्पड़ जड़ दिये होते ।
 
लाड ने आरोप लगाया कि राणे जब भोजन कर रहे थे तब पुलिस ने उन्हें धक्का मारा। वह करीब 70 साल के हैं। क्या इतनी उम्र के व्यक्ति के साथ ऐसा बर्ताव किया जाना चाहिए? हमें लगता है कि उनकी जान को खतरा है।’
 
भाजपा विधायक ने दावा किया कि राणे का जिस डॉक्टर ने चेक-अप किया, उसने कहा कि वह मधुमेह रोगी हैं, लेकिन वह उनका शर्करा स्तर चेक नहीं कर पाया। उनका रक्तचाप भी बढ़ गया है। फिलहाल यह 160/110 है। डॉक्टर ने यह भी कहा कि उसने उनका ईसीजी लिया और इस बात पर गौर करते हुए कि वह मधुमेह रोगी है, उनके शर्करा (स्तर) की जांच की जरुरत है, और उन्हें अस्पताल में भर्ती किया जाना चाहिए।
 
लाड ने यह आशंका प्रकट की कि पुलिस शायद छह बजे तक राण को मजिस्ट्रेट के सामने पेश नहीं करेगी ताकि उन्हें दिन में जमानत न मिले। उन्होंने दावा किया कि पुलिस रात में उन्हें परेशान कर सकती है। नासिक पुलिस ने जिस टीम को उन्हें गिरफ्तार करने के लिए भेजा है, वह अबतक वहां नहीं पहुंची है।
 
उधर, मुंबई में पाटिल ने कहा कि राणे ‘‘अपना मानसिक संतुलन गंवा चुके हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ उन्हें ठाणे भेजा जाना चाहिए और सही करने के लिए बिजली का झटका दिया जाना चाहिए।’’ शिवसेना नेता का इशारा वहां के सरकारी मानसिक रोग अस्पताल की ओर था।
 
महाराष्ट्र के मंत्री ने कहा कि राणे के विरुद्ध कार्रवाई उपयुक्त है क्योंकि इससे उन सभी को एक कड़ा संदेश मिलेगा जो संवैधानिक पदों पर आसीन लोगों के विरूद्ध असंसदीय भाषा का इस्तेमाल करते हैं। जान पड़ता है कि राणे यह भूल गये कि वह कभी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री थे। पाटिल ने दावा किया कि भाजपा में राणे का जाना देवेंद्र फड़णवीस, प्रवीण डारेकर और चंद्रकांत पाटिल समेत उस पार्टी के नेताओं के लिए ‘बड़ा खतरा’ है।

06:31 PM, 24th Aug
नारायण राणे को म्हाड़ कोर्ट में पेश किया जाएगा।

05:26 PM, 24th Aug
नारायण राणे को म्हाड़ ले जा रही है रायगढ़ पुलिस।

04:38 PM, 24th Aug
webdunia
भाजपा ने महाराष्ट्र सरकार पर साधा निशाना : नारायण राणे के हिरासत में लिए जाने पर भाजपा ने महाराष्ट्र की उद्धव सरकार पर निशाना साधा है। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि ऐसी कार्रवाई से न हम डरेंगे ना दबेंगे।कार्रवाई संवैधानिक मूल्यों का हनन है। लोकतांत्रिक तरीके से हमारी लड़ाई जारी रहेगी। विपक्ष जनआशीर्वाद को मिले समर्थन से परेशान है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

असम में स्थानीय BJP नेता ने वित्तीय तनाव के चलते आत्महत्या की