पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, एलओसी पर बरसाए गोले

सुरेश डुग्गर

मंगलवार, 1 जनवरी 2019 (23:05 IST)
जम्मू। आतंकियों ने त्राल क्षेत्र में सोमवार-मंगलवार की मध्यरात्रि को सीआरपीएफ कैंप पर फायरिंग की। त्राल के मडूरा गांव में स्थित कैंप में जवानों को क्षति पहुंचाने के लिए आतंकियों के रात के अंधेरे में कैंप पर यूबीजीएल ग्रेड दागे और गोलियां भी चलाईं। सतर्क जवानों ने बिना पल गवाएं जिस ओर से आतंकी गोलियां बरसा रहे थे, उस पर जवाबी कार्रवाई की लेकिन अंधेरे का फायदा उठाकर आतंकी फरार हो गए।
 
दक्षिण कश्मीर के पुलावामा जिले में त्राल के मडूरा गांव में सीआरपीएफ की 180 बटालियन का कैंप है। रात करीब 12.10 मिनट पर आतंकियों ने कैंप पर हमला कर दिया। हमले में किसी नुकसान की कोई सूचना नहीं है। सीआरपीएफ ने रात को ही क्षेत्र को घेर लिया था। सेना व स्थानीय पुलिस की मदद से क्षेत्र में तलाशी अभियान अभी भी जारी है। तीन महीनों के दौरान में त्राल में सुरक्षाबलों के कैंप पर यह छठा हमला है। इससे पहले तीन सेना कैंप और दो सीआरपीएफ कैंप पर आतंकी हमला कर चुके हैं। यह हमले मडूरा के अलावा बटगुंड, पंजू, बजवानी क्षेत्र किए गए थे।
 
इस बीच पाकिस्तानी सेना ने पुंछ जिले के खरी करमारा इलाके में संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। जानकारी के अनुसार सीमा पर स्थित खरी करमारा क्षेत्र में पाकिस्तानी सेना ने गोलाबारी की है।
 
जानकारी के अनुसार पुंछ जिले में स्थित एलओसी पर पाकिस्तान सैनिकों ने एक बार फिर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया और अग्रिम इलाकों में गोलाबारी की। अधिकारी ने बताया कि सीमा पर स्थित खरी करमारा क्षेत्र में सुबह 10 बजकर 55 मिनट पर पाकिस्तानी सेना ने गोलाबारी शुरू की और यह करीब एक घंटे तक जारी रही।
 
एलओसी पर तैनात भारतीय जवान भी गोलाबारी का जवाब दे रहे हैं। अधिकारी ने कहा कि संघर्षविराम उल्लंघन में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। एलओसी पर पिछले सप्ताह 27-29 नवंबर के बीच पाकिस्तानी सेना ने पुंछ और राजौरी जिले के कई सेक्टरों में गोलाबारी की थी।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख पीएम मोदी बोले, एक सर्जिकल स्ट्राइक से पाकिस्तान सुधरने वाला नहीं है...