बड़ी खबर, लोकसभा चुनाव से पहले 65 हजार पेट्रोल पंपों का आवंटन

रविवार, 25 नवंबर 2018 (21:50 IST)
नई दिल्ली। आम चुनाव से पहले सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों की देशभर में 65,000 पेट्रोल पंपों के आवंटन की योजना है। इससे देशभर में उनके पेट्रोल पंप की संख्या लगभग दोगुनी हो जाएगी। 
 
इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी), भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) और हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) ने रविवार को देशभर में 55,649 पेट्रोल पंपों की स्थापना के लिए विज्ञापन जारी किया है। 
 
एचपीसीएल के राज्यस्तरीय समन्वयक विशाल वाजपेयी ने कहा, 'इनमें से कोई भी पेट्रोल पंप का स्थान चुनावी राज्य वाला नहीं है। चुनावी राज्यों में लगने वाले पेट्रोल पंपों को मिलाकर यह संख्या 65,000 तक पहुंच जाएगी।'
 
राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में विधानसभा चुनाव की प्रक्रिया चल रही है। उन्होंने बताया कि चुनाव प्रक्रिया पूरी होने के बाद इन राज्यों के लिए भी विज्ञापन जारी किया जाएगा।
 
आईओसी ने 26,982 नए पेट्रोल पंपों के आवंटन के लिए विज्ञापन दिया है। देश में कंपनी के पास पहले से 27,377 पेट्रोल पंप हैं। इसके बाद बीपीसीएल और एचपीसीएल ने क्रमश: 15,802 और 12,865 नए पेट्रोल पंपों के लिए विज्ञापन दिया है। दोनों कंपनियों के पास पहले से क्रमश: 14,592 और 15,287 पेट्रोल पंप हैं। बाजपेयी ने कहा कि दिल्ली में 390 पेट्रोल पंप हैं और 170 नए खोले जाएंगे।
 
एक अन्य अधिकारी ने बताया कि चुनावी राज्यों में करीब नौ से दस हजार स्थानों पर पेट्रोल पंप खोले जाने की योजना है।
 
बाजपेयी ने कहा कि ये आवंटन नए नियमों के आधार पर किए जाएंगे। नए नियमों में पेट्रोल पंप लगाए जाने की जगह के मालिक के लिए अनिवार्य 12वीं पास की शैक्षणिक योग्यता को घटाकर 10वीं कर दिया गया है। पिछले करीब चार साल में यह पहला मौका है, जब पेट्रोल पंप लगाए जाने के लिए विज्ञापन दिया गया है।
 
देश में वर्तमान में कुल मिलाकर 63,674 पेट्रोल पंप हैं। इनमें से ज्यादातर सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के हैं। निजी क्षेत्र में सबसे ज्यादा नायरा एनर्जी लिमिटेड के 4,895 पेट्रोल पंप हैं। इसे पहले एस्सार आयल लिमिटेड के नाम से जाना जाता था। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के 1,400 और रायल डच..शैल के 116 पेट्रोल पंप हैं। 
 
बाजपेयी ने कहा कि भारत जैसी अर्थव्यवस्था में ऊर्जा की मांग तेजी से बढ़ रही है। तेल कंपनियां पेट्रोल, डीजल की बढ़ती मांग को देखते हुए अपने पेट्रोल पंप नेटवर्क का विस्तार कर रही है। पेट्रोल और डीजल की खुदरा बिक्री क्रमश: आठ प्रतिशत और चार प्रतिशत वार्षिक दर से बढ़ रही है। (वार्ता) 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING